मीडियामोरचा

____________________________________पत्रकारिता के जनसरोकार

Print Friendly and PDF

असम के दो चैनलों पर भी रोक के आदेश

November 7, 2016

राष्ट्रीय चैनल के बाद क्षेत्रीय चैनलों पर प्रतिबंध

साकिब ज़िया/ एनडीटीवी इंडिया' चैनल पर एक दिन के बैन की कार्रवाई के बाद अब केंद्र की सरकार की तरफ से ‘न्यूज़ टाइम असम’ चैनल (अब प्रतिदिन टाइम) को एक दिन के लिए और 'केयर वर्ल्ड' चैनल को 7 दिनों के लिए बंद रखने के आदेश जारी किए गए हैं। 'न्यूज़ टाइम असम' असम का एक प्रादेशिक न्यूज चैनल है। इस चैनल पर प्रोग्रामिंग दिशा निर्देशों के उल्लंघन के कई आरोप लगे हैं जिनमें एक आरोप ये भी है कि इस चैनल ने यातनाओं की शिकार एक नाबालिग की पहचान सार्वजनिक कर दी। सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय की समिति ने पाया कि पीड़िता की पहचान सार्वजनिक होने से उसकी निजता और प्रतिष्ठा से समझौता किया गया।

2 नवंबर को सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के जारी आदेश के मुताबिक न्यूज़ टाइम असम चैनल को 9 नवंबर को एक दिन के लिए ऑफ एयर किया जाएगा। न्यूज़ टाइम असम के अलावा केयर वर्ल्ड चैनल को भी सात दिनों के लिए बैन किया गया है। सरकार का आरोप है कि इस चैनल ने आपत्तिजनक कार्यक्रम दिखाया था। गौरतलब है कि नियमों के उल्लंघन के आरोप में एनडीटीवी इंडिया को एक दिन के लिए ऑफ ऐयर करने का आदेश दिया गया है। विपक्ष इसे आपातकाल से जोड़ रहा है, वहीं सरकार की यह दलील है कि ये फैसला राष्ट्रीय सुरक्षा को ध्यान में रखकर लिया गया है। एनडीटीवी इंडिया पर आरोप है कि उसने पठानकोट हमले के दौरान ऐसी संवेदशनशील जानकारी प्रसारित की जिससे आतंकवादियों को मदद मिल सकती थी। हालांकि विपक्ष सरकार की दलीलों से संतुष्ट नहीं है। कांग्रेस और बीएसपी इस कार्रवाई को बोलने की आज़ादी पर हमला बता रही है। एनडीटीवी इंडिया की इस लड़ाई में कई पत्रकार संगठन,मीडियाकर्मी, राजनीतिक पार्टी और बड़ी संख्या में आम दर्शक उसके साथ मजबूती से खड़े हैं।  

Go Back

Comment