मीडियामोरचा

____________________________________पत्रकारिता के जनसरोकार

Print Friendly and PDF

कार्यस्थल पर महिलाओं की गरिमा सुनिश्चित हो

‘मी टू’ के समर्थन में महिला पत्रकारों ने दिया धरना

नयी दिल्ली/ यौन दुर्व्यवहार के विरुद्ध ‘मी टू’ अभियान को आज उस समय और बल मिला जब देश की जानी-मानी महिला पत्रकारों ने इस बुराई की शिकार बनी अपनी महिला सहयोगियों के समर्थन में आज यहां धरना दिया और कार्यस्थल पर महिलाओं की गरिमा को सुनिश्चित किये जाने की मांग की। भारतीय महिला प्रेस कोर की सदस्य पत्रकारों ने कार्यस्थलों पर यौन उत्पीड़न निरोधक कानून को प्रभावी ढंग से क्रियान्वित करने और यौन दुर्व्यवहार के आरोपों पर तत्काल कार्रवाई किये जाने की मांग की। 

महिला पत्रकारों ने केन्द्रीय मंत्री एम जे अकबर को मंत्रिमंडल से हटाये जाने की भी मांग की जिन पर अनेक महिला पत्रकारों ने यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया है। ये आरोप उस समय के हैं जब श्री अकबर विभिन्न अखबारों में संपादक के पद पर रहे। 

संसद मार्ग पर आयोजित इस धरने में महिला पत्रकारों ने हाथों में पोस्टर, प्लेकार्ड एवं बैनर लिए हुए थे जिन पर लिखा था कि कार्यालयों में यौन उत्पीड़न नहीं चलेगा और कहा कि जवाबदेही उच्चतम स्तर से तय हो। उन्होंने श्री एम जे अकबर के विरुद्ध नारे भी लगाये। इन पत्रकारों ने पीड़ितों को न्याय दिलाने की मांग को लेकर एक संयुक्त प्रस्ताव भी पारित किया।

 

Go Back

Comment