मीडियामोरचा

____________________________________पत्रकारिता के जनसरोकार

Print Friendly and PDF

चौथे स्तंभ पर अघोषित अपातकाल लगा है: शरद यादव

अखबारों में क्रास होल्डिंग बंद हो तभी चौथा स्तंभ सुरक्षित हो सकता है, पत्रकार ईमानदार हैं, लेकिन उनके मालिक उन्हें लिखने नहीं दे रहे हैं

नयी दिल्ली/ जनता दल यूनाइटेड के शरद यादव ने देश में मीडिया विशेषकर प्रिंट मीडिया और पत्रकारों के हालात पर गहरी चिंता जताते हुये बुधवार को राज्यसभा में कहा कि मीडिया के पूंजीपतियों के हाथों में आने के बाद से चौथे स्तंभ पर अघोषित अपातकाल लगा हुआ है।

श्री यादव ने सदन में चुनाव सुधार पर चर्चा के दौरान कहा,“ जो हम यहां चर्चा कर रहे हैं वे लोगों तक कैसे पहुंचेगी। जब तक मीडिया नहीं सुधरेगा तब तक चुनाव सुधार की बात यहीं रह जायेगी। ” कुछ मीडिया हाउस उनके बयान को छापते ही नहीं है।

उन्होंने बताया कि पिछले चुनाव के दौरान तीन मीडिया हाउसों के बारे में पेड न्यूज को लेकर चुनाव आयोग से शिकायत की थी जिसके बाद उनकी बातें उन मीडिया हाउसों ने छापना बंद कर दिया।

” उन्होंने कहा कि अभी सबसे अधिक बैचेन और परेशान पत्रकार हैं। पत्रकार ईमानदार हैं, लेकिन उनके मालिक उन्हें लिखने नहीं दे रहे हैं। मालिक अपने अनुसार खबरें लिखवाते हैं।
कई मीडिया प्रतिष्ठानों ने पत्रकारों के लिए मजीठिया वेतन आयोग की सिफारिशों को लागू नहीं किया है और अब सबसे अधिक ‘हायर एंड फायर’ मीडिया में ही हो रहा है। इसमें ठेके पर नौकरियां दी जाती हैं।

श्री यादव ने अधिकांश मीडिया हाउस पर पूंजीपतियों के कब्जे का उल्लेख करते हुये कहा कि अभी अखबारों के मालिक कई तरह के कारोबार कर रहे हैं और मीडिया का अपने कारोबार के लिए उपयोग कर रहे हैं। इसके मद्देनजर उन्होंने अखबारों में क्रास होल्डिंग बंद किये जाने की मांग करते हुये कहा कि जब तक ऐसा नहीं होगा तब तक चौथा स्तंभ सुरक्षित नहीं हो सकता।

Go Back

Comment