मीडियामोरचा

____________________________________पत्रकारिता के जनसरोकार

Print Friendly and PDF

तथ्यपरक खबरों का प्रकाशन करें पत्रकार

September 30, 2015

श्रमजीवी पत्रकार संघ के लवकुशनगर में आयोजित सम्मेलन में मुख्य अतिथि एसडीएम हेमकरण ने कहा

छतरपुर। लवकुशनगर के मेरे दो साल के कार्यकाल में पहला पत्रकार सम्मेलन आयोजित हुआ। इस किस्म के सम्मेलनों के आयोजनों से शासन-प्रशासन और मीडिया के बीच दूरियां घटती हैं। पत्रकारों द्वारा प्रकाश में लाए गए ज्वलंत मुद्दों पर शासन और प्रशासन स्तर पर उचित कार्रवाई करवाने का प्रयास मैं करता हूं और आगे भी करता रहूंगा। पत्रकारों को तथ्यपरक खबरों का प्रकाशन करना चाहिए। यह बात लवकुशनगर एसडीएम  हेमकरण धुर्वे ने मुख्य अतिथि की हैसियत से म.प्र. श्रमजीवी पत्रकार संघ की लवकुशनगर ब्लॉक इकाई द्वारा कल सृजन महाविद्यालय में आयोजित पत्रकार सम्मेलन में कही। उन्होंने कहा कि जब पत्रकार खिलाफत में खबरें छापतें हैं तो पहले तो गुस्सा आता है लेकिन बाद में मैं सोचता हूं कि हो सकता है जो खबर प्रकाशित की गई हो उसमें सच्चाई हो और अनेक बार छानबीन करने पर खबर में काफी हद तक सच्चाई भी होती है।

सम्मेलन की अध्यक्षता कर रहे। संघ की प्रदेश इकाई के विशेष आमंत्रित सदस्य हरिप्रकाश अग्रवाल ने कहा कि पत्रकार पहले खुद अपनी कमियां तलाशें न कि दूसरों की। श्री अग्रवाल ने पत्रकारों से कुरीतियों के खिलाफ संघर्ष करने की अपील की। उन्होंने कहा कि पत्रकार एकजुट होकर निर्भिगता से खबरें प्रकाशित करें। उन्होंने कहा कि नदी के दो किनारों को मिलाने का कार्य करती है  पत्रकारिता। म.प्र. श्रमजीवी पत्रकार संघ के जिला अध्यक्ष श्याम खरे ने विशिष्ट अतिथि की हैसियत से सम्मेलन कों संबोधित करते हुए कहा कि  जिस तरह फसल के साथ खरपतवार जम आती है उसी तरह पत्रकारिता के क्षेत्र में भी कई गलत लोग हैं। उन्होंने कहा कि न सिर्फ पत्रकारिता बल्कि कोई भी ऐसा क्षेत्र नहीं जहां गलत लोग न हो। गलत लोगों को सलीके के साथ दूर करने का सांझा प्रयत्न किया जाना चाहिए। यदि सार्थक प्रयास किए जाएंगे तो हर क्षेत्र में मौजूद गलत लोगों में यकीनन कमी आएगी। उन्होंने कहा कि पत्रकारिता के क्षेत्र में शिक्षा का निर्धारण होना चाहिए। श्री खरे ने कहा कि कुछ लोग इतिहास पढ़ते हैं, कुछ पढ़ाते हैं लेकिन म.प्र. श्रमजीवी पत्रकार संघ इतिहास रचता है। संघ के प्रदेश अध्यक्ष शलभ भदौरिया के तारीफ करते हुए उन्होंने कहा कि वे पत्रकारों की छोटी से छोटी समस्याओं का निदान पूरी तन्मयता के साथ करते हैं। उन्होंने कहा कि खूबियां ही इंसान को सफल बनाती हैं। उन्होंने पत्रकारों को अपने कर्त्तव्यों का निर्वाह इमानदारी के साथ करने की सलाह दी है। विशिष्ट अतिथि की हैसियत से सम्मेलन को संबोधित करते हुए लवकुशनगर एसडीओपी एमपी पौराणिक ने कहा कि पत्रकारिता पारदर्शी तथा समाज को आईना दिखाने वाली होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि पत्रकारों को इमानदारी के साथ अपने कर्त्तव्यों का निर्वाह करना चाहिए। श्रमजीवी पत्रकार संघ के जिला उपाध्यक्ष सरदार बल्देव सिंह गुलाटी ने कहा कि पत्रकारिता जगत की इस विधा में मैं स्वयं विद्यार्थी समझता हूं। उन्होंने कहा कि ग्रामीण पत्रकारिता बेहद जोखिम भरा काम है। दबंग और माफियाओं का दबाव अक्सर ग्रामीण पत्रकारों को झेलना पड़ता है। उन्होंने अपेक्षा कि ग्रामीण पत्रकारों को म.प्र. श्रमजीवी पत्रकार संघ संरक्षण का कवच देगा। उन्होंने कहा कि पत्रकार खबरों के प्रकाशन में निष्पक्षता बरतें। दुर्भावना पूर्वक खबरें प्रकाशित कर लोगों पर अनावश्यक कीचड़ न उछालें। सृजन महाविद्यालय के डायरेक्टर मनोज चतुर्वेदी ने कहा कि केवल 30 प्रतिशत पत्रकार वास्तव में पत्रकार हैं जबकि 70 फीसदी ऐसे लोग पत्रकारिता के क्षेत्र में हैं जो वास्तव में पत्रकार नहीं है लेकिन किसी न किसी परस्थितिवस इस क्षेत्र में आ गए हैं। श्री चतुर्वेदी ने कहा कि पत्रकारों को अपनी जिम्मेदारी इमानदारी से निभानी चाहिए। उन्होंने कहा कि ग्रामीण पत्रकारों के सम्मान और जीवन की रक्षा करना बेहद आवश्यक है। उन्होंने पत्रकारिता क्षेत्र में मौजूद लोगों से अपने हुनर को निखारने का लगातार प्रयास करने की अपील की। उन्होंने कहा कि पत्रकारों को ऐसे जुल्म के शिकार लोगों की मदद करनी चाहिए जो पत्रकारों से न्याय की उम्मीद लगाए बैठे हैं। लवकुशनगर नगर परिषद के सीएमओ मेहमूद हसन ने कहा कि पत्रकारों को लोगों को सही दिशा दिखाने का काम इमानदारी से करना चाहिए। नगर परिषद  उपाध्यक्ष अनिल त्रिपाठी ने कहा कि भटकते समाज को सही दिशा दिखाने का काम पत्रकारों को करना चाहिए। उन्होंने पत्रकारों से सत्य को उजगार करने के लिए अपने कर्त्तव्यों का निर्वाह इमानदारी से करने की अपील की। बड़ामलहरा के पत्रकार प्रद्युम्न फौजदार ने कहा कि म.प्र. श्रमजीवी पत्रकार संघ के जिलाध्यक्ष श्याम खरे ने संगठन को जो गति प्रदान की है। उसके लिए सम्मान के काबिल हैं। उन्होंने कहा कि पत्रकारों को नकारात्मक सोच को त्याग कर सकारात्मक सोच को आगे बढ़ाना चाहिए। इमानदारी और कर्त्तव्य निष्ठा के साथ कलम चलानी चाहिए। उन्होंने पत्रकारों से हकीकत उजागर करने का अनुरोध किया। संघ के गौरिहार ब्लॉक अध्यक्ष वीरेन्द्र पटेल ने सम्मेलन के आयोजन के लिए ब्लॉक इकाई की पदाधिकारियों और सदस्यों का आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि ऐसे आयोजन से पत्रकारों को एक-दूसरे से मिलने का अवसर मिलता है। संघ की राजनगर ब्लॉक इकाई के अध्यक्ष आनंद अग्रवाल ने कहा कि ब्लॉक स्तर पर संघ द्वारा आयोजित किए जा रहे हैं सम्मेलनों से पत्रकारों में परिपक्वता में वृद्धि होगी। पत्रकारिता का मतलब समाज को दिशा देना होता है इसलिए पत्रकारों की जिम्मेदारी बढ़ जाती है। उन्होंने कहा कि समाचारों में सच्चाई होनी चाहिए ताकि जनता पत्रकारों पर यकीन करे। इस क्षेत्र में मौजूद गलत लोगों को चिन्हित करने की जरूरत है। पत्रकारों को निष्पक्ष पत्रकारिता करनी चाहिए। संघ के जिला उपाध्यक्ष अवधेश शुक्ला ने कहा कि  समाज में निखार लाने के लिए पत्रकार सजगता से पत्रकारिता करें। चंदला के पत्रकार अशोक शुक्ला ने कहा कि पत्रकार जनता और प्रशासन के बीच डाकिए का काम करते हैं। उन्होंने कहा कि यदि कलम में सच्चाई होगी तो पत्रकारों की विश्वसनीयता बढ़ेगी।

संघ के लवकुशनगर ब्लॉक इकाई अध्यक्ष जितेन्द्र हरदैनियां, सौरभ शुक्ला तथा सुशील द्विवेदी ने अतिथियों का शाल-श्रीफल एवं माल्यार्पण द्वारा स्वागत किया। सम्मेलन में लवकुशनगर के वरिष्ठ पत्रकार इनायत खान, बिजावर ब्लॉक अध्यक्ष अनिल गुप्ता, मुईन खान, लवकुशनगर टीआई आरएस सेन, पत्रकार लक्ष्मीकांत चतुर्वेदी, प्रकाश कठल, राजकुमार सोनी, दिलीप सेन समेत लवकुशनगर अनुविभाग के अनेक पत्रकार मौजूद थे। कार्यक्रम का संचालन राजेश कुमार विश्वकर्मा ने किया। 

Go Back

Comment