मीडियामोरचा

____________________________________पत्रकारिता के जनसरोकार

Print Friendly and PDF

त्रिपुरा में फोटो पत्रकार की हत्या

कई पत्रकार संगठनों ने हत्या की निंदा की

अगरतला / कोलकाता / नयी दिल्ली।  त्रिपुरा के पत्रकार शांतनु भौमिक की कल हत्या कर दी गयी। वे लोकल टीवी चैनल 'दिनरात' में काम करते थे। शांतनु त्रिपुरा में अलग राज्य की मांग करने वाले संगठन IPTF और सीपीएम के संगठन TRUGP के बीच टकराव को कवर करने गए थे। पिछले कुछ दिनों में अलग राज्य की मांग को लेकर दोनों गुटों में जमकर संघर्ष हुआ है। पुलिस ने IPTF के चार कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया है।

कोलकाता प्रेस क्लब ने फोटो पत्रकार शांतनु भौमिक की हत्या की कड़ी निंदा की है। कोलकाता प्रेस क्लब के अध्यक्ष स्नेहाशीष सूर ने एक बयान जारी कर शांतनु भौमिक की मौत पर गहरा शोक व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि इस दुख घड़ी में पूरा पत्रकार समूह उनके परिजनों के साथ है। श्री सूर ने देश में पत्रकारों की हत्या पर गहरी चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि इस तरह के अपराधों को रोकने के लिए सरकारों को कदम उठाने चाहिए।

आईएनएस ने भी हत्या की निंदा की है। इंडियन न्यूजपेपर सोसाइटी (आईएनएस) की अध्यक्ष अकिला उरंकार ने शांतनु भौमिक की नृशंस हत्या की कड़ी निंदा की है। सुश्री उरंकार ने आज यहां एक विज्ञप्ति जारी कर त्रिपुरा सरकार से अपराधियों को पकड़ने तथा पत्रकारों को सुरक्षा मुहैया कराने की मांग की ताकि वे भयमुक्त होकर अपने कर्तव्यों का निर्वाहन कर सकें।

Go Back

Comment