मीडियामोरचा

____________________________________पत्रकारिता के जनसरोकार

Print Friendly and PDF

पत्रकारों को पेंशन देने को उठाए गए कदमों का संघों ने किया स्वागत

20 वर्ष इस कैरियर में देने वाले होंगे हक़दार 

मुम्बई/ महाराष्ट्र श्रमिक पत्रकार संघ (एमयूडब्ल्यूजे), मुम्बई प्रेस क्लब, नागपुर श्रमिक पत्रकार संघ (एनयूडब्ल्यूजे), तिलक पत्रकार भवन ट्रस्ट (टीपीबीटी) और नागपुर प्रेस क्लब ने राज्य के सेवानिवृत पत्रकारों को राज्य शासन की ओर से पेंशन देने के लिए उठाए गए कदमों का स्वागत किया है और मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस और वित्त मंत्री सुधीर मुनगंटीवार का आभार माना है.

गौरतलब है कि राज्य शासन ने राज्य के पत्रकारों के पेंशन के लिए 15 करोड़ रुपए का प्रावधान करने के लिए नागपुर में आरंभ हुए विधानमंडल के मॉनसून सत्र के पहले ही दिन पूरक बजट में अनुदान के लिए विधान परिषद और विधानसभा दोनों सदनों में यह प्रस्ताव पेश किया.

यह योजना “पत्रकार सम्मान योजना” के नाम से जाना जायेगा. कोई भी पत्रकार जो 60 वर्ष या उससे अधिक का हो और जिसने 20 वर्ष इस कैरियर में दिया हो, वह इस मासिक पेंशन का हकदार होगा.  राज्य के सूचना और प्रचार विभाग ने इसके लिए योग्य पत्रकार को हर माह दस हजार मासिक पेंशन दिए जाने का प्रस्ताव दिया है.   

उल्लेखनीय है कि राज्य के पत्रकार संघ पिछले दो दशकों से सेवानिवृत पत्रकारों को राज्य शासन की ओर से पेंशन देने की मांग कर रहे थे. इसके लिए पिछले दिनों महाराष्ट्र श्रमिक पत्रकार संघ ने वरिष्ठ पत्रकार रमेश फड़नाइक के नेतृत्व में एक कमेटी का गठन किया था, जिसने पत्रकार पेंशन योजना के विभिन्न पहलुओं का अध्ययन कर सरकार को अपनी रिपोर्ट सौंपी थी. सरकार ने इस रिपोर्ट पर विचार कर इसे सिद्धांत रूप में मंजूर कर चालू वित्तीय वर्ष के पूरक बजट में 15 करोड़ रुपए का प्रावधान कर दिया और इसे मंजूरी के लिए विधान मंडल के दोनों सदनों में आज इसे पेश किया.

Go Back

Comment