मीडियामोरचा

____________________________________पत्रकारिता के जनसरोकार

Print Friendly and PDF

पुण्य प्रसून बाजपेयी और उनकी टीम को बाहर का रास्ता

कहा जा रहा- सत्ता के दबावों के आगे सूर्या समाचार चैनल के मालिक नतमस्तक

सूर्या समाचार चैनल के एचआर की तरफ से पुण्य प्रसून बाजपेयी और उनकी टीम के लोगों को सर्विस से 31 मार्च तक मुक्त किए जाने का लेटर जारी कर दिया गया है। कहा जा रहा है कि सत्ता के दबावों के आगे सूर्या समाचार चैनल के मालिक नतमस्तक होते हुए हाल में ही ज्वाइन कराई गई पुण्य प्रसून बाजपेयी और उनकी टीम को मीडिया कम्पनी से बाहर करने पर राजी हो गए हैं।

मिली जानकारी के मुताबिक, सूर्या समाचार मैनेजमेंट के साथ पुण्य प्रसून बाजपेयी की जो ‘खटपट’ पिछले हफ्ते से चल रही थी, उसका अंत उनकी टीम पर काफी भारी पड़ा है। मैनेजमेंट ने बड़ा फैसला लेते हुए पुण्य प्रसून बाजपेयी और उनकी पूरी टीम की सर्विस को स्थगित कर दिया है। 

आज सुबह एचआर ने पुण्य प्रसून बाजपेयी की टीम के सभी मेंबर्स को व्यक्तिगत मेल के जरिए सूचित किया कि आपका कंपनी के साथ नाता खत्म किया जा रहा है और 31 मार्च 2019 आपकी कंपनी के साथ काम करने की अंतिम तिथि है। 

बताया जा रहा है कि पिछले 15 दिनों से चैनल मालिक लगातार खबरों को लेकर हस्तक्षेप कर रहा था, ऐसे में कई प्रफेशनल चैनल्स से आई ये टीम असहज महसूस कर रही थी। साथ ही स्ट्रिंगर्स को भी पेमेंट नहीं किया जा रहा था। पिछले हफ्ते से दिल्ली में कार्यरत रिपोर्टर्स को रिपोर्टिग के दौरान दी जाने वाली कैब पर भी कटौती कर दी गई थी।  

वैसे इस बड़े कदम को राजनैतिक दवाब से जोड़ कर देखा जा रहा है। खबरों के मुताबिक. चैनल मालिक लगातार विभिन्न पार्टियों के नेताओं से मुलाकात कर कुछ अप्रत्याशित लाभ चाह रहा था, ऐसे में कयास है कि किसी बड़े फायदे के चलते ये बड़ा कदम उठाया गया है।

Go Back

Comment