मीडियामोरचा

____________________________________पत्रकारिता के जनसरोकार

Print Friendly and PDF

मुख्‍यमंत्री ने मीडिया पर निकाली भड़ास

उन्‍होंने स्‍पष्‍ट किया कि पंचायत में शराब पीने या मिलने पर मुखिया के खिलाफ कार्रवाई की कोई योजना नहीं है

वीरेंद्र यादव / पटना। बिहार के मुख्‍यमंत्री ने शराबबंदी पर कई निराधार खबरों को लेकर मीडिया पर जमकर भड़ास निकाली। उन्‍होंने कहा कि शराबबंदी से बिहार में सामाजिक परिवर्तन शुरू हुआ है। इसका असर गांवों में दिखने लगा है। सीएम ने इस बात पर चिंता जतायी कि शराबबंदी को लेकर कई शरारतपूर्ण और निराधार खबरें भी देखने और पढ़ने को मिल रही हैं। यह सब साजिश के तहत किया जा रहा है। उन्‍होंने स्‍पष्‍ट किया कि पंचायत में शराब पीने या मिलने पर मुखिया के खिलाफ कार्रवाई की कोई योजना नहीं है। पड़ोसियों की गिरफ्तारी जैसी कोई बात नहीं है। ऐसा कोई कानून नहीं बनने वाला है। यह सब शराबबंदी विरोधी ताकतों द्वारा फैलायी गयी अफवाह है। इस पर विश्‍वास करने की जरूरत नहीं है।

मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार ने आज पंचायत प्रतिनिधियों के उन्‍मुखीकरण कार्यक्रम में यह बात कही. वेबकास्‍ट के माध्यम से नवनिर्वाचित पंचायत प्रतिनिधियों के लिए कार्यक्रम आयोजित की गयी थी. मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार पटना से वेबकास्टिंग के माध्‍यम से पंचायत प्रतिनिधियों को अधिकार, कर्तव्‍य और संभावनाओं के बारे में बता रहे थे। उधर जिला मुख्‍यालय में बनाये गये सभा कक्ष में बड़े स्‍क्रीन पर जनप्रतिनिधि सीएम का भाषण सुन रहे थे।

 

Go Back

Comment