मीडियामोरचा

____________________________________पत्रकारिता के जनसरोकार

Print Friendly and PDF

राजा राम मोहन राय उत्कृष्ट पत्रकारिता पुरस्कार संतोष कुमार को मिलेगा

भारतीय प्रेस परिषद की ओर से दिया जाने वाला है राजा राम मोहन राय उत्कृष्ट पत्रकारिता पुरस्कार 

नई दिल्ली। भारतीय प्रेस परिषद की ओर से दिया जाने वाला राजाराम मोहन राय उत्कृष्ठ पत्रकारिता पुरस्कार के लिए इस वर्ष इंडिया टुडे के प्रिंसिपल कॉरसपॉडेंस संतोष कुमार को चुना गया है।

जिस रिपोर्ट पर संतोष कुमार को पुरस्कृत किया जाएगा उस रिपोर्ट का शीर्षक है, भारतीय मुसलमान: देश में कम, जेल में ज्यादा। मुस्लिमों के साथ भारतीय लोकतंत्र के बर्ताव की हकीकत बयां करने वाली जब यह रिपोर्ट प्रकाशित हुई थी तब इसकी देशभर में चर्चा हुई थी। संसद में भी इस मुद्दे को उठाया गया। संतोष कुमार की यह रिपोर्ट बताती है कि ज्यादातर मुसलमान कैदी बेहद मामूली अपराधों के लिए जेल में हैं... मुसलमानों के साथ यह बर्ताव करने वालों में ह्यसेकुलरह्य राज्य सरकारों का रिकॉर्ड भी बेहद बुरा है।

भारतीय प्रेस परिषद का यह पुरस्कार एक हिंदी पत्रकार को मिलना निश्चय ही हिंदी पत्रकारिता के लिए गौरव की बात है। गत वर्ष इस श्रेणी के पुरस्कार के लिए कोई भी प्रविष्ठि योग्य नहीं पाई गई थी। 16 नवंबर को आयोजित सम्मान समारोह में संतोष कुमार को पुरुस्कृत किया जाएगा। इसमें उन्हें 50 हजार रुपए नकद, प्रमाण पत्र व स्मृति चिन्ह दिया जाएगा। 

दैनिक नवज्योति के दिल्ली ब्यूरों में बतौर संवाददाता अपनी कॅरियर की शुरुआत करने वाले संतोष कुमार अपने मेहनत और बेहतरीन रिपोर्टिंग के दम पर दैनिक नवज्योति में ही ब्यूरो चीफ बने। यहां से वे इंडिया टुडे में जुड़े। इंडिया टुडे में संतोष कुमार की कई खोजी रिपोर्टों को देशभर में सराहना की गई। सरल और सहज भाषा में मुद्दे को बेहद तीखे तरीके से शब्दों में पिरोने वाले संतोष कुमार बिहार के मधुबनी जिले के हैं। 

 

Go Back

Comment