मीडियामोरचा

____________________________________पत्रकारिता के जनसरोकार

Print Friendly and PDF

‘वीरेंद्र यादव न्‍यूज’ की वेबसाइट लांच

February 27, 2017

युवा संवाद कार्यक्रम में हुई वेबसाइट की लांचिंग

पटना/ पिछले 15 महीनों से प्रकाशित हो रही मासिक पत्रिका ‘वीरेंद्र यादव न्‍यूज’ अब वेब जर्नलिज्‍म की दुनिया में प्रवेश कर गयी है। इसकी वेब साइट की लांचिंग 26 फरवरी को गांधी संग्रहालय में आयोजित ‘युवा संवाद’ कार्यक्रम में की गयी। युवा संवाद का विषय था- सोशल मीडिया का बढ़ता दायरा और हस्‍तक्षेप। युवा संवाद का आयोजन वीरेंद्र यादव न्‍यूज की ओर से किया गया था। यह अब प्रिंट, फेसबुक और ईमेल के साथ वीरेंद्र यादव न्‍यूज वेबसाइट पर भी उपलब्‍ध है।

युवा संवाद को संबोधित करते हुए वीरेंद्र यादव न्‍यूज के संपादक वीरेंद्र यादव ने कहा कि बीवाइएन की वेबसाइट खबरों को नये अंदाज में पेश करने का प्रयास करेगा। हम खबरों की भीड़ से अलग खास खबर पर फोकस करेंगे।

सोशल मीडिया का हस्‍तक्षेप की चर्चा करते हुए भाजपा नेता इंजीनियर अजय यादव ने कहा कि सोशल मीडिया खासकर फेसबुक और टि्वटर ने खबरों की गति बढ़ा दी है। उसका दायरा बढ़ा दिया है। फालोअर्स बढ़ाने की होड़ मच गयी है। उन्‍होंने कहा कि सोशल मीडिया का सकारात्‍मक पक्ष भी है और नकारात्‍मक पक्ष भी। हमें इसके इस्‍तेमाल में सतर्कता बरतने की जरूरत है। जदयू के प्रवक्‍ता नवल शर्मा ने कहा कि सोशल मीडिया की बढ़ती ताकत का असर है कि अरविंद केजरीवाल कम समय से नेता बन कर उभरते हैं और दिल्‍ली जैसे राज्‍य में अपनी सरकार बनाने में सफल होते हैं।

मीडियामोरचा की संपादक लीना ने कहा कि सोशल मीडिया ने अभिव्‍यक्ति का नया विकल्‍प तो दिया ही है, साथ ही यह ख़बरों का एक महत्पूर्ण स्रोत बन गया है. आज इसका दायरा इतना बढ़ गया है कि इससे पत्रकारिता और राजनीती दोनों पर दबाव बनता है.  

नौकरशाहीडॉटकॉम के संपादक इर्शादुक हक ने सोशल मीडिया की तकनीकी पक्ष की चर्चा करते हुए कहा कि इसमें शेयर और लाइक का मजबूत गणित है। हमारा पोस्‍ट जितना लाइक या शेयर होगा, उसकी उतनी ही पहुंच बढ़ेगी। उन्‍होंने सोशल मीडिया के आर्थिक पक्ष पर भी प्रकाश डाला। चितरंजन प्रसाद ने भी सोशल मीडिया के सकारात्‍मक इस्‍तेमाल पर जोर दिया।

बिहार राज्‍य महिला आयोग की पूर्व सदस्‍य चौधरी मायावती ने कहा कि सोशल मीडिया के माध्‍यम से कई तरह की चीजें और जानकारी हमलोगों तक पहुंचती है। सूचनाओं का प्रवाह बढ़ा है और इसके साथ दुरुपयोग का खतरा भी बढ़ गया है। इसको लेकर सचेत रहने की जरूरत है। पटना विश्‍वविद्यालय के छात्र नेता राज सिन्‍हा ने कहा कि सोशल मीडिया ने आमलोगों तक पहुंच आसान बना दिया है। इसका आज सभी लोग इस्‍तेमाल कर रहे हैं। इसका उपयोग अपने हित में ज्‍यादा से ज्‍यादा करना चाहिए।

पटना विश्‍वविद्यालय की सीनेट की सदस्‍य अनु प्रिया ने कहा कि सभी तरह के कार्यों के लिए सोशल मीडिया का इस्‍तेमाल किया जा रहा है। मीडिया में खबरें भी प्‍लांट हो रही है। इस खतरे से भी सोशल मीडिया हमें बचाता है। छात्र नेता आजाद चांद ने कहा कि सोशल मीडिया ने छोटे-छोटे आंदोलनों को भी ताकत दे रहा है। नवनीत यादव ने कहा कि सोशल मीडिया इमेज बिल्डिंग में भी मददगार साबित हो रहा है। छात्र नेता लव कुमार यादव ने कहा कि सोशल मीडिया का सकारात्‍मक इस्‍तेमाल किया जाना चाहिए। वेब साइट डेवलपर दुर्गेश यादव ने कहा कि सोशल मीडिया हमारी सामाजिक गतिविधियों को भी प्रभावित कर रहा है। युवा संवाद में मनीष सिंह, साकिब जिया, इमरान, अभिषेक राज, विष्‍णु भारद्वाज, शशांक शेखर, सौरभ जयसवाल, सुधीर कुमार, हिमांशु यादव, शिवनंदन, संजय कुमार, नीजर प्रियदर्शी भी मौजूद थे।

Go Back

Comment