मीडियामोरचा

____________________________________पत्रकारिता के जनसरोकार

Print Friendly and PDF

“आछरी-माछरी” को 2015 का सृजनगाथाडॉटकॉम सम्मान

कथाकार हैं डॉ. हरिसुमन बिष्ट

रायपुर। उत्कृष्ट कथा लेखन के लिए 2015 का 'सृजनगाथा डॉट काम सम्मान' कथाकार डॉ. हरिसुमन बिष्ट को उनके उपन्यास 'आछरी माछरी' के लिए प्रदान किया जायेगा। श्री बिष्ट वर्तमान में हिंदी अकादमी दिल्ली के सचिव पद पर कार्यरत हैं । 

उन्हें सम्मान स्वरूप 21,000 की नगद राशि, प्रशस्ति पत्र, शॉल और श्रीफल प्रदान कर अंलकृत किया जायेगा। यह सम्मान उन्हें 11 वें अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन (मिस्र-28 जनवरी से 4 फरवरी, 2016 ) में प्रदान किया जायेगा ।

पिछले 9 वर्षों से संचालित साहित्य, संस्कृति और भाषा की अंतरराष्ट्रीय वेब पत्रिका सृजनगाथा डॉट कॉम (www.srijangatha.com) द्वारा विशिष्ट रचनात्मक व कलात्मक लेखन को प्रोत्साहित करने के लिए दिया जाने वाला यह सम्मान अब तक गीताश्री, डॉ. सुधीर सक्सेना, डॉ. राजेश श्रीवास्तव, श्री राकेश पांडेय, श्री प्रबोध कुमार गोविल जैसे रचनाकारों को दिया जा चुका है ।

चयन समिति में सुप्रसिद्ध आलोचक डॉ. खगेन्द्र ठाकुर(पटना), वरिष्ठ लेखिका-समीक्षक डॉ. रंजना अरगड़े(अहमदाबाद), सुपरिचित दलित कवि असंगघोष(जबलपुर), व वरिष्ठ लेखक व संचार विशेषज्ञ डॉ. सुशील त्रिवेदी (आईएएस, रायपुर) थे ।

 

Go Back

Comment