मीडियामोरचा

____________________________________पत्रकारिता के जनसरोकार

Print Friendly and PDF

“कॉमन मैन' की आवाज नहीं रहीं

January 26, 2015

मशहूर कार्टूनिस्ट आर के लक्ष्मण का निधन

     

पुणे। मशहूर कार्टूनिस्ट आर के लक्ष्मण का निधन हो गया है। लक्ष्मण 94 साल के थे। लक्ष्मण का निधन पुणे के अस्पताल में हुआ जहां उनका इलाज चल रहा था। वे हफ़्ते भर से भी ज्यादा समय से दीनानाथ मंगेशकर अस्पताल में भर्ती थे। लक्ष्मण को संक्रमण के बाद इंटेसिव केयर यूनिट में भर्ती कराया गया था।  दिल के मरीज़ लक्ष्मण के कई अंगों ने काम करना बंद कर दिया था।मशहूर कार्टूनिस्ट आर के लक्ष्मण अपने कार्टून चरित्र 'कॉमन मैन' यानी आम आदमी के लिए मशहूर थे। आर  के लक्ष्मण के निधन के साथ ही एक ऐसे युग का अंत हो गया जिसने कार्टून को आम आदमी से जोड़ कर आम आदमी की आवाज़ बना दिया था।  

मशहूर कार्टूनिस्ट आर के लक्ष्मण के कार्टून में समाज की विकृतियों, राजनीतिक विदूषकों और उनकी विचारधारा के अंतर को बिना शब्द यानि लक्ष्मण ने तीख़े ब्रश चला कर किया।

आर के लक्ष्मण का जन्म मैसूर में हुआ था। उनके पिता एक स्कूल के संचालक थे और लक्ष्मण उनके छह  बच्चों में सबसे छोटे थे। बचपन से ही लक्ष्मण को चित्रकला में बेहद रूचि थी।

‘द कॉमन मैन’ स्केच के जरिए मजाकिया अंदाज में नेताओं ही नहीं मीडिया तक पर तंज करने वाले लक्ष्मण मैग्सेसे, पद्म भूषण और पद्म विभूषण जैसे प्रतिष्ठित पुरस्कारों से सम्मानित किए गए थे।

Go Back

Comment