मीडियामोरचा

____________________________________पत्रकारिता के जनसरोकार

Print Friendly and PDF

हिन्‍दी चेतना' का जनवरी-मार्च 2015 अंक

January 17, 2015

कैनेडा से प्रकाशित त्रैमासिक साहित्यिक पत्रिका 'हिन्‍दी चेतना' का जनवरी-मार्च 2015 अंक अब इंटरनेट पर उपलब्‍ध है। इस अंक में शामिल हैं मृदुला गर्ग, नीना पॉल, कंचन सिंह चौहान, सरस दरबारी, अनिल प्रभा कुमार  की कहानियाँ। सुशील सिद्धार्थ, साक्षात्कार, डॉ.अफ़रोज़ ताज की कहानी भीतर कहानी। पारस दासोत , डॉ. श्याम सखा ‘श्याम’, माधव नागदा की लघुकथाएँ। विश्व के आँचल से कविता मालवीय। हाइकु में सेदोका -भावना कुंवर , सुनीता अग्रवाल, गुंजन अग्रवाल, ओरियनि के नीचे – सुधा अरोड़ा, कविताएँ -लालित्य ललित, नरेन्द्र व्यास, पूनम मनु, शार्दुला नोगजा, शोभा रस्तोगी , अनिल पुरोहित, ममता किरण। चांद शेरी, महेंद्र कुमार अग्रवाल, शम्‍भुनाथ तिवारी  की ग़ज़लें।  दोहे / रघुविन्द्र यादव, गीत -अर्चना पंडा, डायरी के पन्ने / पुष्पा सक्सेना, व्यंग्य- हरीश नवल, भाषांतर- सरिता शर्मा , पुस्तक समीक्षा, ज्‍योत्‍स्‍ना शर्मा, चंचल बाला, सीमा शर्मा, संतोष श्रीवास्‍तव, संगीता स्‍वरूप अविस्मरणीय, साहित्यिक समाचार, विलोम चित्र, काव्यचित्र शाला, पुस्तकें, पत्रिकाएँ, आख़िरी पन्ना। 

 

Go Back

Comment