मीडियामोरचा

____________________________________पत्रकारिता के जनसरोकार

Print Friendly and PDF

पत्रकार राजेश विक्रांत का सार्वजनिक अभिनंदन

25 सालों  में  12000 लेखों का रिकॉर्ड बनाने वाले पत्रकार हैं राजेश विक्रांत

मुम्बई/ पत्रकारलेखक तथा मुम्बई महानगर के साहित्यिक-सांस्कृतिक आयोजनों के सुपरिचित हस्ताक्षर राजेश विक्रांत के स्वर्ण जयंती वर्ष तथा लेखन की रजत जयंती केउपलक्ष्य में साहित्य सेवा फाउंडेशन द्वारा सार्वजनिक अभिनंदन कवि पत्रकार और महाराष्ट्र टीवी के कांसेप्ट एडिटर  अमर त्रिपाठी के नेतृत्व में शनिवार 14 मार्च 2015 की शाम विलेपार्ले के सन्यास आश्रम सभागार में आयोजितहुआ। इसमें राजेश विक्रांत के व्यक्तित्व  कृतित्व पर आधारित 'दोपहर का सामनाके मुख्य उप सम्पादक अभय मिश्र के अतिथि सम्पादन में राष्ट्रीय हिंदीसाप्ताहिक विकलांग की पुकारके "बन्धु विशेशांकका विमोचन भी किया गया।

समारोह में मुख्य अतिथि के तौर पर संन्यास आश्रम के श्री महामंडलेश्वर श्री 1008 विश्वेश्वरानंद गिरिजी महाराजप्रख्यात साहित्यकार सन्जीवकवि  पंकिरणमिश्र अयोध्यावासीआशीर्वाद के निदेशक डॉउमाकांत वाजपेयीदोपहर का सामना के कार्यकारी संपादक प्रेम शुक्लमी मराठी लाइव के मुख्य मार्केटिंग हेड डॉ.आदर्श मिश्रलेमन न्यूज चैनल के मुख्य कार्यकारी संपादक सैयद सलमानपंराजेंद्र मिश्रमहाराष्ट्र टीवी के राजदिल जमादार मौजूद रहे।

श्री महामंडलेश्वर श्री 1008 विश्वेश्वरानंद गिरिजी महाराज ने कहा कि पत्रकार तो महानगर में सैकड़ों हैं लेकिन राजेश विक्रांत ने अपनी लेखनी के जरिए इस क्षेत्र मेंगहरी छाप छोड़ी है जो काफी उल्लेखनीय है और वे इस सम्मान के हकदार हैं। हंस के पूर्व कार्यकारी सम्पादक साहित्यकार सन्जीव ने कहा की राजेश विक्रांत व्यंग्यलेखन में बेजोड़ रचनाकार हैं। पण्डित किरण मिश्र अयोध्यावासी ने सम्मानमूर्ति को 25 सालों में 12000 लेख लिखने वालेरिकार्डधारी लेखक की संज्ञा दी। 

दोपहर का सामना के कार्यकारी संपादक प्रेम शुक्ल ने कहा कि राजेश विक्रांत एक प्रतिबद्ध् और कर्मठ लेखक हैं और अपनी लेखनी के माध्यम से पत्थर को भी सोनाबनाने की कला में महारत रखते हैं। वे हर विषय पर अपनी सटीक बात कहते हैं जो पाठकों के मन मस्तिष्क में तुरंत उतर जाता है। अभियान के अध्यक्ष अमरजीतमिश्र व् महाराष्ट्र टीवी के मुख्य सम्पादक राजदिल जमादार ने  भी अपने विचार रखे तथा अमेठी से पधारे राजेश विक्रांत के बड़े भाई पण्डित राजेन्द्र मिश्र ने बचपन कीयादें ताजा करते हुए राजेश को सतत लेखन करने के लिए प्रोत्साहित किया और आशीर्वचन दिए।

हम लोग के अध्यक्ष एडवोकेट विजय सिंह ने राजेश विक्रांत के प्रशस्ति पत्र का वाचन किया। तत्पश्चात श्री विक्रांत का शॉलश्रीफलस्मृति चिह्न से सार्वजनिकअभिनंदन किया गया। इस अवसर पर श्री विक्रांत ने अपन मनोगत बयान किया और सभी के स्नेह के लिए धन्यवाद दिया।

कार्यक्रम का प्रारंभ दीप प्रज्ज्वलन तथा हास्य कवि डॉरजनीकांत मिश्रा के सरस्वती वंदना से हुआ। अतिथियों का शाब्दिक स्वागत विकलांग की पुकार के संपादकएडसैयद आफताब मेहदी  कार्यकारी संपादक सरताज मेहदी ने किया। तत्पश्चात सभी अतिथियों को उद्योगपति बबलू पाण्डेयएस्ट्रोलॉजी टुडे के सम्पादक आचार्यपवन त्रिपाठीप्रोफेसर सन्तोष तिवारीतेजस्वी दुनिया के सम्पादक महेश शर्माश्री महाराष्ट्र रामलीला मण्डल के महासचिव सुरेश डी मिश्रपत्रकार धर्मेन्द्र पाण्डेय,गायक संगीतकार शिवजी पाण्डेय शिवम्कवि रवि यादवएसीटी के संस्थापक प्रमोद सिंहसमाजसेवी सैयद शुजात हुसैन ने शॉलश्रीफल  पुष्पगुच्छ देकरसम्मानित किया गया।

कार्यक्रम में श्री महाराष्ट्र रामलीला मण्डल के रणजीत सिंह व् श्रीनिवास मिश्रमुम्बई मित्र वृत्त मित्र के समूह सम्पादक अभिजीत राणेमहावीर इंटरनेशनल के प्रमुखडॉ एनबी छाजेड़ व् मंच संचालक अश्विनी कुमार जोशीअमेठी चारिटेबल ट्रस्ट के विजय शंकर शुक्ल,पंकज सिंहराज मिश्रअजित ओझापुष्पेन्द्र सिंह प्रोदयानंदतिवारीकुतुबनुमा के सम्पादक शायर सागर त्रिपाठीकुमारी ततहीर बानो रिजवीराकेश तिवारीओम प्रकाश मिश्रसरताज मेहदी कहकशा मेहदीअमरजीत मिश्र कीओर से राजेश विक्रांत व् उनकी धर्मपत्नी शर्मिला का विशेष सम्मान भी किया गया। इस अवसर पर काव्या संपादक हस्तीमल हस्तीअनुष्का सम्पादक गीतकार रासबिहारी पांडेयसाहित्यकार डॉ संतोष श्रीवास्तवसंजीव निगमगीतकार हरिश्चंद्रव् साहित्यप्रेमी शिल्पा एच दासनवभारत के पत्रकार अखिलेश मिश्रश्री रामलीलाउत्सव समिति के राकेश पाण्डेयनागेन्द्र तिवारीसामना के पत्रकार अनिल पाण्डेय व् रविन्द्र मिश्रकमाल अहमदकेपी सिंहराजकुमार पाण्डेयजितेंद्र शर्मा, खबरें पूर्वांचल के संपादक रविंद्र दुबेरत्ना झाकवि डॉ माणिक मुंडेसञ्जय सिंह ठाकुरगायक दीपक आजादअमरनाथ त्रिपाठीएड बीपी पाठकआदिज्ञान सम्पादकजित सिंह चौहानसाक्षी दर्शन के सम्पादक शत्रुघ्न प्रसादलेमन न्यूज के आउटपुट हेड अवनींद्र आशुतोषवरिष्ठ पत्रकार प्रीतम सिंह त्यागीअग्निशिला के सम्पादकअनिल गलगलीप्रमोद यादवशीतला प्रसाद सरोजविद्याभूषण तिवारीराकेश निर्मोहीनाटककार आफताब हस्नैनसुमिता केशवासुरेशचंद्र जैनहास्य कवि महेशदुबेखन्ना मुजफ्फरपुरीप्रमिला शर्माअनिरूद्ध् पांडेयजवाहरलाल नर्झररेश्मा शेखनजमा मोभ,पत्रकार व् कवयित्री लक्ष्मी यादवराजेश मिश्राराजकुमार शर्मा,दीपक उपाध्यायधर्मेंद्र उपाध्यायअजय भट्टाचार्यसलाम  शेख, जाफर शेखधर्मेंद्र पांडेय, सुनील शर्मा, माया बाजपेयी, महेंद्र बाकलीवालकथाकार राजिव रोहित,स्वतंत्र जनसमाचार के संपादक दयाकृष्ण जोशी आदि उपस्थित थे।

 

कार्यक्रम का संचालन संस्कृति संगम के संपादक देवमणि पांडेय ने किया जबकि पत्रकारिता कोश के संपादक आफताब आलम ने आभार व्यक्त किय।

Go Back

Comment