मीडियामोरचा

____________________________________पत्रकारिता के जनसरोकार

Print Friendly and PDF

मीडिया कर्मियों पर नोएडा पुलिस का कहर जारी

नोएडा / मीडिया कर्मियों पर नोएडा पुलिस का कहर जारी है। सेक्टर-18 में एक टीवी चैनल के पत्रकार ने गलत दिशा से जा रहे बाइक सवार पुलिसकर्मियों को टोक दिया तो पुलिस कर्मियों ने पत्रकार की सड़क से लेकर पुलिस चौकी तक पिटाई कर दी। डंडा मारकर मोबाइल तोड़ दिया और रात भर थाने में रखा। गुरुवार रात को हुई इस घटना के बाद शुक्रवार सुबह पत्रकार को थाने से छोड़ा गया। मारपीट के दौरान पुलिस कर्मियों ने पत्रकार के दोस्त की भी पिटाई की। उसका इलाज जेपी अस्पताल में चल रहा है।दरअसल, दिल्ली निवासी राहुल कादयान एक नेशनल न्यूज चैनल के पत्रकार हैं। गुरुवार रात को वह अपने मित्र राजीव श्रीवास्तव के साथ सेक्टर-18 आए थे। दोनों रात में सेक्टर-18 मेट्रो स्टेशन के नीचे कैब के इंतजार में खड़े थे।

राहुल का आरोप है कि इसी दौरान बाइक सवार दो पुलिसकर्मी गलत दिशा से बगैर हेलमेट के तेजी से आ रहे थे। इस पर राहुल ने पुलिसकर्मियों को टोक दिया कि देख के चलाइए, मार देंगे क्या। दोनों पुलिसकर्मी राहुल के पास पहुंचे तो राहुल ने परिचय दिया। इसके बाद दोनों पुलिसकर्मी ने राहुल और राजीव के साथ मारपीट की। इसके बाद पुलिसकर्मी चले गए और तीन चार मिनट के बाद इन दोनों पुलिस कर्मियों के साथ कार से तीन अन्य पुलिसकर्मी आ गए।

पांचों पुलिस कर्मियों ने मिलकर पहले मेट्रो स्टेशन के नीचे सड़क पर लाठी डंडों से राहुल और राजीव की पिटाई की। इस दौरान राजीव वहां से किसी तरह निकल गया। पुलिसकर्मी राहुल को सेक्टर-18 पुलिस चौकी ले गए। वहां भी पुलिस वालों ने जमकर पीटा। लाठी से मोबाइल तोड़ दिया। रात भर कोतवाली सेक्टर-20 में रखा और सुबह वहां से छोड़ दिया गया।

एसएसपी और मीडिया क्लब से की शिकायत

शुक्रवार दोपहर को पीड़ित राहुल ने एसएसपी और नोएडा मीडिया क्लब से शिकायत की। मीडिया क्लब की तरफ से भी एसएसपी को इस घटना की जानकारी दी गई है। राहुल ने बताया कि पुलिस वालो को जैसे ही पत्रकार होने की जानकारी दी तो वे लोग और भी बदसलूकी और मारपीट करने लगे। पुलिसकर्मी नीरज सबसे अधिक उत्तेजित होकर पिटाई कर रहा था।

Go Back

Comment