मीडियामोरचा

____________________________________पत्रकारिता के जनसरोकार

Print Friendly and PDF

राजदीप के खिलाफ स्वत: संज्ञान का मामला भूलवश

नयी दिल्ली/ उच्चतम न्यायालय के सूत्रों ने मंगलवार देर रात स्पष्ट किया कि वरिष्ठ पत्रकार राजदीप सरदेसाई के खिलाफ स्वत: संज्ञान लेकर अदालत की अवमानना का कोई मामला शुरू नहीं किया गया है।

उच्चतम न्यायालय के सूत्रों ने इस बारे में स्पष्टीकरण देते हुए कहा कि शीर्ष अदालत की वेबसाइट पर श्री सरदेसाई के खिलाफ स्वत: संज्ञान लिये जाने का मामला असावधानीवश अपलोड हो गया था। सूत्रों के अनुसार, इसे दुरुस्त करने की प्रक्रिया जारी है। गौरतलब है कि मंगलवार देर शाम न्यायालय की वेबसाइट पर श्री सरदेसाई के खिलाफ स्वत: संज्ञान के मामले को सूचीबद्ध किया गया था, लेकिन थोड़ी देर बाद इसे लेकर स्पष्टीकरण जारी करके बताया गया है कि यह भूलवश वेबसाइट पर अपलोड हो गया है।

यह मामला न्यायपालिका के खिलाफ पिछले साल किये गये कुछ आपत्तिजनक ट्वीट को लेकर सामने आया था और आस्था खुराना ने इस संबंध में एक शिकायत दर्ज करायी थी। एटर्नी जनरल के. के. वेणुगोपाल ने गत वर्ष सितम्बर में शिकायत पर आपराधिक अवमानना का मामला शुरू किये जाने की अनुमति नहीं दी थी।

Go Back

Comment