मीडियामोरचा

____________________________________पत्रकारिता के जनसरोकार

Print Friendly and PDF

‘विषबाण’ मीडिया ग्रुप के हास्य कवि सम्मेलन में लगे जमकर ठहाके

October 30, 2017

मथुरा। ‘‘विषबाण’’ मीडिया ग्रुप परिवार द्वारा आयोजित भव्य कवि सम्मेलन में एक दर्जन से अधिक राष्ट्रीय कवियों ने अपनी हास्य कविताओं से जमकर गुदगुदाया तो वहीं राष्ट्रीयता पर ओजपूर्ण कविताओं ने भी जनता को आत्म चिन्तन करने पर मजबूर कर दिया। जबकि समाज सेवा के क्षेत्र में सामाजिक संस्थाओं एवं लोगों को लीलावती स्मृति सम्मान से सम्मानित किया गया।

‘‘विषबाण’’ मीडिया ग्रुप परिवार द्वारा रामलीला मैदान में आयोजित हास्य संग्राम (कवि सम्मेलन) का शुभारम्भ राष्ट्रीय जन उद्योग व्यापार संगठन के वरिष्ट प्रदेश महामंत्री जगत नारायण अग्रवाल, श्री राम संस्थान के राष्ट्रीय अध्यक्ष चै. उत्तम सिंह, बाजना नगर पंचायत के चेयरमेन चै. रामस्वरूप सिंह, प्रमुख व्यवसाई लोकेन्द्र वर्मा, ‘विषबाण’ मीडिया ग्रुप के संपादक मफतलाल अग्रवाल ने मां सरस्वती के चित्र पर दीप प्रज्जवलन एवं माल्यार्पण कर किया। इसके बाद मेरठ से पधारी कवियत्री शुभम त्यागी ने मां शारदे की वन्दना करने के बाद- देशहित में बलिदान हुए जो, उनको नमन कर लें हम और तुम प्रस्तुत की। दिल्ली से पधारे हास्य सम्राट सुनहरी लाल वर्मा तुरन्त ने ‘‘मैया मोय डेरा प्रमुख बना दे, कर दे बंद दूध की डेयरी, इक डेरा खुलवा दे, राजमहल में नहीं रहूं अब एक गुफा बनवा दे, आसाराम नहीं तू मोकू राम रहीम बनवा दे’’ प्रस्तुत कर श्रोताओं कों हंसते-हंसते लोट-पोट कर दिया। फरीदाबाद से आये प्रमुख कवि प्रभात परवाना ने ‘‘भारत का हाल देखकर बापू शीश झुका देंगे, शर्त लगा लो गांधी भी, अब बंदूक उठा लेंगे, जब हद की हत हो जाती है, पानी सर से जाता है, तब अच्छे से अच्छा गांधी, भगत सिंह बन जाता है’’ प्रस्तुत कर जमकर वाह-वाही लूटी। हास्य की दुनिया के बेताज बादशाह सबरस मुरसानी ने रामरहीम प्रीतिहनी पर व्यंग बाण चलाते हुए- ओ मेरी प्रीति हनी, दुनियां दुश्मन बनीं, तुझसे दिल जो लगाया, सजा पा गया, आशाराम बोले ओये ओले-ओले- तू भी पकड़ा गया तो मजा आ गया’’ प्रस्तुत कर जमकर तालियां बटोरीं। मथुरा से पधारे अनुपम गौतम ने बृज की गोपिका के माध्यम से ‘‘ देखन में चिट्ठों हो और तन से हट्टा कट्टा होय, पैसा वो खूब कमावे चाहे उल्लू को पट्ठा होय, जहां कहूं वहीं खड़ों रहे, ऐसो गधा दिलाय मोय’’ प्रस्तुत कर जमकर वाह-वाही लूटी। मुरैना से पधारे हास्य कवि अरविन्द पोटा, जयपुर से वरूण चतुवेर्दी, नोएडा से अमित शर्मा, मथुरा से जितेन्द्र विमल, अलीगढ़ से नितिन मिश्रा, छाता से सुगड़ी सिंह, मुड़लिया से रामेन्द्र सिंह ने काव्य पाठ कर श्रोताओं की जमकर तालियां बटोरीं। कवि सम्मेलन में ‘‘विषबाण’’ मीडिया ग्रुप द्वारा सामाजिक कार्य में जुटी मथुरा की सामाजिक संस्था श्री राम संस्थान, अलीगढ़ की श्री मुरली वाला सेवा समिति के अध्यक्ष शिव कुमार सोनी, बल्देव शर्मा आदि, सामाजिक कार्यकर्ता श्याम अग्रवाल (भगत जी), हजारी लाल गुप्ता को ‘‘समाज सेवा रत्न’’ शिक्षा के क्षेत्र में जगदीश प्रसाद अग्रवाल को सर्वश्रेष्ठ शिक्षक के लिये ‘‘शिक्षा रत्न’’ प्रतिभा के क्षेत्र में गोल्ड मैडल जीतने वाले चिराग चैधरी को ‘‘खेल रत्न’’ की उपाधि से सम्मानित कर लीलावती स्मृति सम्मान से सम्मानित किया गया। इस अवसर पर अग्रवाल सभा के अध्यक्ष गोपाल जिन्दल, रवि गोयल ‘बाजना वाले’ प्रशान्त गुप्ता ‘‘समाजसेवी’’ लेखराज अग्रवाल (नशीटी वाले), रामलीला समिति के अध्यक्ष अशोक भारद्वाज, ‘‘विषबाण’’ मीडिया गु्रप के सम्पादक मफतलाल अग्रवाल ने सभी अतिथियों का स्वागत किया। कार्यक्रम में मनोज गोयल ( खाद वाले), डा. राजीव गर्ग, चै. करूआ सिंह (बाजना), जगदीश अग्रवाल (हीरो होण्डा वाले), अशोक अग्रवाल (रामनगरा वाले), देवदत्त शर्मा (आरा मशीन वाले) का विशेष सहयोग रहा। इस अवसर पर डीडीयू के चेयरमेन मोरध्वज अग्रवाल, पतंजलि के वितरक उमेश चन्द गर्ग, पत्रकार जदगीश वर्मा, सन्नी खण्डेलवाल, योगेश ‘योगी’, प्रदीप शर्मा बैन्दिल, श्याम सुन्दर पालीवाल, नरोत्तम प्रसाद अग्रवाल ‘समाजसेवी’ आदि उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन राजकुमार अग्रवाल (मामा जी) एवं कवि सम्मेलन का संचालन अनुपम गौतम ने किया। कार्यक्रम के दौरान रामलीला मैदान श्रोताओं से खचाखच भरा रहा और रातभर तालियों की गड़गड़ाहट गंूजती रहीं। कार्यक्रम के अंत में सभी अतिथिगणों को स्मृति चिन्ह भेंट कर सम्मानित किया गया। मफतलाल अग्रवाल ने आभार व्यक्त किया।

Go Back

Comment