मीडियामोरचा

____________________________________पत्रकारिता के जनसरोकार

Print Friendly and PDF

'हिन्‍दी चेतना' का यह अंक 'लघुकथा विशेषांक'

अक्तूबर - दिसम्‍बर अंक में सौ से भी अधिक लघुकथाएँ

कनाडा। श्री श्‍याम त्रिपाठी एवं सुधा ओम ढींगरा के संपादन में कनाडा से प्रकाशित त्रैमासिक साहित्यिक पत्रिका 'हिन्‍दी चेतना' का अक्तूबर - दिसम्‍बर अंक 'लघुकथा विशेषांक' अब उपलब्‍ध है, जिसमें हैं सौ से भी अधिक लघुकथाएँ हैं ।

यह संग्रहणीय अंक अतिथि सम्‍पादक द्वय श्री रामेश्‍वर काम्‍बोज 'हिमांशु' तथा श्री सुकेश साहनी द्वारा सम्‍पादित किया गया है । आधारशिला, अविस्‍मरणीय, नई ज़मीन, सम्‍पदा, स्‍वागतम् और मेरी पसंद स्‍तंभों के अंतर्गत प्रेमचंद, उपेंद्रनाथ अश्‍क, हरिशंकर परसाई, शरद जोशी, राजेंद्र यादव, रघुबीर सहाय, चेखव, काफ्का, चार्ली चैपलिन, असगर वजाहत, आनंद हर्षुल, चित्रा मुद्गल, उदय प्रकाश सहित सौ से भी अधिक कहानीकारों की लघुकथाएँ हैं ।

लघुकथा को लेकर डॉ. श्‍यामसुंदर दीप्ति, डॉ. सतीशराज पुष्‍करणा, श्‍याम सुंदर अग्रवाल, सुभाष नीरव, डॉ. सतीश दुबे, भगीरथ की विशेष परिचर्चा है। लघुकथा की सृजनात्‍मक प्रक्रिया पर श्री काम्‍बोज का विशेष लेख है। यह अंक लघुकथा पर एक समग्र दस्‍तावेज है । साथ में पुस्तक समीक्षा, साहित्यिक समाचार, चित्र काव्यशाला, विलोम चित्र काव्यशाला और आख़िरी पन्ना । यह लघुकथा विशेषांक अब ऑनलाइन भी उपलब्‍ध है, पढ़ने के लिये नीचे दिये गये लिंक पर जाएँ ।

http://issuu.com/hindichetna/docs/hindi_chetna_oct_dec_2012

Go Back

Comment