मीडियामोरचा

____________________________________पत्रकारिता के जनसरोकार

Print Friendly and PDF

Blog posts December 2013

गणेश शंकर विद्यार्थी प्रेस क्लब धूमधाम से मनाएगा 22 जनवरी को स्थापना दिवस

छतरपुर/ भारत के महापुरूष, समाजसेवी, क्रातिकारी नेता एवं भारतीय पत्रकारिता के पुरोधा शहीद गणेश शंकर विद्यार्थी के नाम से मध्य प्रदेश में संचालित पत्रकारों का संगठन गणेश शंकर विद्यार्थी प्रेस क्लब अपनी स्थापना दिवस 22 जनवरी 2014 को धूमधाम से प्रदेश भर में मनायेगा।…

Read more

लोकमत’’ की सच्चाई !

लोकमत श्रमिक संघटन,  नागपुर ने लगाया आरोप 

सन 1971 में नागपुर से शुरू हुआ मराठी दैनिक लोकमत आज 13 स्थानों से प्रकाशित हो रहा है. मराठी के 13 संस्करणों के अलावा हिंदी दैनिक लोकमत समाचार सात स्थानों से तथा अंग्रेजी दैनिक लोकमत टाइम्…

Read more

लघुपत्रिकाएं ’अकाल में सारस’ की तरह

बाजार के प्रभाव में साहित्य हाशिए पर धकेला जा रहा है.. 

’भूमंडलीकरण के दौर में लघुपत्रिकाओं की भूमिका’ विषयक विचार गोष्ठी…

Read more

उपन्यास परिवर्तन की चाह पैदा करे - रवीन्द्र वर्मा

कौशल किशोर / ‘एक डूबते जहाज की अन्तर्कथा’ मध्यवर्गीय विडम्बनाओं का उपन्यास है। जैसे प्रेमचंद के कफन व गोदान कोई आशा नहीं जगाता, वैसा ही कुछ इस उपन्यास में भी है। कोशिश है कि यह समाज का आईना बने और परिवर्तन की गहरी चाह पैदा करे। इसमें मध्यवर्ग पर लिखते हुए पूरे समाज पर बातचीत की ग…

Read more

कार्पोरेट न्यूज मीडिया के अंदर का मवाद बाहर आने दीजिए

.... हालाँकि सच यह नहीं है और न्यूज मीडिया के अन्तःपुर में ऐसे कई तेजपाल हैं.... 

आनंद प्रधान / इस बार यह स्तंभ बहुत तकलीफ और मुश्किल से लिख रहा हूँ. कारण, ‘तहलका’…

Read more

श्रमजीवी पत्रकार परिषद् की तहसील स्तर की बैठक सम्पन्न

सुधीर शर्मा बने कटंगी ब्लाक अध्यक्ष, अमजद खान महासचिव तथा तिरोड़ी से आबिद खान अध्यक्ष एवं पवन वैद्य महासचिव,  वारासिवनी ब्लाक से सुधीर शर्मा अध्यक्ष एवं राजकुमार वर्मा महासचिव सर्वसम्मति से बनाए गए …

Read more

नया मीडिया तूफान की आहट: विजय सहगल

नवीन मीडिया एवं जनसंवाद विषय पर माखनलाल चतुर्वेदी पत्रकारिता एवं संचार विश्वविद्यालय में दो दिवसीय अंतरराष्ट्रीय सेमिनार…

Read more

ठगी जाने के लिए है जनता, दस्तूर तो यही है!

हमपेशा लोगों के प्रति इतने निर्मम मीडिया जमात के भरोसे जनता जनादेश तैयार करने की कवायद करेगी तो ठगी ही जायेगी

पलाश विश्वा…

Read more

समानान्तर प्रेस खड़ा करने की बढ़ती जिम्मेवारी

ग्रामीण क्षेत्रों में हो रहे सामाजिक - आर्थिक एवं ढांचागत परिर्वतनों की उपेक्षा कर दी जाती है

देवेन्द्र कुमार / के.के म…

Read more

पत्रकार संघ का प्रधानमंत्री से वेज बोर्ड लागू करवाने का आग्रह

(भारतीय पत्रकार संघ ने प्रधानमंत्री को पत्र लिख कर आग्रह किया है कि अखबारों के लिए डी ए वी पी द्वारा विज्ञापन दर में बढ़ोतरी कर दी गयी है लेकिन पत्रकारों के लिए वेज बोर्ड लागू नहीं हो पाया है ....कृपया इसे लागू करवाया जाए । ...........प्रधानमंत्री को लिखे पत्र को यहाँ दिया जा रहा है --संपादक )…

Read more

प्रजातंत्र, सोशल मीडिया और मतदान

सरमन नगेलेपांच राज्यों में संपन्न हुए विधानसभा चुनाव में चुनाव आयोग, राजनैतिक दलों ने सोशल मीडिया का उपयोग किया। इससे मतदान का प्रतिशत ऐतिहासिक रूप से बढ़ा। सोशल मीडिया के उपयोगकर्ताओं ने सजगता के साथ मतदान में भागीदारी की।’’…

Read more

नक्सली हत्या करके पत्रकारों को डराना चाहते हैं?

बस्तर के पत्रकार, आदिवासी  झेल रहे हैं दोतरफा मार
गिरीश पंकज / तथाकथित रूप से 'बहादुर' नक्सलियों ने बस्तर में एक बार फिर 'क्रान्ति' की. उन्होंने  फिर एक पत्रकार की  चौराहे पर हत्या कर दी. बीजापुर के…

Read more

मीडिया पहुंच में विस्तार की सीमा

‘‘ मीडिया एम्सपलोजन ’’ का दौर, पर सामाजिक-पहुँच के मामले में मीडिया का दायरा अभी भी तंग

देवेन्द्र कुमार/ आज मीडिया की पहुँच मे विस…

Read more

बेआवाज पत्रकार

समाज की आवाज बने इस वर्ग की अपनी आवाज ही कहीं खो गई है

मनोहर गौर/ संवेदनाओं से रीत रहे इस समाज में अभी भी अखबारों और पूरे मीडिया जगत से समाज की यह अपेक्षा बची है कि वह कम से कम उनके दुख, तकलीफों, शोषण …

Read more

पत्रकार की हत्या

नक्सलियों ने धारदार हथियार से हिंदी दैनिक के संवाददाता साई रेड्डी को मारा 

रायपुर। छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित इलाकों में पीएलजीए सप्ताह के दौरान नक्सलियों ने बीजाप…

Read more

पत्रकारिता एवं संचार विश्वविद्यालय में बाबा साहब की पुण्यतीथि

भोपाल।माखनलाल चतुर्वेदी पत्रकारिता एवं संचार विश्वविद्यालय  के छात्रों ने 6 दिसंबर 2013 को डा. भीमराव आम्बेडकर की पुण्यतीथि का आयोजन माखनलाल चतुर्वेदी पत्रकारिता एवं संचार  विश्वविद्यालय  के परिसर में किया गया। इस आयोजन में  विश्वविद्यालय  के पत्रकारिता विभाग के विभागाध्य पुष्पेंद्रपाल  …

Read more

क्या हिंदी मीडिया राष्ट्रीय हुई है ?

कल मिजोरम पर पर्याप्त कवरेज का अभाव था

प्रथक बटोही/ हिंदी राष्ट्रीय भाषा तो नही बन पायी पर राजकीय भाषा के तौर पर भी दूसरे स्थान पर काम करने को अभिशप्त हिंदी में राष्ट्रीय समग्रता का अभाव है। यह अभाव उसको पूर्वोत्तर, क…

Read more

भास्कर ने हिंदुस्तान के 18 पत्रकारों को रातोंरात उड़ाया

हिंदुस्तान अचंभित है और उसे शक है कि कुछ और दिग्गजों को वह न टीप ले

पटना/भास्कर के पटना संस्करण की लॉंचिंग की आहट के भय से जहां पटना के अखबारों ने कीमतें घटा कर रोजना लगभग दस-पंद्रह लाख…

Read more

आईआईएमसी को राष्‍ट्रीय महत्‍व का संस्‍थान बनाने को सरकार प्रतिबद्ध

तब ले सकेंगे यहां से डिग्री, एमफिल, पीएचडी भी 

सूचना एवं प्रसारण सचिव बिमल जुल्‍का भारतीय जनसंचार संस्‍थान  के 46वें दीक्षांत समारोह को संबोधित कर रहे थे…

Read more

फिलहाल हॉकरों की है बल्ले-बल्ले !

अखबार मालिक हॉकरों को लुभाने में लगे हैं, तब भी और अब भी कमीशन बतौर 1.20 रुपया

आलोक कुमार/ बिहार में दैनिक भास्कर नामक अखबार के आगमन की तैयारी से भूचाल खड़ा हो गया है…

Read more

20 blog posts