मीडियामोरचा

____________________________________पत्रकारिता के जनसरोकार

Print Friendly and PDF

Blog posts July 2020

प्रिंट मीडिया में सरकारी विज्ञापनों के लिए नई गाइडलाइंस

सूचना प्रसारण मंत्रालय के तहत आने वाले ‘ब्यूरो ऑफ आउटरीच एंड कम्युनिकेशन’ (बीओएसी) ने प्रिंट मीडिया एडवर्टाइजमेंट पॉलिसी पेश की है। ये एक अगस्त से प्रभावी होगी।…

Read more

डब्ल्यूजेएआई से जुड़े पत्रकारिता जगत के कई दिग्गज

संरक्षक बन करेंगे मार्गदर्शन  

पटना। देश भर के वेब पत्रकारों के सर्वथा पहले निबंधित संगठन वेब जर्नलिस्ट्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया (डब्ल्यूजेएआई) को बिहार की पत्रकारिता  के रोल मॉडल, आईकॉनिक और प्रेरणास्रोत अग्रिम पंक्ति के पत्रकारों का वरदह…

Read more

बीमारी बढ़ गयी, खबर सिकुड़ गयी

21 मार्च को 50 नए मामले थे, 25 जुलाई को 50,000 नए मामले। एक ही अखबार की रिपोर्टिंग।

बीमारी बढ़ गयी, खबर सिकुड़ गयी।

सीटू तिवारी के फेसबुक वाल से…

Read more

आखिर क्यों फर्जी होने का ठप्पा वेब पत्रकारिता पर

डब्ल्यू जे ए आई के फेसबुक पेज पर लाइव के दौरान मीडियामोरचा की संपादक डॉ लीना ने इस विषय पर की चर्चा

आज भी वेब पत्रकारिता के सामने सबसे बड़ी च…

Read more

उप-राष्ट्रपति ने मीडिया उद्योग में वित्तीय कठिनाइयों पर चिंता व्यक्त की

स्वर्गीय श्री एम.पी. वीरेन्द्र कुमार को श्रद्धांजलि अर्पित किया

नई दिल्ली/ उप-राष्ट्रपति श्री एम. वेंकैया नायडू ने आज मीडिया उद्योग में कोविड के कारण उत्पन्न वित्तीय कठिनाइयों…

Read more

गोली लगने से घायल पत्रकार विक्रम जोशी की मौत

एनयूजे की विक्रम जोशी के परिवार को एक करोड़ की सहायता देने की मांग

गाजियाबाद / गाजियाबाद के विजयनगर इलाके में अज्ञात बदमाशों के गोली मारने से घायल पत्रकार विक्रम जोशी की बुधवार…

Read more

भारत में वेब पत्रकारिता और डब्ल्यूजेएआई

वेब जर्नलिस्ट्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया (डब्ल्यूजेएआई) के राष्ट्रीय महासचिव अमित रंजन, एसोसिएशन के फेसबुक पेज पर लाईव के दौरान…

Read more

गौरैया संरक्षण के विभिन्न आयाम” विषय पर राष्ट्रीय वेबिनार का हुआ आयोजन

पटना/  हमारे घर आँगन में फूदकने और चहचाहने वाली छोटी सी चिड़िया गौरैया हमसे रूठ कर कहीं चली गयी है और इसे विलुप्ति के कगार पर माना जा रहा है। भले ही यह अभी  खतरनाक जोन में नहीं है, लेकिन अभी समय है कि हम उन्हें बचा ले। गौरैया संरक्षण की पहल अहम है और इसके लिए सबको आगे आने की जरूरत है। यह संभा…

Read more

कैसे कैसे रिसर्च स्कालर!

अरुण आजीवक/  एक रिसर्च स्कालर हैं प्रदीप कुमार गौतम। ये रिसर्च नहीं बल्कि भाषणबाजी करते हैं। भाषणबाज बनने का दंभ भरते हैं। यू ट्यूब पर अपलोडेड अपने एक भाषण का इन्होंने कैलाश दहिया जी के दिनांक 28 जून, 2020 की एक फेसबुक पोस्ट 'कुसुम वियोगी और कबीर कात्यायन में क्या अन्तर है?' पर टिप…

Read more

उमाशंकर मिश्र को कृषि पत्रकारिता का चौधरी चरण सिंह राष्ट्रीय पुरस्कार

नई दिल्ली/ कृषि मंत्रालय द्वारा हर वर्ष दिया जाने वाला कृषि पत्रकारिता का सर्वोच्च चौधरी चरण सिंह पुरस्कार वरिष्ठ पत्रकार उमाशंकर मिश्र को प्रदान किया गया है। उन्हें यह पुरस्कार इलेक्ट्रॉनिक मीडिया (डिजिटल) वर्ग में मिला है। विज्ञान समाचार सेवा ‘इंडिया साइंस वायर’ से जुड़े पत्रकार उम…

Read more

वरिष्ठ पत्रकार खुर्शीद हाशमी का निधन

मुख्यमंत्री, पत्रकारों ने शोक संवेदना व्यक्त की

पटना/ उर्दू के जाने माने पत्रकार खुर्शीद हाशमी नहीं रहे। उर्दू दैनिक समाचार पत्र तासीर के कार्यकारी संपादक एवं वरिष्ठ पत्रकार खुर्शीद हाशमी का रात लगभग 12 बजे द…

Read more

क्या है हमारी खबरों में

रश्मि रंजन//

 

सोचती हूँ.......

क्या है हमारे विचारों में

क्या है हमारे शब्दों में

क्या है हमारी खबरों में

धर्म/ जाति/ पैसा....…

Read more

भारतीय लोकतंत्र के ढहते स्तंभ !

कहीं नहीं लग रहा है कि इस लोकतंत्र में पत्रकारिता और उसके कर्णधार किसी भी दृष्टिकोण से लोकतंत्र के 'कथित चौथे स्तंभ ' अब रह गये हैं !  …

Read more

सहकर्मी की मौत पर पत्रकार बिरादरी की चुप्पी

अभिमन्यु कुमार/ पटना की पत्रकार बिरादरी को खुद को मुर्दा घोषित कर देना चाहिए. उनकी चुप्पी यह दर्शाती है कि वो अपना जमीर बेच चुके हैं. उनके सहकर्मी की मौत संस्थान की प्रताड़ना की वजह से हो जाती है और उनके मुंह से एक शब्द तक नहीं निकलता. रोज हज़ारों शब्द लिखने वाले पत्रकारों …

Read more

एक संवेदनशील पत्रकार की मौत और उसकी वजह

सुनील पांडेय / वरिष्ठ पत्रकार राज रतन कमल नहीं रहे। शुक्रवार देर रात निधन हो गया। आज सुबह से ही FB पर उनके लिए संवेदना व्यक्त की जा रही है। मैं भी इस दुःख की घड़ी में उनके परिवार के साथ खड़ा हूँ। लेकिन मुझे घोर आश्चर्य हो रहा है कि पटना में मौजूद उनके साथ काम कर चुके, उन्हें निजी…

Read more

पत्रिका अखबार का काला पानी संस्करण बंद

राजकुमार सोनी/ आज से डेढ़ साल पहले जब छत्तीसगढ़ में भाजपा की सरकार थीं तब मेरा तबादला कोयम्बटूर ( तमिलनाडु ) कर दिया गया था. यहां कुछ दिन मैंने संपादकीय प्रभारी के तौर पर काम किया, लेकिन ठीक विधानसभा चुनाव के पहले जयपुर में पदस्थ एक वरिष्ठ संपादक ने मुझसे फोन पर कहा कि मैंने चा…

Read more

कोविड-19 के प्रबंधन में मीडिया की भूमिका पर वेबीनार आयोजित

पटना/ पत्र सूचना कार्यालय पटना, सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय भारत सरकार द्वारा "कोविड-19 के प्रबंधन में मीडिया की भूमिका" पर एक वेबीनार का आयोजन किया गया। वेबीनार की अध्यक्षता पीआईबी के अपर महानिदेशक श्री एस के मालवीय ने किया। पत्र सूचना कार्यालय के सहायक निदेशक श्री संजय कुमार एवं फील्ड आउटरी…

Read more

वरिष्ठ पत्रकार धर्मराज राय का निधन

पत्रकारों ने जताया शोक

दुमका/ वरिष्ठ पत्रकार धर्मराज राय के निधन पर मंगलवार को झारखंड में दुमका जिले के पत्रकारों ने शोक सभा आयोजित कर उन्हें श्रद्धांजलि दी।…

Read more

प्रिंट मीडिया में संकट और गहरा जाएगा

अम्बरीश कुमार। लॉक डाउन के कुछ ही दिन बाद एक पोस्ट लिखी कि प्रिंट मीडिया के बहुत खराब दिन आ गए हैं ।कई संस्करण बंद हो चुके हैं ।वेतन आधा रह गया है बहुत अखबारों में । स्टाफ कम किया जा चुका है ।पत्रकार संगठन अब बोलते नही सरकार की कैसे तारीफ की जाए इसमें जुटे हैं ।वेज बोर्ड नि…

Read more

पत्रकार तरुण सिसोदिया ने की आत्महत्या

आत्महत्या को लेकर उठे सवाल

नई दिल्‍ली/   दैनिक भास्कर के एक कैंसर पीड़ित और कोरोना संक्रमित पत्रकार ने आत्महत्या कर ली है। इनकी पहचान पत्रकार तरुण सिसोदिया के रूप में हुई है। यह दैनिक भास्कर में कार्यरत थे। वहीं, तरुण सिसोदिया के साथी प…

Read more

20 blog posts