मीडियामोरचा

____________________________________पत्रकारिता के जनसरोकार

Print Friendly and PDF

Blog posts September 2020

पत्रकारिता विश्वविद्यालय में 30 सितंबर तक कर सकते हैं आवेदन

हरिदेव जोशी पत्रकारिता और जनसंचार विश्वविद्यालय में स्नातक अंतिम वर्ष के विद्यार्थी भी कर सकते हैं एमए-जेएमसी के लिए आवेदन…

Read more

61 साल का हुआ दूरदर्शन

15 सितंबर 1959 को प्रारंभ, पहले ‘टेलीविजन इंडिया’  नाम था  

डॉ. पवन सिंह मलिक/ दूरदर्शन, इस एक शब्द के साथ न जाने कितने दिलों की धड़कन आज भी धड़कती है। आज भी दूरदर्शन के नाम से न जाने कितनी प…

Read more

भारतीय भाषाओं के बीच अंतर-संवाद में रुकावट का कारण अंग्रेजी

भारतीय जन संचार संस्‍थान में  ‘भारतीय भाषाओं में अंतर-संवाद’ विषय पर वेबिनार

नई दिल्‍ली/ ’’भाषा का संबंध इतिहास, संस्‍कृति और परम्‍पराओं से है। भारतीय भ…

Read more

ब्रेकिंग न्यूज के दौर में हिन्दी पर ब्रेक

शहर से इन अखबारों को मोहब्बत नहीं, सिटी उन्हें भाता है!

मनोज कुमार/ ब्रेकिंग न्यूज के दौर में हिन्दी के चलन पर ब्रेक लग गया है. आप हिन्दी के हिमायती हों और हिन्दी को प्रतिष्ठापित करने के लिए हि…

Read more

मीडिया जगत को आर्थिक पैकेज मिले: एनयूजेआई

देशभर में करेगी आंदोलन

नयी दिल्ली/ नेशनल यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट्स (इंडिया) (एनयूजेआई) अखबारों एवं चैनलों में पत्रकारों की छंटनी, वेतन कटौती, फर्जी मुकदमों में गिरफ्तारी, उत्पीड़न, पत्रकार सुरक्षा कानून बनाने और मीडिया कांउसिल के गठन तथा मीडिया…

Read more

मीडिया प्रोफेशनलों के लिए प्रशिक्षण सह कार्यशाला

दूरस्थ शिक्षा के माध्यम से ‘ भारत में जल संसाधन सेक्टर का सिंहावलोकन‘  विषय पर 05 से 09 अक्तूबर तक

जल शक्ति मंत्रालय का जल संसाधन विभाग, आरडी एंड जी…

Read more

नोचकारिता के सिपाही

सरस्वती रमेश //

नोचकारिता के सिपाही हैं ये

बिकाऊ -चलताऊ खबरों पर

गिद्ध दृष्टि रखने और

                        चील सा झपट्टा मारने…

Read more

आईआईएमसी में संवाद व विमर्श का माध्‍यम बनेगा हिंदी पखवाड़ा

‘भारतीय भाषाओं में अंतर-संवाद’ विषय पर चर्चा से 14 सितम्‍बर को होगा आरंभ 

नई दिल्‍ली/ जनसंचार के शिक्षण, प्रशिक्षण तथा शोध के क्षेत्र में गौरवपूर्ण स्थान रखने वाल…

Read more

के जी सुरेश बने पत्रकारिता विश्वविद्यालय के कुलपति

माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता और संचार विश्वविद्यालय

भोपाल / वरिष्ठ पत्रकार और भारतीय जनसंचार संस्थान (आईआईएमसी) के पूर्व महानिदेशक के जी सुरेश को माखनलाल चतुर्वेदी राष…

Read more

सभी राज्य करें निगरानी समितियों का गठन

सरकारी विज्ञापनों की विषयवस्तु की निगरानी के लिए तीन सदस्यीय समितियों का गठन है अनिवार्य 

सरकारी विज्ञापनों की विषयवस्तु के विनियमन के लिए उच्चतम…

Read more

न्याय के नाम पर क्या कर रहे हैं चैनल

मीडिया आत्महत्या भी कर रहा है, कई चीज़ों की हत्या भी

विनीत कुमार। इस तस्वीर से हम सबको डरना चाहिए. सारी बातों को पीछे रखकर सोचना चाहिए कि साल 2005 में गड्ढे में गिर गए छोटे प्रिंस को बचाने के ल…

Read more

ये मीडिया नहीं हैं

उर्मिलेश। जिन 'खबरिया चैनलों' को मीडिया कहकर आप मीडिया को कोसते हैं, वो मीडिया नहीं है भाई!

इसे मीडिया कहना बंद कीजिए! यह सत्ता और और कुछ 'शक्तिशाली निहित…

Read more

सत्ता के चरण चाट टीवी चैनल

मनोज कुमार झा। लोग कहते हैं सुशांत सिंह  राजपूत को चरस गांजा शराब और तमाम तरह के नशे का व्यसन  था जो विश्व  की सभी फिल्मी दुनिया में आम है।  वे कथित  बाई पोलर डिसाडर से भी ग्रस्त थे। कई महिलाओ के साथ लिवइन में रहा जैसे अंकिता लोखंडे, कीर्ति सोनन, सारा, रिया आदि, कई महिलाओं से…

Read more

तो क्यों न मैन पावर ही घटा लें?

अखबारों में छंटनी क्या कम कमाई के कारण है? 

पुष्य मित्र। अखबारों में कर्मियों की छटनी जरूर हो रही है, मगर यह कहना गलत है कि कोरोना काल में अखबारों की आय घटी है। अखबारों की प्रसार संख्या जरूर घटी है, मगर अखबार…

Read more

सौ साल का हुआ "आज"

1920 में 5 सितंबर को शुरू हुआ “आज” समाचार पत्र सौ साल बाद भी निरंतर प्रकाशित हो रहा है, पटना से भी 41 वर्षों से निकल रहा है

Read more

हे अमृत ...! हमें माफ़ करना....!!

युवा पत्रकार नीलेश शुक्ला के बाद आज सुबह अमृत मोहन की कोरोनो ने ले ली जान, राज्य के स्वास्थ्य तंत्र पर उठी उंगली

दया शं…

Read more

ये टीवी चैनल हैं या ‘मूरख-बक्से’ ?

हमारे टीवी चैनल लगभग पगला गए हैं

डॉ. वेदप्रताप वैदिक/ जब मैं अपने पीएच.डी. शोधकार्य के लिए कोलंबिया युनिवर्सिटी गया तो पहली बार न्यूयार्क में मैंने टीवी देखा। मैंने मेरे पास बैठी अमेरिकी महिला से पूछा कि यह क्या ह…

Read more

पत्रकारों के साथ दुर्व्यवहार मामले में जांच के निर्देश

जिला कलेक्टर ने दिए निर्देश, पुलिस व प्रशासन की पत्रकारवार्ताओं के बहिष्‍कार का पत्रकारों की कोर कमेटी ने लिया था निर्णय …

Read more

18 blog posts