Menu

 मीडियामोरचा

____________________________________पत्रकारिता के जनसरोकार

Print Friendly and PDF

दबंग दुनिया लिम्का बुक और गिनीज बुक में रिकॉर्ड के लिए करेगा दावा

मुंबई संस्करण ने नववर्ष पर पाठकों को दिया तोहफा, सभी 24 रंगीन पृष्ठ 277 चित्रों के साथ प्रकाशित

आफताब आलम। मुंबई / दबंग दुनिया (मुंबई संस्करण) नववर्ष के स्वागत अंक के लिए लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड्स तथा गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड के लिए जल्द ही अपना दावा करेगा। इससे पहले दबंग दुनिया का इंदौर संस्करण वर्ष 2011 में मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर के 200 शतकीय रिकॉर्ड की खबरें सबसे पहले प्रकाशित करने के लिए लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड में अपना नाम दर्ज करा चुका है।

दबंग दुनिया (मुंबई संस्करण) के संपादक नीलकंठ पारटकर के अनुसार दबंग दुनिया (मुंबई संस्करण) शायद विश्व का पहला अखबार बन सकता है जिसने नववर्ष (2014) के स्वागत अंक में सबसे अधिक 277 छायाचित्र के साथ एक ही फान्ट में अपना 16+8 पृष्ठों का रंगीन अखबार प्रकाशित किया है। इस अंक में सामाजिक, आर्थिक, राजनीतिक, खेल, मनोरंजन, आदि राष्ट्रीय व अंतर्राष्ट्रीय विषयों की सभी खबरों / फीचरों को सबसे कम टेक्स्ट में सचित्र प्रस्तुत किया गया है। यहां तक कि अखबार के संपादकीय पृष्ठ को भी सचित्र प्रकाशित किया गया है। इतना ही  नहीं, अखबार का मास्टहेड भी विविध रंगों से सजाया गया है जो काफी आकर्षक बन गया है। इस प्रकार यह अखबार नववर्ष की सुबह अपने आप में एक नया कलेवर लेकर आया जिसे महाराष्ट्र के पाठक वर्ग देखकर और पढ़कर हैरान रह गए। अखबार में खबरों / फीचरों के अलावा महापुरुषों, महात्माओं, महानायकों के अनमोल वचनों द्वारा कही गई बातों को इस अंदाज में प्रस्तुत किया गया है कि पढ़ने वाले वाह कहने को मजबूर हो गए। अखबार का कान्सेप्ट डिजाइन किया है दीपक बुड़ाना ने और इलस्ट्रेशन किया है इरशाद कप्तान ने। इस अंक को अखबार के वेबसाइट www.dabangdunia.co पर भी देखा जा सकता है।

नीलकंठ पारटकर के अनुसार आने वाले समय में लोग इतना व्यस्त हो जाएंगे कि उनके पास बड़ी-बड़ी खबरों और आलेखों को पढ़ने का समय नहीं मिल पाएगा, ऐसे में सचित्र छोटी खबरों को ही लोग प्राथमिकता देंगे। उन्होंने बताया कि वे अपने इस अंक के रिकॉर्ड के लिए लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड्स में दावा करने जा रहा है। इसके बाद वे गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड के लिए भी आवेदन करेंगे। दबंग दुनिया इस समय मुंबई, इंदौर, ग्वालियर, उज्जैन, रतलाम, खंडवा, भोपाल, सागर, जबलपुर व रायपुर से एक साथ प्रकाशित होता है।

Go Back

Comment

नवीनतम ---

View older posts »

पत्रिकाएँ--

175;250;7e84be03d3977911d181e8b790a80e12e21ad58a175;250;25130fee77cc6a7d68ab2492a99ed430fdff47b0175;250;e3ef6eb4ddc24e5736d235ecbd68e454b88d5835175;250;f5d815536b63996797d6b8e383b02fd9aa6e4c70175;250;1447481c47e48a70f350800c31fe70afa2064f36175;250;8f97282f7496d06983b1c3d7797207a8ccdd8b32175;250;3c7d93bd3e7e8cda784687a58432fadb638ea913175;250;7a01499da12456731dcb026f858719c5f5f76880175;250;0e451815591ddc160d4393274b2230309d15a30d175;250;ac66d262fc1ac411d7edd43c93329b0c4217e224175;250;1549d7fbbceaf71116c7510fe348f01b25b8e746175;250;ff955d24bb4dbc41f6dd219dff216082120fe5f0175;250;028e71a59fee3b0ded62867ae56ab899c41bd974175;250;460bb56d8cde4cb9ead2d6bff378ed71b08f245d

पुरालेख--

सम्पादक

डॉ. लीना