Menu

 मीडियामोरचा

____________________________________पत्रकारिता के जनसरोकार

Print Friendly and PDF

Blog posts August 2012

शर्म करो ऐ सर्वे वालो!

एक एजेंसी ने फिर सर्वे किया है. फिर एक अनर्थ. इस अर्थ में नहीं कि भावी प्रधानमंत्री उस ने उन नरेन्द्र मोदी को बता दिया है जो आज के राजनी…

Read more

आखिर क्यों पढ़ें डा. धर्मवीर का साहित्य

कैलाश दहिया / डा. धर्मवीर का साहित्य क्यों पढ़ें? यह कोई छोटा सवाल नहीं, बल्कि हिन्दी साहित्य का केन्द्रीय प्रश्न है। हिन्दी साहित्य या किसी भी भाषा के साहित्य का मूलभूत प्रश्न क्या है? या, साहित्य क्यों लिखा और पढ़ा जाता है? ऐसे ही सवालों के बीच डा. धर्मवीर के साहित्य की पर…

Read more

सोशल मीडिया की 'अगस्त क्रांति'

लोकेन्द्र सिंह / अगस्त क्रांति का बिगुल सन् 1942 में भारत से अंग्रेजों को भगाने के लिए फूंका गया था। यूं तो इसे 'भारत छोड़ो आंदोलन' के नाम से अधिक जाना जाता है। युवाओं को आकर्षित करने के लिए संभवत: इसे अगस्त क्रांति का नाम दिया गया। 8 अगस्त, 1942 को मुंबई के ग्वालिया टैंक म…

Read more

इसने हर रचनात्मक और जिज्ञासु व्यक्ति के लिए अवसर बढ़ाए हैं

गिरीश पंकज/ मानव सभ्यता के विकास के साथ हर काल में अभिव्यक्ति के माध्यम बदलते रहे हैं। हमारे नित नवीन होते रहने वाले ज्ञान ने विज्ञान के माध्यम से जीवन जीने के अनेक साधन विकसित किए। अभिव्यक्ति के नये-नये विकल्प भी तलाशे। यहाँ तक आते-आते यानी इक्कीसवीं सदी में अब इंटरनेट हमारे सामने…

Read more

न्यू मीडिया, वर्तमान मीडिया का ही विस्तार

भोपाल में तय हुआ न्यू मीडिया का रोडमैप
इस माध्यम को भी पत्रकारिता की श्रेणी में मिले मान्यता और कानूनी संरक्षण भोपाल,13…

Read more

2043 में छपेगा अंतिम अखबार !

अखबारों का पटाक्षेप, संभावित या निश्चित ?
रवि दत्त बाजपेयी/ पटना (साई)।
वैश्विक अर्थ-संकट के इस दौर में अमेरिका-यूरोप में अखबार अपने अस्तित्व के लिए जूझ रहे हैं। समाचार उद्योग के विश्ले…

Read more

6 blog posts

नवीनतम ---

View older posts »

पत्रिकाएँ--

175;250;cff38901a92ab320d4e4d127646582daa6fece06175;250;e3ef6eb4ddc24e5736d235ecbd68e454b88d5835175;250;25130fee77cc6a7d68ab2492a99ed430fdff47b0175;250;7e84be03d3977911d181e8b790a80e12e21ad58a175;250;c1ebe705c563d9355a96600af90f2e1cfdf6376b175;250;911552ca3470227404da93505e63ae3c95dd56dc175;250;752583747c426bd51be54809f98c69c3528f1038175;250;ed9c8dbad8ad7c9fe8d008636b633855ff50ea2c175;250;969799be449e2055f65c603896fb29f738656784175;250;1447481c47e48a70f350800c31fe70afa2064f36175;250;8f97282f7496d06983b1c3d7797207a8ccdd8b32175;250;3c7d93bd3e7e8cda784687a58432fadb638ea913175;250;7a01499da12456731dcb026f858719c5f5f76880175;250;0e451815591ddc160d4393274b2230309d15a30d175;250;ac66d262fc1ac411d7edd43c93329b0c4217e224175;250;ff955d24bb4dbc41f6dd219dff216082120fe5f0175;250;028e71a59fee3b0ded62867ae56ab899c41bd974175;250;460bb56d8cde4cb9ead2d6bff378ed71b08f245d

पुरालेख--

सम्पादक

डॉ. लीना