मीडियामोरचा

____________________________________पत्रकारिता के जनसरोकार

Print Friendly and PDF

Blog posts : "whatsapp"

लड़ाई तो बाजार की है

साभार/ लड़ाई धर्म की है ही नहीं, लड़ाई तो बाजार की है। एक अखबार है दैनिक जागरण वह हिन्दी में खबर प्रकाशित करता है कि कठुआ में दुष्कर्म नही हुआ, उसी अखबार का उर्दू संस्करण इंक्लाब उर्दू में कठुआ की वह रिपोर्ट प्रकाशित करता है जो फारेंसिक लैब ने सौंपी है। हिन्दी अखबार अपने ‘हिन्दू’ बाजार पर …

Read more

छोटे और मध्यम अखबारो के लिए कठिन समय

छोटे अखबारों को बचाने लिए हो सरकार की पॉलिसी

आज़ादी के 70 साल बाद अभी वर्तमान समय  में छोटे और मध्यम अखबारों के लिए सबसे कठिन समय है। सरकार की डीएवीपी पाॅलिसी 2016 और जीएसटी  के कारण 90 फीसदी अखबार बंद होने के कगार पर हैं, या …

Read more

2 blog posts