मीडियामोरचा

____________________________________पत्रकारिता के जनसरोकार

Print Friendly and PDF

Blog posts April 2015

‘जातिवादी समाज गुलामी, रंगभेद से बदतर’ : अरूंधति राय

April 30, 2015

पत्रिका फारवर्ड प्रेस की छठवीं वर्षगांठ पर आयोजित कार्यक्रम

नई दिल्‍ली। अरूंधति राय ने कहा कि जातिवाद से ग्रस्त समाज, गुलामी और यहां तक कि रंगभेदी समाज से भी बदतर है। वे नई …

Read more

एक रिपोर्टर के रोमांचक अनुभव का दस्तावेज है किताब ‘ऑंखों देखी फॉंसी’

April 26, 2015

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान ने पत्रकार गिरिजाशंकर की बहुप्रतीक्षित किताब का विमोचन  किया

Read more

फारवर्ड प्रेस की छठी वर्षगांठ का आयोजन 29 को

April 26, 2015

'बहुजन संस्‍कृति और राजनीति का भविष्‍य' विषय पर होगी चर्चा

नई दिल्‍ली/ फारवर्ड प्रेस की छठी वर्षगांठ के समारोह का आयोजन 29 अप्रैल को कंस्‍टीट्यूशन क्‍लब में किया जाएगा। इस अवसर पर …

Read more

यह मीडिया तो दस फीसदी लोगों का भी नहीं है:रवीश कुमार

April 25, 2015

वरिष्ठ पत्रकार और एन डी टी वी इंडिया के लोकप्रिय एंकर रवीश कुमार से अशरफ अली बसतवी ने  यह विशेष  इंटरव्यू   किया  है जिस में उनके पत्रकारिता, करियर, सामाजिक मुद्दों के प्रति उनकी  दिलचस्पी, समाचार चैनलों की  मुस्लिम समाज की खबरों और मुद्दों के प्रति उदासीनता का मूल कार…

Read more

"पत्रकारिता कोश" के 15वें अंक का विमोचन 4 मई को

April 24, 2015

मुंबई/ आफताब आलम  द्वारा संपादित भारत की प्रथम मीडिया डायरेक्टरी  "पत्रकारिता  कोश" के 15 वें अंक का विमोचन आशीर्वाद  संस्था द्वारा अजंता पार्टी हॉल, गोरेगांव (पश्चिम) में सोमवार, दिनांक 4 मई, 2015 को सायं 6 बजे होगा। संस्था के चेअरमैन बृजमोहन अग्रवाल के अनुसार लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड में दर…

Read more

कला और पत्रकारिता के क्षेत्र में इस वर्ष के मातृश्री पुरस्कारों की घोषणा

April 20, 2015

नयी दिल्ली। पंजाब केसरी के निदेशक आदित्य नारायण चोपड़ा, साधना टीवी चैनल के निदेशक गौरव गुप्ता, यूनीवार्ता की पत्रकार प्रीति कनौजिया और पीटीआई के संजय आनंद को इस वर्ष के मातृश्री पुरस्कार दिये जाएंगे। …

Read more

मजीठिया बोर्ड की अनुशंसाओं की निगरानी के लिए विशेष अधिकारी नियुक्त

April 17, 2015

दिल्ली सरकार की पहल 

नयी दिल्ली । नई दिल्ली में प्रिंट मीडिया के पत्रकारों और कमर्चारियों के वेतन को लेकर गठित जीआर मजीठिया वेज बोर्ड की अनुशंसाओं के क्रियान्वयन की निगरानी के लिए दिल्ली सरकार ने एक निगरानी समिति गठित करने की घोषणा की है। आधिकारि…

Read more

'हिन्दी चेतना' का नया अंक इंटरनेट पर उपलब्ध

April 16, 2015

अप्रैल-जून 2015 अंक 

कैनेडा से प्रकाशित त्रैमासिक साहित्यिक पत्रिका 'हिन्दी चेतना' का अप्रैल-जून 2015 अंक अब इंटरनेट पर उपलब्ध है। इस अंक में शामिल है- कहानियाँ : इमेज (प्रज्ञा ), मोहभंग (वंदना देव शुक्ल ), शारदा (महेन्द्र दवेसर दीपक ), गॉड ब्लैस यू ... (डॉ. वंदना मुकेश )…

Read more

अरूण जेटली ने विविध भारती सेवा का प्रसारण एफ एम चैनल पर करने की सेवा का किया उद्घाटन

April 15, 2015

नई दिल्ली । सूचना और प्रसारण मंत्री अरूण जेटली ने 14 अप्रैल को  आकाशवाणी दिल्‍ली की विविध भारती सेवा का प्रसारण एफ एम चैनल पर करने की सेवा का उद्घाटन किया। यह सेवा एफ एम चैनल के एक सौ दशमलव एक मेगाहर्ट्स पर उपलब्‍ध रहेगी।  मौके पर श्री जेटली ने कहा कि यह सेवा मोबाइल फोन पर भी उपल…

Read more

मीडिया में माफी और मार...!!

April 14, 2015

पहले जो चाहे कह डालो और जब बवाल मचने लगे तो सारा ठीकरा मीडिया के सिर फोड़ कर अपनी राह निकल लो

तारकेश कुमार ओझा / सचमुच मीड…

Read more

वरिष्ठ पत्रकार ओम थानवी को बिहारी सम्मान

April 14, 2015

नयी दिल्ली । ‘जनसत्ता’ के संपादक एवं लेखक ओम थानवी को वर्ष 2014 का 24वां बिहारी पुरस्कार प्रदान किया जाएगा। के.के. बिड़ला फाउंडेशन के निदेशक सुरेश ऋतुपर्ण ने थानवी को उनकी यात्रा वृत्तांतपरक चर्चित पुस्तक ‘मुअनजोदड़ो’ के लिए यह पुरस्कार देने की घोषणा की है। इस पुस्तक का प्रकाशन…

Read more

प्याऊ का उद्घाटन उत्सव

April 13, 2015

मनोज कुमार/ अखबार रोज एक न एक रोचक खबर अपने साथ लाती है. यह खबर जितनी रोचक होती है, उससे कहीं ज्यादा सोचने पर विवश करती है और लगता है कि हम कहां जा रहे हैं? आज एक ऐसी ही खबर पर नजर पड़ी. खबर में लिखा था कि राज्य के एक बड़े मंत्री प्याऊ का उद्घाटन करेंगे. खबर पढक़र चेहरे पर बरबस मुस्…

Read more

बिहार प्रगतिशील लेखक संघ का पन्द्रहवाँ राज्य सम्मलेन संपन्न

April 13, 2015

राजनीति को मनुष्य के पक्ष में काम करने की जरुरत है- डॉ. विभूति नारायण राय  (पूर्व कुलपति), इतिहास को विज्ञान की कसौटी पर लिखा जाना चाहिए- प्रो. अली जावेद (प्रले…

Read more

श्रमजीवी पत्रकार परिषद की जिला स्तरीय बैठक 14 अप्रैल को

April 12, 2015

दो दिवसीय पत्रकार महासम्मेलन हेतु होगी विशेष चर्चा

सिवनी। श्रमजीवी पत्रकार परिशद जिला सिवनी की आवश्यक बैठक 14 अप्रैल को जिला मुख्यालय सिवनी में दोपहर 2 बजे से होटल बाहुबली बारापत्थर में आयोजित की गयी ह…

Read more

विचार की चोरी और इंटरनेट की नयी नैतिकता

April 11, 2015

संजय ग्रोवर।फ़ेसबुक/इंटरनेट पर बीच-बीच में ऐसी बातें उठती रहतीं हैं कि किसीके विचार/रचना/स्टेटस चुराने में बुरा क्या है, आखि़र हम उसके विचार फ़ैला रहे हैं, समाज को फ़ायदा पहुंचा रहे हैं, रचनाकार का काम ही तो कर रहे हैं, तो रचनाकार/विचारक को इसपर आपत्ति क्यों हो। …

Read more

मीडिया से जुड़ो फिर मजे करोगे जैसे कि वह.......

April 11, 2015

डॉ. भूपेन्द्र सिंह गर्गवंशी /आप पढ़े-लिखे बेरोजगार हैं, जाहिर सी बात है कि जीवन यापन की चिन्ता से ग्रस्त होंगे। यह तो अच्छा है कि अभी तक अकेले हैं, कहीं आप शादी-शुदा होते तो कुछ और बात होती। पढ़े-लिखे हैं और चिन्ताग्रस्त हैं, ऐसे में रातों को नींद नहीं…

Read more

मीडिया लोकतंत्र का चौथा स्तंभ है: नीतीश

April 8, 2015

मीडिया को अपनी भूमिका अदा करने की छूट

पटना। बिहार के  मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार ने विधानसभा परिसर में पत्रकारों के पुछे जाने पर कहा कि मीडिया लोकतन्त्र का चौथा स्तंभ है। लोकतंत्र की मजबूती के लिये मीडिया आवश्यक है। मीडिया के ऊ…

Read more

चर्चित रहने के लिए गालियाँ पाना जरूरी!

April 8, 2015

जो लोग मनुवादी व्यवस्था के विरोध में हैं उन्हें भी चाहिए कि वे वंचित समाज के लोगों को स्वार्थी/सत्तालोलुपों के चंगुल में जाने से बचाएँ, तभी सही मायने में उनके लेखन की सार्थकता सकारात्मक कही जाएगी…

Read more

माखनलाल चतुर्वेदी स्मृति व्याख्यान एवं गणेश शंकर विद्यार्थी सम्मान

April 8, 2015

भोपाल /पत्रकारिता लोकतंत्र के लिए अनिवार्य है। पत्रकारिता ने देश की राजनीति को नई दिशा दी है। यदि पत्रकारिता नहीं होती तो देश की राजनीति की दिशा और दशा कुछ और होती। दादा माखनलाल चतुर्वेदी हमें आज भी प्रेरणा देते हैं कि उनका जीवन हमारे लिए प्रकाश पुंज है। यह विचार पत्रकारिता विश्वविद्या…

Read more

भारत के उजले पक्ष को दिखाएं साहित्यकार : महेश श्रीवास्तव

April 7, 2015

लोकेन्द्र सिंह के काव्य संग्रह 'मैं भारत हूं' का विमोचन

भोपाल। अपने देश को हमें हीन भावना से प्रस्तुत नहीं करना चाहिए। अपने लेखन में भारतीय वाग्ंमय और भारतीय उदाहरणों को प्रस्तुत करना चाहिए। ता…

Read more

20 blog posts