मीडियामोरचा

____________________________________पत्रकारिता के जनसरोकार

Print Friendly and PDF

Blog posts September 2015

पत्रकारों की जायज समस्याओं का निराकरण होगा :मुलायम

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव ने पत्रकारों की जायज समस्याओं के निराकरण का आश्वासन दिया है। 

Read more

तथ्यपरक खबरों का प्रकाशन करें पत्रकार

श्रमजीवी पत्रकार संघ के लवकुशनगर में आयोजित सम्मेलन में मुख्य अतिथि एसडीएम हेमकरण ने कहा

छतरपुर। लवकुशनगर के मेरे दो साल के कार्यकाल …

Read more

मनोज कुमार को श्री यशवंत अरगरे हिन्दी पत्रकारिता पुरस्कार

पुरस्कार मध्यप्रदेश राष्ट्रभाषा प्रचार समिति, भोपाल द्वारा दिया जाता है

भोपाल। वरिष्ठ पत्रकार एवं शोध पत्रिका ‘‘समागम’’ के सम्पादक श्री मनोज कुमार को वर्ष 2015 के …

Read more

नहीं रहे वीरेन दा

आज भोर बरेली में निधन

बरेली । हिन्दी कविता की नई पीढ़ी के सबसे चहेते और आदर्श कवि वीरेन डंगवाल का आज भोर यहां निधन हो गया। साहित्य अकादमी द्वारा पुरस्कृत वीरेन दा पेशे से हिन्दी के प्रोफ़ेसर और शौक से बेइंतहा कामयाब पत्रकार थे। …

Read more

पत्रकार विकल्प नहीं है और न होना चाहिए

रवीश कुमार / यह सही है कि हम घोर राजनीतिक ध्रुवीकरण के दौर में जी रहे है । वैसे यह ध्रुवीकरण भी माडिया और सोशल मीडिया के नज़दीक रहने वाले लोगों के बीच ज्यादा दिखता है । आप लोगों के बीच जाइये तो वहाँ न कोई बीजेपी को लेकर मुखर है न कांग्रेस को लेकर क्षुब्ध । जनता जानती है कि दोनों दल…

Read more

फोटो जर्नलिज्म पर सेमिनार जयपुर में

एक अक्टूबर को एमएनआईटी के प्रभा भवन ऑडिटोरियम में आयोजित होगा कार्यक्रम, देश-दुनिया के नामचीन फोटो जर्नलिस्ट एवं पत्रकार होंगे रू-ब-रू …

Read more

पत्रकारों की सुरक्षा को लेकर बने कानून

कोटा / पत्रकारों की सुरक्षा को लेकर अलग से कानून बनाए जाने की मांग अब और तेज हो गई है। नए कानून बनाए जाने का समर्थन नेशनल यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट्स (इंडिया) ने भी किया है। हाल ही में दिल्ली में एनयूजे की कोटा में संपन्न हुई द्विवार्षिक आमसभा की बैठक में केंद्र सरकार से मांग की गई है कि पत्रकारों…

Read more

दीनदयाल उपाध्याय होने का मतलब

जन्मशती वर्ष पर विशेष (जयंती 25 सितंबर)

संजय द्विवेदी / पं. दीनदयाल उपाध्याय स्वयं बहुत बड़े पत्रकार और संचारक थे। अपनी विचारधारा को पुष्ट करने के लिए पत्रों का संपादन, प्रकाशन, स्तंभलेखन, पुस्तकलेखन उनकी रूचि क…

Read more

सुधीर सक्सेना होने के मायने

जन्मदिवस (30 सितंबर) पर विशेष

संजय द्विवेदी /  सुधीर भाई भिगो देने वाली आत्मीयता के धनी कवि-पत्रकार हैं। अपने फन के माहिर, एक बेहद जीवंत भाषा के धनी, कवि और कविह्दय दोनों। वे ज्यादा बड़े कवि हैं या ज्यादा बड़े पत्रकार, यह तय कर…

Read more

एकात्म मानववाद के प्रणेता पंडित दीनदयाल उपाध्याय

मनोज कुमार/ भारत वर्ष में जितने महापुरूषों ने जन्म लिया उनमें एक पंडित दीनदयाल उपाध्याय. पंडित दीनदयाल उपाध्याय की गणना भारतीय महापुरूषों में इसलिये नहीं होती है कि वे किसी खास विचारधारा के थे बल्कि उन्होंने किसी विचारधारा या दलगत राजनीति से परे रहकर राष्ट्र को सर्वोपरि माना. राजनी…

Read more

वैदिक जी जन्म आधारित सारे आरक्षण तुरंत खत्म करवाएं

 वेदप्रताप वैदिक का आरक्षण को ले कर ‘अब खत्म करें आरक्षण’ शीर्षक से दैनिक भास्कर के 02 सितंबर 2015 के अंक में छपे लेख पर आलोचक  …

Read more

कथा-साहित्य में भी बिहार का योगदान ऐतिहासिक

पटना। हिन्दी कथा-साहित्य को समृद्ध करने में बिहार के मनीषी विद्वानों का बहुत बड़ा योगदान है। कथा-साहित्य का आरंभ ही बिहार से हुआ। विद्वानों ने माना है कि बिहार के हीं पंडित सदल मिश्र ने हिन्दी में पहली कथा लिखी थी,जिसका नाम ‘नचिकेतोपाख्यान’ था। श्री मिश्र आरा के ‘मिश्री-टोला’ के निवासी थे। इस…

Read more

मेरा सवाल आपसे हैं, आपसे पूछ रहा हूँ

सोशल मीडिया रचनात्मक, अनौपचारिक और मौजमस्ती की जगह है , यहाँ नेताओं ने घुस कर विरोधियों को खोजना पहचानना शुरू कर दिया है । बचाइये इस सोशल मीडिया को..... …

Read more

शोध पत्रिका 'मीडिया पथ' के लिए शोध पत्र आमंत्रित

भारतीय सामाजिक विज्ञान अनुसंधान परिषद नई दिल्ली में रिसर्च फेलो बलराम बिन्द के सम्पादन में  'मीडिया पथ' शोध पत्रिका का अगला अंक आने वाला है । 'मीडिया पथ' के लिए शोध पत्र द्विभाषी (हिन्दी और अंग्रेजी) में आमंत्रित किया गया हैं। …

Read more

टेरर पालिटिक्स पर वार करती ’ऑपरेशन अक्षरधाम’

राज्य प्रायोजित हिंसा के खिलाफ आंदोलनरत पत्रकार और डाक्यूमेंन्ट्री फिल्म निर्माता राजीव यादव और शाहनवाज आलम की किताब…

Read more

पुस्तक 'मीडिया: क्रांति या भ्रांति' का विमोचन

भोपाल। वरिष्ठ पत्रकार राधेश्याम शर्मा द्वारा लिखित पुस्तक 'मीडिया : क्रांति या भ्रांति' का विमोचन विश्व हिन्दी सम्मेलन के समापन के दौरान केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह द्वारा किया गया। पुस्तक का प्रकाशन माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता एवं संचार विश्वविद्यालय द्वारा किया गया है। …

Read more

"सन्मार्ग" के संपादक हरी राम पाण्डेय बने" वाजा इंडिया" प. बंगाल इकाई के कार्य. अध्यक्ष

कोलकाता । कोलकाता के मशहूर हिन्दी दैनिक "सन्मार्ग" के संपादक हरी राम पाण्डेय को  "राइटर्स एण्ड जर्नलिस्ट एसोसियेशन" वाजा इंडिया" के प. बंगाल इकाई का पुनः कार्य. अध्यक्ष मनोनीत किया गया है ।…

Read more

प्रोफेसर ऑफ़ बिहार इन इलेक्शन टाइम्स!

मैं इन सभी आत्मविश्वासी पत्रकारों को ‘प्रोफेसर ऑफ़ बिहार इन इलेक्शन टाइम्स’ कहता हूँ

रवीश कुमार / बिहार में चुनाव का एलान होते ही बिहार स…

Read more

आफताब आलम को टॉलिक का राजभाषा सम्मान

मुंबई / नगर राजभाषा कार्यान्वयन समिति (टॉलिक), उत्तर मुंबई कार्यालय द्वारा राजभाषा हिंदी के अधिकारियों व कर्मियों की प्रथम डायरेक्टरी "राजभाषा अधिकारी कोश" व लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड में दर्ज भारत की प्रथम मीडिया व साहित्यिक डायरेक्टरी "पत्रकारिता कोश" के संपादन तथा नीटी में राजभाषा हिंदी…

Read more

‘समागम’ का विश्व हिन्दी सम्मेलन के अवसर पर अंक हिन्दी विशेष पर

इस विशेष अंक की अतिथि सम्पादक सुपरिचित साहित्यकार उर्मिला शिरीष हैं

भोपाल। दसवें विश्व हिन्दी सम्मेलन के अवसर पर प्रकाशित मासिक शोध पत्रिका ‘समागम’ का सितम्बर 2015 अंक ह…

Read more

20 blog posts