Menu

 मीडियामोरचा

____________________________________पत्रकारिता के जनसरोकार

नवीनतम ---

View older posts »

सोशल मीडिया से --

एक और मीडिया संस्थान पर छापेमारी!

सिलसिला सा बनता दिख रहा

उर्मिलेश / ये लो जी, एक और मीडिया संस्थान पर छापेमारी! यह लखनऊ(यूपी) स्थित एक चर्चित चैनल है: भारत समाचार चैनल. इसके संपादक के घर और दफ़्तर पर छापेमारी की खबर आ रही है! यह क्षेत्रीय चैनल कोरोना की तबाही और सरकारी लापरवा…

Read more

View older posts »

टोक्यो ओलंपिक में बढ़ाएं भारतीय टीम का हौसला : प्रो. संजय द्विवेदी

आईआईएमसी के विद्यार्थियों द्वारा प्रकाशित पत्रिका 'खेल सम्राट' के ओलंपिक विशेषांक का विमोचन…

Read more

फ़ोटो पत्रकार दानिश सिद्दीकी की हत्या

रायटर के लिए काम करते थे दानिश

काबुल/ अफगानिस्तान में तालिबान और सरकारी पक्ष के बीच चल रही लड़ाई को कवर करने गये मशहूर फ़ोटो पत्रकार दानिश सिद्दीकी की आज पाकिस्तान सीमा के समीप हत्या कर दी गई. वह अंतरराष्ट्रीय न्यूज़ एजेंसी रायटर के लिए क…

Read more

View older posts »

योग हमारे मन - मस्तिष्क और शरीर को स्वस्थ रखने के लिए ज़रूरी

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर राष्ट्रीय वेबिनार में विशेषज्ञों ने रखे अपने विचार…

Read more

सम्पादक

डॉ. लीना


Print Friendly and PDF

भास्कर समूह के कई ठिकानों पर छापा

उर्मिलेश। हिन्दी के बड़े अखबार समूह-दैनिक भास्कर के कई दफ्तरों और समूह के कुछ प्रमुख लोगों के घरों पर सरकारी एजेंसियों की छापेमारी की खबर आ रही है. खबर के मुताबिक देश के कई शहरों में ऐसी छापेमारी हो रही है. …

Read more

29 अगस्त को होगी आईआईएमसी की प्रवेश परीक्षा

9 अगस्त तक कर सकते हैं आवेदन, 10 सितंबर को जारी होगा परीक्षा परिणाम, देश का सबसे प्रतिष्ठित मीडिया शिक्षण संस्थान है आईआईएमसी

नई दिल्ली। भारतीय जन संचार संस्थान (आईआईएमसी) में आठ पीजी डिप्लोमा पाठ्यक्रमों में प्रवेश के लिए ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया 20 जुलाई, 2021 से शुरू हो गई है। शैक्…

Read more

पेगासस रिपोर्ट की जांच सुप्रीम कोर्ट की निगरानी में की जाए:आईजेयू

हैदराबाद/ इंडियन जर्नलिस्ट यूनियन (आईजेयू) ने पत्रकारों, मानवाधिकार कार्यकर्ताओं और सत्ता के आलोचकों पर न्यायेत्तर निगरानी करने की कड़ी निंदा करते हुए पेगासस रिपोर्ट की संयुक्त संसदीय समिति या उच्चतम नयायालय की देखरेख में किसी एजेंसी से जांच कराये जाने की मांग की है।…

Read more

समाचार और विज्ञापन में भेद करना मुश्किल: प्रो. सुधीर गव्हाणे

‘मीडिया शिक्षा के सौ वर्ष : चुनौतियां और संभावनाएं’ विषय पर राष्ट्रीय वेबीनार

महू (इंदौर)/ ‘समाचार विज्ञापन बनता जा रहा है और विज्ञापन अब समाचार के रूप में परिवर्तित हो रहा है. अब समाचार और विज्ञापन में भेद करना मुश्किल है.’ यह बात प्रो. सुधीर गव्हाणे ने कही. सुपरिचित मीडिया शिक्षक प्रो. गव्हाणे  ‘मीडिया शिक्षा के सौ वर्ष : चुनौतियां और संभावनाएं’ विष…

Read more

पश्चिमी मीडिया ने की भारत में कोविड-19 महामारी की 'पक्षपातपूर्ण' कवरेज

आईआईएमसी के सर्वेक्षण में 82 प्रतिशत मीडियाकर्मियों की राय

नई दिल्ली। भारतीय जन संचार संस्थान (आईआईएमसी) द्वारा किए गए एक सर्वेक्षण के अनुसार 82 फीसदी भारतीय मीडियाकर्मियों की राय में पश्चिमी मीडिया द्वारा भारत में कोविड-19 महामारी की कवरेज ‘पक्षपातपूर्ण’ रही है। 69 प्रतिशत मीडियाकर्मियों का मानना है कि इस कवरेज से विश्व स्तर पर भारत की छवि धूमिल हुई है, जबकि प्रतिशत लोगों का कहना…

Read more

बेनकाब हुआ पश्चिमी मीडिया का दोगला और दोहरापन

पत्रकारिता के नैतिक मापदंडों पर पश्चिमी मीडिया का दागदार चेहरा

डॉ अजय खेमरिया/ भारतीय जनसंचार संस्थान के एक ऑनलाइन सर्वेक्षण एवं शोध के नतीजे बताते है कि भारत में अधिसंख्य चेतन लोग इस बात को समझ रहे है कि यूरोप,अमेरिका और अन्य देशों की मीडिया एजेंसियों ने कोरोना को लेकर  अतिरंजित,गैर जिम्मेदाराना और दहशतमूलक खबरें प्रकाशित की।इन खबरों के मूल में भारत के प्रति एक औप…

Read more

डिजिटल मीडिया आचार संहिता का उदेश्य, अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता को कायम रखना: विक्रम सहाय

पत्र सूचना कार्यालय (पटना, लखनऊ, रांची एवं देहरादून) द्वारा डिजीटल मीडिया आचार संहिता 2021 पर एक विशेष ई-बैठक

पटना/ केन्द्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय द्वारा डिजिटल मीडिया आचार संहिता 2021 का उद्देश्य अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता को कायम रखते हुए ओटीटी प्लेटफार्म पर प्रसारित होने वाली सामग्री के गुणवत्ता को बनाये रखना है। प…

Read more

विदेशी मीडिया ने की भारत की छवि खराब करने की कोशिश

आईआईएमसी में 'पश्चिमी मीडिया द्वारा भारत में कोविड-19 महामारी की कवरेज' विषय पर विमर्श का आयोजन

नई दिल्ली। ''भारत में कोरोना त्रासदी की विदेशी मीडिया द्वारा की गई कवरेज में संवेदनशीलता और जिम्मेदारी का अभाव रहा है। विदेशी मीडिया ने अपने देश की कोरोना कवरेज में संयम बरता था, लेकिन भारत में हो रही मौतों को उसने सनसनी के तौर पर प्…

Read more

डिजिटल मीडिया आचार संहिता-2021 पर पीआईबी जोनल ई-बैठक 7 को

सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के संयुक्त सचिव करेंगे संबोधित

पटना/ पत्र सूचना कार्यालय (पटना, लखनऊ, रांची व देहरादून) द्वारा डिजिटल मीडिया आचार संहिता 2021 पर एक विशेष ई-बैठक का आयोजन किया गया है । इसका उद्देश्य ओटीटी प्लेटफार्म और डिजिटल समाचार प्रकाशकों के लिए सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय द्वारा बनाई गयी डिजिटल मीडिया आचार संहिता के बारे में जानकारी देना है। पत्र सूचना कार्यालय, पटना (रीजन) …

Read more

कॉरपोरेट संचार के क्षेत्र में आगे असीम संभावनाएं: प्रो. आतिश पाराशर

मोतिहारी के मगाकेंवि के मीडिया अध्ययन विभाग की ओर से ई-गुरुमंत्र ज्ञान शृंखला की पांचवी कड़ी का हुआ आयोजन, प्रसिद्ध संचारविद प्रो.अतीश पाराशर ने विद्यार्थियों का किया मार्गदर्शन

मोतिहारी।…

Read more

डब्ल्यूजेएआई का हुआ विस्तार

डब्ल्यूजेएआई दिल्ली एनसीआर चैप्टर का गठन, रिफाकत  हुसैन बने अध्यक्ष तो पंकज प्रसून महासचिव

नई दिल्ली। देश की राजधानी दिल्ली के कनॉट प्लेस में वेब जर्नलिस्ट्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया (डब्ल्यूजेएआई)  दिल्ली- एनसीआर चैप्टर की बैठक राष्ट्रीय महासचिव डॉ. अमित रंजन की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई जिसमें राष्ट्रीय अध्यक्ष आनन्द कौशल की ऑनलाई…

Read more

प्रकाश जावड़ेकर ने किया 'कम्युनिकेटर' और 'संचार माध्यम' को रिलांच

नए स्वरुप में दिखेंगी भारतीय जन संचार संस्थान द्वारा प्रकाशित होने वाली देश की ये प्रतिष्ठित शोध पत्रिकाएं

नई दिल्ली । केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री श्री प्रकाश जावड़ेकर ने शुक्रवार को भारतीय जन संचार संस्थान की प्रतिष्ठित शोध पत्रिकाओं 'कम्युनिकेटर' और 'संचार माध्यम' को रिलांच किया। इस अवसर पर आईआई…

Read more

आलेख- ख़बरें और भी हैं

View older posts »

आपकी उपस्थिती

4130014

पुरालेख--

बहस--

समाजवाद की आड़ में जारकर्म समर्थक का चेहरा

कैलाश दहिया/ आर.डी. आनंद ने दिनांक 25 मार्च, 2021को अपनी फेसबुक वॉल पर 'आम्बेडकरवादी और आजीवक' शीर्षक से अपना लेख लगाया है। सर्वप्रथम तो, इन के लेख का शीर्षक ही गलत है। आजीवक एक कं…

Read more

View older posts »

पत्रिकाएँ--

175;250;cff38901a92ab320d4e4d127646582daa6fece06175;250;e3ef6eb4ddc24e5736d235ecbd68e454b88d5835175;250;25130fee77cc6a7d68ab2492a99ed430fdff47b0175;250;7e84be03d3977911d181e8b790a80e12e21ad58a175;250;c1ebe705c563d9355a96600af90f2e1cfdf6376b175;250;911552ca3470227404da93505e63ae3c95dd56dc175;250;752583747c426bd51be54809f98c69c3528f1038175;250;ed9c8dbad8ad7c9fe8d008636b633855ff50ea2c175;250;969799be449e2055f65c603896fb29f738656784175;250;1447481c47e48a70f350800c31fe70afa2064f36175;250;8f97282f7496d06983b1c3d7797207a8ccdd8b32175;250;3c7d93bd3e7e8cda784687a58432fadb638ea913175;250;7a01499da12456731dcb026f858719c5f5f76880175;250;0e451815591ddc160d4393274b2230309d15a30d175;250;ac66d262fc1ac411d7edd43c93329b0c4217e224175;250;ff955d24bb4dbc41f6dd219dff216082120fe5f0175;250;028e71a59fee3b0ded62867ae56ab899c41bd974175;250;460bb56d8cde4cb9ead2d6bff378ed71b08f245d

पत्रकारिता : एक नजर

वेब पत्रकारिता का चमकता भविष्य

अर्पण जैन "अविचल"/  सूचना और संचार क्रांति के दौर में आज प्रिंट और इलेक्ट्रानिक मीडिया के बीच वेब पत्रकारिता का चलन तेजी से बढ़ा है और अपनी पहचान बना ली है. अखबारों की तरह बेव पत्र और पत्रिकाओं का जाल, अंतरजाल पर पूरी तरह बिछ चुका है. छोटे-बड़े हर शहर से अमूमन बेव पत्रकारिता संचालित हो रही है. छोटे-बड़े सभी शहरों के प्रिंट व इलेक्ट्रानिक मीडिया भी वेब पर हैं. इस बात से अंदाजा लगाया जा सकता है कि भारत में थोड़े ही समय मे…

Read more

View older posts »

राष्ट्रीय सुर्खियां--

Content