मीडियामोरचा

____________________________________पत्रकारिता के जनसरोकार

नवीनतम ---

View older posts »

पत्रिकाएँ--

175;250;7e84be03d3977911d181e8b790a80e12e21ad58a175;250;25130fee77cc6a7d68ab2492a99ed430fdff47b0175;250;e3ef6eb4ddc24e5736d235ecbd68e454b88d5835175;250;f5d815536b63996797d6b8e383b02fd9aa6e4c70175;250;1447481c47e48a70f350800c31fe70afa2064f36175;250;8f97282f7496d06983b1c3d7797207a8ccdd8b32175;250;3c7d93bd3e7e8cda784687a58432fadb638ea913175;250;7a01499da12456731dcb026f858719c5f5f76880175;250;0e451815591ddc160d4393274b2230309d15a30d175;250;ac66d262fc1ac411d7edd43c93329b0c4217e224175;250;1549d7fbbceaf71116c7510fe348f01b25b8e746175;250;ff955d24bb4dbc41f6dd219dff216082120fe5f0175;250;028e71a59fee3b0ded62867ae56ab899c41bd974175;250;460bb56d8cde4cb9ead2d6bff378ed71b08f245d

पुरालेख--

राष्ट्रीय सुर्खियां--

सम्पादक

डॉ. लीना


Print Friendly and PDF

भारतीय मीडिया ने झूठ बोलने को आसान बनाया

जन मीडिया का अप्रैल अंक

डॉ लीना / जन मीडिया का अप्रैल (109 वां) अंक अपने आप में बहुत ही महत्वपूर्ण है। महत्वपूर्ण इसलिए कि अप्रैल का जो महीना होता है वह अपने आप में महत्वपूर्ण होता है।  सामाजिक क्रांति का बीज बोने वाले प्रबुद्ध राष्ट्र निर्माता एवं भारतरत्न बाबा साहब डॉक्टर भीम राव अंबेडकर, जो भारत के संविधन निर्माता के रूप में विख्यात है उनकी जयंती 14 अप्रैल को पूरा विश्व मानता है। बाबा साहब ने संविधान की रचना की थी। संविधान के जनक थे बल्कि ए…

Read more

उमाकांत लखेड़ा प्रेस क्लब ऑफ इंडिया के नए अध्यक्ष

नई दिल्ली/ उमाकांत लखेड़ा प्रेस क्लब ऑफ इंडिया के नए अध्यक्ष चुने गए हैं। प्रेस क्लब ऑफ इंडिया में हुए चुनावों के परिणाम रविवार शाम को जारी हो गए। हिंदुस्तान के राष्ट्रीय ब्यरो प्रमुख रहे उमाकांत लखेड़ा प्रतिद्वंदी द एशियन एज के ब्यूरो हेड संजय बसक को हरा अध्यक्ष निर्वाचित हुए।…

Read more

वेब पत्रकार स्वनियमन अपनाकर, पत्रकारिता के उच्च आदर्श स्थापित करें: डबल्यूजेएआई

डबल्यूजेएआई राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में बिहार व पश्चिम बंगाल प्रदेश इकाई की हुई घोषणा, बिहार इकाई के अध्यक्ष बने प्रवीण बागी और पश्चिम बंगाल इकाई के अध्यक्ष बने  चंद्रचूड़ गोस्वामी

पटना…

Read more

पत्रकारिता समाप्त हो रही है और पत्रकार बढ़ते जा रहे हैं!

श्रवण गर्ग /कोलकाता से निकलने वाले अंग्रेज़ी के चर्चित अख़बार ‘द टेलिग्राफ’ के सोमवार (29 मार्च,2021) के अंक में पहले पन्ने पर एक ख़ास ख़बर प्रकाशित हुई है. ख़बर गुवाहाटी की है और उसका सम्बन्ध 27 मार्च को असम में सम्पन्न हुए विधान सभा चुनावों के पहले चरण के मतदान से है. असम में मतदान तीन चरणों में होना है. दूसरे चरण का मतदान एक अप्रैल और तीसरे व‌ अंतिम का छह अप्रैल को होने वाला है. …

Read more

अखबार का कार्यालय ढहाए जाने की निंदा

रिहाई मंच ने बताया तानाशाही भरा कदम

आजमगढ़। रिहाई मंच ने आजमगढ़ में हिंदी-अंग्रेजी पायनियर अखबार के कार्यालय को ढहाए जाने के बाद मौका स्थल का दौरा किया। मंच ने कहा कि एसडीएम सदर आजमगढ़ द्वारा 12 मार्च को नोटिस जारी करने के बारह दिन बाद 23 मार्च को नोटिस तामील करवाकर 25 मार्च तक जवाब दाखिल करने का वक्त देने के बावजूद एक दिन पहले 24 मार्च को स्ट्रीट लाइट बंद करवाकर की गई कार्रवाई आपराधिक कृत्य है। मंच ने प्रथम दृष्टया पाया कि यह…

Read more

असम में पत्रकारिता के 175 वर्ष पूर्ण

अवसर पर आईआईएमसी में सेमिनार आयोजित, केंद्रीय पूर्वोत्तर क्षेत्र विकास राज्य मंत्री डॉ. जितेंद्र सिंह ने कहा - ‘न्यू इंडिया’ में ‘न्यू असम’ की महत्वपूर्ण भूमिका 

नई दिल्ली। ''जब भारत आजादी के 75वें वर्ष में प…

Read more

नए नियम से डिजिटल समाचारों के प्रकाशकों पर कुछ दायित्व

केन्द्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री श्री प्रकाश जावडेकर ने डिजिटल समाचार प्रकाशकों के प्रतिनिधियों के साथ बातचीत की

नई दिल्ली/ केन्द्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री श्री प्रकाश जावडेकर ने आईटी (मध्यवर्ती संस्थानों के लिए दिशा-निर्देश और डिजिटल मीडिया आचार संहिता) नियम, 2021 की पृष्ठभूमि में…

Read more

प्रो.कमल दीक्षितः उन्होंने हमें सिखाया जिंदगी का पाठ

प्रो. संजय द्विवेदी (महानिदेशक, भारतीय जनसंचार संस्थान, नई दिल्ली)/ मेरे गुरू, मेरे अध्यापक प्रो. कमल दीक्षित के बिना मेरी और मेरे जैसे तमाम विद्यार्थियों और सहकर्मियों की दुनिया कितनी सूनी हो जाएगी यह सोचकर भी आंखें भर आती हैं। वे ही ऐसे थे जो एक साथ पत्रकारिता,संपादन, अध्यापन,लेखन और अध्यात्म को साध सकते थे। उन्होंने मनचाही जिंदगी जी और मनचाहा किया। घूमना-फिरना,मिलना- जुलना और पत्रकारिता म…

Read more

वरिष्ठ पत्रकार कमल दीक्षित का निधन

मुख्यमंत्री, आईआईएमसी के महानिदेशक ने जताया दु:ख

भोपाल। मध्य प्रदेश के वरिष्ठ पत्रकार एवं माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता एवं संचार विश्वविद्यालय, भोपाल के पत्रकारिता विभाग के पूर्व विभागाध्यक्ष प्रो. कमल दीक्षित का आज भोपाल में निधन हो गया। शाम 5.30 बजे उनका देहांत हुआ. वे एक जमीनी पत्रकार तौर पर जाने जाते थे. उन्होंने 1996 से 2003 तक माखनलाल चतुर्वेदी पत्रकारिता विश्वविद्यालय में पत्रकारिता वि…

Read more

उद्यमिता पर फैकल्टी डेवलपमेंट प्रोग्राम शुरू

माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता एवं संचार विश्वविद्यालय द्वारा आंत्रप्रेन्योर डेवलपमेंट इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के सहयोग से उद्यमिता पर दो सप्ताह का फैकल्टी डेवलपमेंट प्रोग्राम

Read more

नेशनल यूनियन ऑफ जर्नलिस्टस का राष्ट्रीय अधिवेशन दौसा में

दो दिवसीय राष्ट्रीय अधिवेशन 13-14 मार्च को होगा

नयी दिल्ली/ इंटरनेशनल फेडरेशन ऑफ जर्नलिस्ट्स (ब्रुसेल्स-बेल्जियम) से संबद्ध नेशनल यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट्स (एनयूजेआई) का दो दिवसीय राष्ट्रीय अधिवेशन राजस्थान के "दौसा" में होगा।…

Read more

ज़मीर फ़रोश पत्रकारिता पर एक और प्रहार

निर्मल रानी/ स्वयं को लोकतंत्र का चौथा स्तंभ बताने वाला मीडिया विशेषकर टेलीवीज़न मीडिया जहाँ गत कुछ वर्षों से सत्ता के समक्ष 'शाष्टांग दंडवत' की मुद्रा में आकर भारतीय इतिहास के सबसे शर्मनाक दौर से गुज़र रहा है वहीं अभी भी कुछ चरित्रवान तथा पत्रकारिता के कर्तव्यों  व सिद्धांतों का ईमानदारी से निर्वहन करने वाले ऐसे लोग बाक़ी हैं जो सही मायने में पत्रकारिता की लाज रखे हुए हैं। इस समय साफ़ तौर पर भारतीय मीडिया को दो हिस्सों में बंटा हुआ देखा जा सकता है। एक तरफ़ सत्ता का चापलूस मीडिया …

Read more

आलेख- ख़बरें और भी हैं

View older posts »