Menu

 मीडियामोरचा

____________________________________पत्रकारिता के जनसरोकार

नवीनतम ---

View older posts »

राष्ट्रीय प्रतियोगिता में मीडिया विभाग के विकाश को पुरस्कार

मोतीहारी। महात्मा गांधी केंद्रीय विश्वविद्यालय के मीडिया अध्ययन विभाग के पीएचडी शोधार्थी विकाश कुमार को राष्ट्रीय मौलिक शोध आलेख लेखन में तृतीय स्थान प्राप्त हुआ है। विकास कुमार ने ड…

Read more

सोशल मीडिया से --

हिन्दी पत्रकारों का बुढ़ापा और भविष्य

संजय कुमार सिंह / छह आठ महीने पहले एक अनजान नंबर से फोन आया था। फोन करने वाले ने पूछा कि संजय जी आपका नंबर मेरे पास काफी समय से सेव है मैं पहचान नहीं पा रहा हूं कि आप कौन हैं। सभ्य और बुजुर्ग सी आवाज थी तो मैंने अपना परिचय बता दिया। उन्होंने भी अपना नाम और हाल-चाल सब बताया…

Read more

View older posts »

अर्थशास्त्र शोध में मीमांसा का प्रयोग किया जा सकता है: प्रो. वाजपेयी

शोध में गरीबी उन्मूलन और कृषि सुधार पर बल देने ज़रूरत: तपन कुमार शान्डिल्य

पट…

Read more

डब्लूजेएआई के राष्ट्रीय अध्यक्ष को मातृ शोक

मंगलवार को भागलपुर स्थित अपने आवास पर ली अंतिम सांस

पटना / वेब जर्नलिस्ट्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया(डब्लूजेएआई ) के राष्ट्रीय अध्यक्ष आनंद कौशल की माता का निधन 21 दिसंबर को हो गया। वे काफी दिनों से बीमार चल रहीं…

Read more

View older posts »

सम्पादक

डॉ. लीना


Print Friendly and PDF

आज समाधान परक पत्रकारिता की जरूरत : प्रो. संजय द्विवेदी

देश में समाधान परक पत्रकारिता के लिए राष्ट्रीय अभियान का शुभारंभ

नई दिल्ली। भारतीय जन संचार संस्थान (आईआईएमसी) के महानिदेशक प्रो. संजय द्विवेदी ने देश में समाधान परक पत्रकारिता की जरूरत पर बल देते हुए कहा है कि मीडिया समाचारों में समस्या के साथ-साथ समाधान पर भी बात करे। इससे बेहतर समाज का निर्माण संभव हो सकेगा। आजादी के अमृत महोत्सव के अवसर पर ब्रह्माकुमारीज द्वारा सम…

Read more

पत्रकारों के सवालों से 'लाजवाब' होते यह 'रणछोड़'

निर्मल रानी/ हमारे देश में 'मीडिया' व पत्रकारिता का स्तर इतना गिर चुका है कि 'गोदी मीडिया ', 'दलाल मीडिया' व 'चाटुकार मीडिया' जैसे शब्द प्रचलन में आ गये हैं। दुर्भाग्यवश सत्ता प्रतिष्ठान को 'दंडवत ' करने तथा सत्ता के एजेंडे को प्रसारित करने वाले पत्रकारों को भी दलाल,चाटुकार व बिकाऊ पत्रकारों जैसी उपाधियों से नवाज़ा जा चुका है। कहना ग़लत नहीं होगा कि मुख्य धारा के अधिकांश मीडिया घराने तथा इससे जुड़े पत्रकार, पत्रकारिता जैसे ज़िम्मेदाराना पेशे की मान मर्यादा व कर्तव्यों का पालन करन…

Read more

आईआईएमसी के संशोधित लोगो का लोकार्पण

'आ नो भद्रा: क्रतवो यन्तु विश्वत:' होगी संस्थान की टैगलाइन

नई दिल्ली। भारतीय जन संचार संस्थान (आईआईएमसी) के संशोधित लोगो का लोकार्पण संस्थान के महानिदेशक प्रो. संजय द्विवेदी ने किया। इस अवसर पर अपर महानिदेशक श्री आशीष गोयल, प्रकाशन विभाग के अध्यक्ष प्रो. (डॉ.) वीरेंद्र कुमार भारती, डीन (छात्र कल्याण) प्रो. (डॉ.) प्रमोद कुमार एवं पुस्तकालय प्रभारी डॉ. प्रतिभा शर्मा सहित अधिकारी एवं कर्मच…

Read more

कमाल तो 'कमाल' थे

वरिष्ठ पत्रकार कमाल खान का शुक्रवार, 14 जनवरी की सुबह निधन हो गया. एनडीटीवी की पत्रकारिता से पिछले तीन दशकों से जुड़े कमाल खान के जाने से पूरा पत्रकारिता जगत शोक में है. वो पिछले 30 सालों से एनडीटीवी से जुड़े हुए थे और अपनी विशिष्ट पत्रकारिता के लिए जाने जाते थे. वो चैनल के लखनऊ ब्यूरो के हेड थे. अभी गुरुवार को ही चैनल पर उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावों पर उनकी रिपोर्टिंग देखी गई थी. शुक्रवार की सुबह उनका हार्ट अटैक से निधन हो गया. …

Read more

समाज को दिशा देते हैं पत्रकार और पत्रकारिता: विश्वास सारंग

साप्ताहिक समाचार पत्र बुलंद सोच के नए कलेवर का हुआ एमसीयू में विमोचन

भोपाल। माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता एवं संचार विश्वविद्यालय के मामा माणिक चंद्र सभागार में साप्ताहिक समाचार पत्र बुलंदसोच के  नए कलेवर के विमोचन अवसर पर संगोष्ठी का आयोजन किया गया।इस कार्यक्रम में प्रदेश के चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग,प्रदेश के वरिष्ठ कांग्रेस नेता एवं विधायक पी सी शर…

Read more

डॉ. इंदुशेखर तत्पुरुष को पं. बृजलाल द्विवेदी स्मृति अखिल भारतीय साहित्यिक पत्रकारिता सम्मान

सम्मान समारोह की तिथि की घोषणा जल्दी ही

नई दिल्ली। प्रख्यात कवि, आलोचक एवं ‘साहित्य परिक्रमा’ (राजस्थान) के संपादक डॉ. इंदुशेखर तत्पुरुष को इस वर्ष के पं. बृजलाल द्विवेदी स्मृति अखिल भारतीय साहित्यिक पत्रकारिता सम्मान से अलंकृत किया जाएगा। सम्मान समारोह की तिथि की घोषणा जल्दी ही की जाएगी।…

Read more

आकाशवाणी एफएम सेवाओं पर स्थानीय कार्यकमों का प्रसारण सुनिश्चित

प्रसार भारती ने स्पष्ट किया 

प्रयागराज, वाराणसी, रोहतक, जयपुर, जोधपुर और उदयपुर आकाशवाणी केंद्रों पर स्थानीय/क्षेत्रीय भाषाओं में कार्यकमों के प्रसारण की उचित अहमियत सुनिश्चित करने के लिए आकाशवाणी ने इन केंद्रों को निर्देश दिया है कि वे केंद्र से शुरू होने वाले प्राथमिक चैनल को अवश्‍य प्रसारित करें, ताकि विशेष शहर/कस्बे/क्षेत्र से संबंधित स्थानीय सामग्री भी एफएम पर उपलब्ध हो सके।…

Read more

फेक न्यूज पर सख्त नियम बनाने की जरूरत: प्रो. संजय द्विवेदी

न्यूज़फैक्ट डॉट इन के चौथे वर्षगाँठ पर "डिजिटल मीडिया की हद और सरहद" पर राष्ट्रीय विमर्श का आयोजन

छपरा। रघुरोशनी मीडिया द्वारा संचालित वेब न्यूज़ पोर्टल न्यूज़फैक्ट डॉट इन की चतुर्थ वर्षगाँठ पर छपरा के रामकृष्ण मिशन आश्रम में डिजिटल (वेब) मीडिया की हद और सरहद विषय पर एक राष्ट्रीय मीडिया विमर्श का आयोजन किया गया। कार्यक्रम के आरंभ…

Read more

इंटरनेट और ब्रॉडबैंड की पहुंच में उछाल

 

भारतीय दूरसंचार विभाग का वर्षांत समीक्षा, टेलीफोन सब्सक्रिप्शन में भी वृद्धि

देश में कुल टेलीफोन कनेक्शन सितंबर 2021 में बढ़कर 118ण्9 करोड़ हो गयेए जो मार्च 2014 में 93 करोड़ थे, इस अवधि के दौरान 28% की वृद्धि हुई। सितंबर 2021 में मोबाइल कनेक्शन की संख्या 1165.97 करोड़ तक पहुंच गयी। मार्च 2014 में दूरसंचार.घनत्व 75.23 प्रतिशत थाए जो सितंबर 2021 में 86.89 प्रत…

Read more

पाकिस्तान प्रायोजित फर्जी समाचार नेटवर्क ब्लॉक

सूचना और प्रसारण मंत्रालय ने 20 यूट्यूब चैनलों, 2 वेबसाइटों को भारत विरोधी दुष्प्रचार करने पर ब्लॉक किया

नई दिल्ली/ खुफिया एजेंसियों तथा सूचना और प्रसारण मंत्रालय के बीच एक समन्वित प्रयास के तहत, सूचना और प्रसारण मंत्रालय ने सोमवार को इंटरनेट पर भारत विरोधी प्रचार और फर्जी खबरें फैलाने वाले 20 यूट्यूब चैनलों और 2 …

Read more

दिमाग से नहीं दिल से कीजिए जनसंपर्क : प्रो. द्विवेदी

आईआईएमसी में 'सरकारी सूचना तंत्र' पर पांच दिवसीय कार्यशाला का शुभारंभ

नई दिल्ली। ''जनसंपर्क दिमाग से नहीं, दिल से होता है। किसी भी नैतिक समाज और सफल राष्ट्र के निर्माण के लिए यह जरूरी है कि उसका आधार सही ज्ञान की जड़ों से जुड़ा हो। इस कार्य में सरकारी सूचना तंत्र की महत्वपूर्ण भूमिका है। संचारकों की यह जिम्मेदारी है कि सरकारी जनसंपर्क को किस तरह ज्यादा 'असरकारी' …

Read more

आईसीसीएसआर डॉक्टोरल फेलोशिप के लिए मगांकेविवि से सात शोधार्थियों का चयन

तीन शोधार्थी एमजीसीयूबी के मीडिया अध्ययन विभाग के

मोतिहारी। महात्मा गांधी केंद्रीय विश्वविद्यालय मोतिहारी (मगांकेविवि) के मीडिया अध्ययन विभाग के सर्वाधिक तीन शोधार्थियों सहित प्रबन्ध विज्ञान, राजनीति विज्ञान और पुस्तकालय विज्ञान विभाग के कुल सात शोधार्थियों ने एक बार फिर से शोध व गुणवत्ता के क्षेत्र में अपनी प्रतिभा का परचम लहराया है। भारतीय सामाजिक विज्ञान अनुसंधान परिषद द्वारा पी- एच. डी. श…

Read more

आलेख- ख़बरें और भी हैं

View older posts »

आपकी उपस्थिती

4450859

बहस--

नामवर की मानसिकता और पिछड़ों के नामवर

कैलाश दहिया/ हिंदी साहित्य में आजकल एक चलन हो गया है, अगर कोई पुरस्कार लेना हो या नाम कमाना हो तो डॉ. धर्मवीर का विरोध करना शुरू कर दो। दलितों के साथ-साथ पिछड़ों में भी यह प्रथा पि…

Read more

View older posts »

पुरालेख--

पत्रिकाएँ--

175;250;cff38901a92ab320d4e4d127646582daa6fece06175;250;e3ef6eb4ddc24e5736d235ecbd68e454b88d5835175;250;25130fee77cc6a7d68ab2492a99ed430fdff47b0175;250;7e84be03d3977911d181e8b790a80e12e21ad58a175;250;c1ebe705c563d9355a96600af90f2e1cfdf6376b175;250;911552ca3470227404da93505e63ae3c95dd56dc175;250;752583747c426bd51be54809f98c69c3528f1038175;250;ed9c8dbad8ad7c9fe8d008636b633855ff50ea2c175;250;969799be449e2055f65c603896fb29f738656784175;250;1447481c47e48a70f350800c31fe70afa2064f36175;250;8f97282f7496d06983b1c3d7797207a8ccdd8b32175;250;3c7d93bd3e7e8cda784687a58432fadb638ea913175;250;7a01499da12456731dcb026f858719c5f5f76880175;250;0e451815591ddc160d4393274b2230309d15a30d175;250;ac66d262fc1ac411d7edd43c93329b0c4217e224175;250;ff955d24bb4dbc41f6dd219dff216082120fe5f0175;250;028e71a59fee3b0ded62867ae56ab899c41bd974175;250;460bb56d8cde4cb9ead2d6bff378ed71b08f245d

पत्रकारिता : एक नजर

वेब पत्रकारिता का चमकता भविष्य

अर्पण जैन "अविचल"/  सूचना और संचार क्रांति के दौर में आज प्रिंट और इलेक्ट्रानिक मीडिया के बीच वेब पत्रकारिता का चलन तेजी से बढ़ा है और अपनी पहचान बना ली है. अखबारों की तरह बेव पत्र और पत्रिकाओं का जाल, अंतरजाल पर पूरी तरह बिछ चुका है. छोटे-बड़े हर शहर से अमूमन बेव पत्रकारिता संचालित हो रही है. छोटे-बड़े सभी शहरों के प्रिंट व इलेक्ट्रानिक मीडिया भी वेब पर हैं. इस बात से अंदाजा लगाया जा सकता है कि भारत में थोड़े ही समय मे…

Read more

View older posts »

राष्ट्रीय सुर्खियां--

Content