मीडियामोरचा

____________________________________पत्रकारिता के जनसरोकार

Print Friendly and PDF

एन यू जे-आई के स्वर्ण जयंती वर्ष में होंगे साल भर आयोजन

पत्रकारों में जागरूकता और एन यू जे के इतिहास पर होगी बात

नई दिल्ली। नेशनल यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट (इंडिया) अगले वर्ष अपने स्वर्ण जयंती वर्ष में प्रवेश कर रहा है। इस वर्ष प्रिंट मीडिया, इलेक्ट्रॉनिक मीडिया और सोशल मीडिया के सफर में पत्रकारिता ने क्या हासिल किया? कोरोना काल में हम किस प्रकार पत्रकार धर्म को जीवित रख पाए? संगठन के तौर पर इस 50 वर्ष के कार्यकाल में हमने पत्रकारों के लिए क्या और कितना किया, इन तथा अन्य महत्वपूर्ण विषयों एक बरस तक चर्चा तथा मंथन और विश्लेषण किया जाएगा।

नेशनल यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट (एनयूजे) ने एक विज्ञप्ति में कहा है कि संगठन ने अपने स्वर्ण जयंती वर्ष को पूरे देश भर में भव्य तरीके से मनाने की योजना तैयार की है। देश के इस सबसे बड़े पत्रकार संगठन नेशनल यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट (इंडिया) का नेतृत्व अनेकों मूर्धन्य पत्रकारों ने किया है। एन यू जे-आई के अध्यक्ष मनोज मिश्र तथा महामंत्री सुरेश शर्मा ने प्रेस बयान में बताया कि इस संबंध में ऑनलाइन बैठक हुई  जिसमें निर्णय लिया गया कि माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता विश्वविद्यालय भोपाल के पूर्व कुलपति तथा एन यू जे-आई के राष्ट्रीय अध्यक्ष रहे श्री अच्युतानंद मिश्र स्वर्ण जयंती आयोजन की अगुवाई करेंगे। वर्ष भर चलने वाले कार्यक्रमों के लिए विभिन्न समितियों का गठन किया जा रहा है।

पहला बड़ा और भव्य कार्यक्रम नई दिल्ली में होगा। एन यू जे-आई स्वर्ण जयंती वर्ष के बड़े कार्यक्रम देश के सभी राज्यों में होंगे। एक वर्ष बाद इसका समापन समारोह होगा। अगले वर्ष जनवरी में शुरू होने जा रहे एन यू जे-आई के स्वर्ण जयंती वर्ष के आयोजनों की तैयारियां शुरू कर दी गई है। उन्होंने बताया कि वर्ष भर के कार्यक्रमों की पूरी रूपरेखा जल्द ही जारी की जाएगी। इन आयोजनों में देश के सभी क्षेत्रों में प्रतिष्ठित पत्रकारों को शामिल करके पत्रकार जागरूकता के इस अभियान को तथा राष्ट्रवादी पत्रकारिता आंदोलन को और ताकतवर किया जाएगा।

Go Back

Comment