मीडियामोरचा

____________________________________पत्रकारिता के जनसरोकार

Print Friendly and PDF

खबर नहीं छापा, तो सात मीडिया कंपनियों पर जुर्माना

April 23, 2017

वाशिंगटन/ दक्षिण अमेरिकी देश इक्वाडोर में जनहित को लेकर खबर न छापने को लेकर सात मीडिया कंपनियों पर जुर्माना लगाया गया है। देश की मीडिया पर निगरानी करने वाली एक संस्था ने कहा कि प्रेस का यह कर्तव्य था कि वह विपक्षी नेता और हाल ही में राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार चुने गये गुइलमोरो लेस्सो के बीच हुई सौदेबाजी की रिपोर्ट को प्रकाशित या प्रसारित करें। यह जांच रिपोर्ट मार्च में एक अर्जेंटीना के एक अखबार में प्रकाशित हुई थी। निगरानी संस्था और मीडिया कंपनियों ने एक दूसरे पर सेंसरशिप का आरोप लगाया है। इस मामले पर जांच चल रही है।

जिन पर जुर्माना लगाया है उनमें सत्तारूढ़ समाचार पत्र अल कॉमर्सियो, ला होरा, एक्सप्रेसो और अल यूनिवर्सो और टेलीविजन चैनलों टेलीविसेंट्रो, टेलियामाजोन्स और एक्वासिया शामिल है। सुपरकॉम के अधीक्षक कार्लोस ओकोआ ने पत्रकारिता प्रथाओं में सुधार के लिए दंड और प्रेरणा दोनों का प्रयोग किया जाना चाहिये। अल यूनिवर्स अखबार के एक वकील पेड्रो वैल्वेर्डो ने कहा कि वह इस बेतुका मंजूरी को रद्द करने के लिए सभी प्रशासनिक और न्यायिक विकल्पों का प्रयाेग करेंगे। संस्था के निदेशक सीसर रिकौर्टे ने कहा, “सेंसरशिप एक हथियार है जो सरकार को सभी मीडिया के लिए संपादक की भूमिका निभाने के लिए डिजाइन किया गया है जिसे यह तय करना होता है कि क्या प्रकाशित करें और कौन नहीं।” 

Go Back

Comment