मीडियामोरचा

____________________________________पत्रकारिता के जनसरोकार

Print Friendly and PDF

पत्रकारिता में हमेशा याद रखे जाएंगे ओमप्रकाश तिवारी

द्वितीय पुण्य तिथि पर हुई श्रद्धांजलि सभा, 5 पत्रकारों का हुआ सम्मान

छतरपुर। बुंदेलखण्ड की पत्रकारिता में युवा और उत्साही पत्रकार दिवंगत ओमप्रकाश तिवारी को हमेशा याद किया जाएगा। आज शनिवार को उनकी द्वितीय पुण्य तिथि पर पत्रकारों द्वारा आयोजित श्रद्धांजलि सभा में अनेक पत्रकारों ने यह भावपूर्ण उद्गार व्यक्त करते हुए उन्हें विनम्र श्रद्धांजलि दी। इस अवसर पर जहां 2 महत्वपूर्ण प्रस्ताव पारित किए गए, वहीं जिले के 5 पत्रकारों का गणेश शंकर विद्यार्थी पत्रकार संगठन के प्रदेश अध्यक्ष संतोष गंगेले द्वारा शॉल-श्रीफल से सम्मान भी किया गया।

श्रद्धांजलि सभा में सामूहिक रूप से सभी पत्रकारों ने ओमप्रकाश तिवारी के चित्र पर पुष्प अर्पित किए। तत्पश्चात सभा के संचालक रविन्द्र अरजरिया ने दिवंगत श्री तिवारी के जीवन, उनकी काम करने की शैली और सीखने की ललक को रेखांकित किया। इस अवसर पर वरिष्ठ पत्रकार डॉ. रज्जब खान ने कहा कि श्री तिवारी के मन में निश्चल भाव से अपने वरिष्ठ पत्रकारों से भी मन के उद्गार व्यक्त करने की जो कला थी वह बहुत कम लोगों में देखने को मिलती है। हम सब को यही महसूस होता है कि श्री तिवारी आज भी हम सबके बीच हैं। वरिष्ठ पत्रकार श्याम अग्रवाल का कहना था कि श्री तिवारी नवोदित पत्रकारों के प्रेरणाश्रोत थे। असमय उनका चला जाना एक ऐसी अपूर्णीय क्षति है जिसकी निकट भविष्य में भरपायी हो पाना संभव नहीं है। श्री अग्रवाल ने नए पत्रकारों का आह्वान किया कि वे श्री तिवारी जैसे सुयोग्य पत्रकारों से प्रेरणा लेकर अपने कार्यक्षेत्र को और सक्षम बनाएं।

डॉ. अजय दोसाज ने कहा कि पत्रकारिता की संक्षिप्त यात्रा में ओमप्रकाश तिवारी ने जो मुकाम हासिल किया निश्चित रूप से वह प्रेरणादायी रहा है। उन्होंने कहा कि श्री तिवारी का परिवार अपने आप को अकेला महसूस न करे, उन्हें जब भी किसी भी तरह की मदद की जरूरत हो निसंकोच बताएं उसका समाधान किया जाएगा। पत्रकार रवीन्द्र व्यास का कहना था कि श्री तिवारी में अपने कार्य के प्रति लगन और सीखने की ललक देखने लायक थी। इसके लिए वह झगडऩा भी पड़े तो कतई संकोच नहीं करते थे। उनकी इसी मंशा और कार्यशैली ने उन्हें सबका चहेता बना दिया था। इस अवसर पर गणेश शंकर विद्यार्थी पत्रकार क्लब के प्रदेश अध्यक्ष संतोष गंगेले ने कहा कि दिवंगत श्री तिवारी न केवल छतरपुर नगर बल्कि जिले के अन्य अंचलों के पत्रकारों से भी जुड़े हुए थे। आज उनकी पुण्य तिथि पर हमें श्रद्धासुमन अर्पित करने का जो अवसर मिला है उसे हम व्यर्थ नहीं जाने देंगे।

वरिष्ठ पत्रकार अशोक नायडू ने कहा कि श्री तिवारी मित्र ही नहीं परिवार के सदस्य की तरह थे। उनके द्वारा जो अपेक्षाएं पत्रकारिता जगत से थीं उसे पूरा करने की जिम्मेदारी हम सबकी है। हमारी कोशिश होगी कि नवोदित पत्रकार भी इस दिशा में गंभीर हों और उनके मिशन को आगे बढ़ाने में अपनी ऊर्जा और क्षमता का बेहतर उपयोग करें। श्रद्धांजलि सभा में जेके आशू, अजय यादव, दिवंगत श्री तिवारी के अनुज अरविंद तिवारी ने भी सारगर्भित विचार व्यक्त किए और अंत में श्री तिवारी के ही अनुज अनिल तिवारी ने आभार व्यक्त किया।

5 पत्रकारों का हुआ सम्मान 

आज की इस श्रद्धांजलि सभा में गणेश शंकर विद्यार्थी प्रेस क्लब के प्रांतीय अध्यक्ष संतोष गंगेले ने पत्रकार अशोक नायडू, पप्पू गुप्ता, अब्दुल हनीफ उर्फ बॉली, जेके आशू एवं अजय यादव का शॉल-श्रीफल से सम्मान किया गया। पत्रकारों का यह सम्मान दिवंगत ओमप्रकाश तिवारी की स्मृति में जिले की पत्रकारिता में सक्रिय रहकर काम किए जाने पर किया गया है।

Go Back

Comment