मीडियामोरचा

____________________________________पत्रकारिता के जनसरोकार

Print Friendly and PDF

फिल्में लोगों और संस्कृतियों को जोड़ने का एक महत्वपूर्ण माध्यम है : कर्नल राठौर

July 30, 2016

सूचना और प्रसारण राज्य मंत्री ने यूरोपीय संघ फिल्मोत्सव का उद्घाटन किया

नयी दिल्ली/ केन्द्रीय सूचना प्रसारण राज्यमंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौर ने यूरोपीय संघ (ईयू) फिल्म समारोह का उद्घाटन किया। सूचना और प्रसारण राज्य मंत्री कर्नल राज्यवर्धन राठौर ने कहा है कि फिल्म और संगीत संस्कृतियों के बीच एक सेतू कायम करते हैं जो विभिन्न देशों के लोगों को जोड़ते हैं। उन्होंने कहा कि फिल्म समारोह विभिन्न क्षेत्रों की विभिन्न संस्कृतियों, लोगों, उनके संबंधों और उनकी भावनाओं को सिनेमा के माध्यम से समझने का अवसर प्रदान करते हैं। मंत्री ने यह बात नई दिल्ली के श्री फोर्ट ऑडिटोरियम में यूरोपीय संघ फिल्मोत्सव का उद्घाटन करते हुए कही। इस अवसर पर यूरोपीय संघ के सदस्य देशों के राजदूतों सहित यूरोपीय संघ का एक शिष्टमंडल भी मौजूद था।

समारोह की उद्घाटन फिल्म के रूप में बिले अगस्त द्वारा निर्देशित डेनिश फिल्म साइलेंट हार्ट (स्तीले ह्जेर्टे) दिखाई गई। इस फिल्म को पहली बार सेन सेबिस्टियन अंतर्राष्ट्रीय फिल्म समारोह में दिखाया गया था, जहां लोगों ने खड़े होकर 20 मिनट तक फिल्म का जय-जयकार किया था। बिले अगस्त डेनिश अकादमी पुरस्कार विजेता और टेलीविज़न निर्देशक हैं। 1987 में बनी उनकी फिल्म पेले द कंक्वेरर ने पाल्मे डी ओर अकादमी पुरस्कार और गोल्डन ग्लोब पुरस्कार जीता था।

इस अवसर पर नीमराना गायक-मण्डल द्वारा एक संगीत कार्यक्रम भी प्रस्तुत किया गया। नीमराना 50 गायकों का एक समूह है जिसमें अलग-अलग आयु के 50 गायक शामिल हैं।

समारोह का आयोजन फिल्म समारोह निर्देशालय द्वारा यूरोपीय संघ- भारत शिष्टमंडल के सहयोग से किया गया है। समारोह 30 जुलाई से 6 अगस्त, 2016 तक चलेगा जिसमें 23 फिल्में दिखाई जाएंगी। सूचना और प्रसारण मंत्रालय देश के विभिन्न भागों में फिल्मोत्सव आयोजित करता रहा है। पुणे स्थित भारतीय फिल्म अभिलेखागार इस मंत्रालय की फिल्म मीडिया यूनिटों में से एक है जिसमें हाल ही में यूरोपीय संघ फिल्म समारोह का आयोजन किया गया था।

Go Back

Comment