मीडियामोरचा

____________________________________पत्रकारिता के जनसरोकार

Print Friendly and PDF

आईसना के बैनर तले पत्रकारों का धरना

 कलेक्टर को सौंपा ज्ञापन

नरसिंहपुर। नरसिंहपुर में आइसना के समस्त सदस्यों ने जिले में पत्रकारों की विभिन्न समस्याओं को लेकर एक दिवसीय धरना दिया गया, प्रदेश में पत्रकारों पर लगातार हो रहे हमलों व पत्रकारों की अनेक मांगों को शासन द्वारा पूर्ण न किये जाने को लेकर 16 सितम्बर 2013 को स्थानीय जनपद मैदान में पत्रकारों के संगठन आईसना की जिला शाखा द्वारा धरना प्रदर्शन कर राज्यपाल महोदय के नाम नरसिंहपुर कलेक्टर को अपनी मांगों के लेकर ज्ञापन सौंपा गया।

नरसिंहपुर जिले में पत्रकारों के समक्ष आ रही कठिनाईयों को इस ज्ञापन के माध्यम से मांग उठाई गई , जिसमें तहसील स्तर से लेकर जिला स्तर पर पत्रकारों को सूचीबद्ध कर अधिमान्यता की प्रक्रिया प्रारंभ करने व पत्रकारों द्वारा भ्रष्टाचार से संबंधित की गई तथ्यात्मक शिकायतों की जांच कर दोषियों पर कार्यवाही करने, पत्रकारों को सूचना के अधिकार के तहत प्रदान की जाने वाली जानकारी को लेकर अपील पर अपील कर जानकारी छुपाने के प्रकरणों पर जिला स्तर पर शीघ्र निराकरण करना व मुख्यमंत्री द्वारा पत्रकारों की पंचायत का आमंत्रण देकर पंचायत न बुलाने और शासन द्वारा छोटे दैनिक अखबारों, साप्ताहिक अखबारों को लेकर स्पष्ट विज्ञापन नीति न होने सहित अन्य मांगों को रखा गया है।

आईसना के प्रांतीय अध्यक्ष श्री अवधेश भार्गव ने धरने की अगुवाई करते हुए पत्रकारों के साथ जिला जन संपर्क दोयम दर्जे के व्यवहार किये जाने और पत्रकारों को जिला जन संपर्क कार्यालय में तहसील स्तर से लेकर जिला स्तर पर पत्रकारों को सूचीबद्ध कर अधिमान्यता की प्रक्रिया प्रारंभ करने की मांग उठाई साथ ही पत्रकारों के लिए जिले में शि , चिकित्सा, पत्रकारों के लिए निवास बनबाने के लिए जमीन, पत्रकार भवन के लिए जमीन आवंटन, पत्रकारों पर होने वाले मुकदमो में डी आई जी से जाँच होने के बाद ही चलन पेश किये जाने की मांगे रखी. मांगे पूरी नहीं होने पर उग्र प्रदर्शन की चेतावनी दी.

आईसना के प्रांतीय महासचिव विनय डेविड ने पत्रकारों को मुगालते से बाहर आकर अपने और परिवार के जीविका एवं भविष्य लिए नियमित सन साधनों की ओर ध्यान देने और सरकार द्वारा पत्रकारों और उनके परिवार की अनदेखी के प्रति सगज रहने को कहा, भोपाल में हुए पत्रकारों के सम्मेलन में मध्यप्रदेश के राज्यपाल राम नरेश यादव के उधवोधन की "पत्रकारों को भी अच्छा जीवन जीने का अधिकार है " पत्रकारों के प्रति भावनाओं से अवगत कराया। पत्रकारों को सूचीबद्ध करें, अधिमान्यता दें यह पत्रकारों का अधिकार है. पत्रकारों को अपने हक़ के लिए लड़ते रहने चाहिए। वाही प्रशासन को भी चेताया की पत्रकारों को पत्रकार मान ले और जितनी जल्दी हो इनकी मांगो को स्वीकार कर सहयोग करे।

 

आईसना के इस आयोजित धरना प्रदर्शन के बाद नरसिंहपुर के कलेक्टर संजीव सिंह को सभी पत्रकार प्रदर्शनकारियों ने उनके कार्यालय जाकर अपनी मांगों को लेकर ज्ञापन सौंपा गया, कलेक्टर को ज्ञापन सौंपते हुए  प्रांतीय अध्यक्ष अवधेश भार्गव ने एक एक बिंदु पर विस्तृत जानकारी देते हुए अपनी मांगो को पूरा करने की मांग राखी जिस पर कलेक्टर ने विचार कर लागु करन का अस्वासन दिया। नरसिंहपुर जन संपर्क अधिकारी रश्मी की मनमानी और लापरवाही की शिकायत पर भी कलेक्टर ने कारवाही करने और निराकरण करने को अस्वासत किया।

 

आईसना के बैनर तले आयोजित इस धरना प्रदर्शन में आईसना के प्रांतीय सचिव सलामत खान, जबलपुर संभाग के अध्यक्ष पप्पी राय, नरसिंहपुर जिले के अध्यक्ष श्री अमर नोरिया, गाडरवारा तहसील के अध्यक्ष अश्वनी जैन सहित मनीष साहू, राजीव कटारे, विमल बानगात्री, पंडित विपिन दुबे, आनंद नेमा, बसंत कुमार बोहरे, राजीव ऋषि जैन, जगदीश राव, टिंकू लाल, सोहेल खान, हरिओम पटवा, बबलू मेहरा, समीर खान, अज्जू खान, नरेन्द्र शिरिवास्तव, प्रहलाद कोरव, के के कोरी, चाँद अली, निहाल सिंह पटेल, सतीश लामनिया, राजेश शर्मा, पवन प्रीतवानी, अरुण शिरिवास्तव, पंकज गुप्ता, अंकित दुबे सहित कई पत्रकार बंधु उपस्थित रहे।

विनय जी. डेविड की रिपोर्ट 

09893221036, 08305703436

 

 

Go Back

Comment