मीडियामोरचा

____________________________________पत्रकारिता के जनसरोकार

Print Friendly and PDF

पत्रकार अनिल पांडे का देहावसान

मुंगेर। वरिष्ठ पत्रकार और कलम के सच्चे सिपाही नन्हे रिपोर्टर तथा जेजे न्यूज़ के संपादक अनिल पांडे का देहावसान बुधवार की रात्रि इलाज के दौरान हर्ट अटैक से रेलवे अस्पताल जमालपुर में हो गया। दिवंगत पत्रकार अनिल पांडे के निधन से मीडिया कर्मियों में शोक की लहर दौड़ गई है। दिवंगत पत्रकार अपने पीछे एक मासूम पुत्र एवं दो पुत्री सहित पत्नी को छोड़ गए। गंगा तट पर इनके इकलौते पुत्र विष्णु पांडेय ने मुखाग्नि दी।

इनके आक्समिक निधन पर  डब्ल्यूजेएआई के राष्ट्रीय अध्यक्ष आनन्द  कौशल और राष्ट्रीय महासचिव अमित रंजन ने शोक संवेदना व्यक्त किया है। 

अपने शोक संदेश में राष्ट्रीय अध्यक्ष आनन्द कौशल ने कहा कि अनिल पांडे जनसरोकार के पत्रकार थे जिन्होंने ताजिन्दगी मूल्यों की पत्रकारिता की इनके निधन से पत्रकारिता जगत को अपूर्णीय क्षति हुई है।

इनके निधन पर डब्ल्यूजेएआई के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रजनीशकांत, माधो सिंह, आशीष शर्मा, अमिताभ ओझा, हर्षवर्धन द्विवेदी, सचिव निखिल केडी वर्मा, मुरली मनोहर श्रीवास्तव, सुरभित दत्त, टी. स्वामीनाथन, कोषाध्यक्ष ओमप्रकाश अश्क़, संयुक्त सचिव मधूप मणि पिक्कू, रमेश पांडेय, डॉ. लीना, मनोकामना सिंह, जीतेंद्र कुमार सिंह, पंकज कुमार, कार्यकारिणी सदस्य चंदन कुमार चंचल, चंदन कुमार, संजय कुमार पांडेय, रंजन श्रीवास्तव, बालकृष्ण आदि ने शोक संवेदना व्यक्त की और ईश्वर से इनकी आत्मा की शांति और परिजनों को धैर्य धारण करने की शक्ति प्रदान करने की प्रार्थना की है।

Go Back

Comment