मीडियामोरचा

____________________________________पत्रकारिता के जनसरोकार

Print Friendly and PDF

सुबोध नंदन को राहुल सांकृत्यायन पुरस्कार

लगातार दूसरे वर्ष पुरस्कार

बिहार के युवा पत्रकार सुबोध कुमार नंदन को उनकी दूसरी पुस्तक ‘बिहार के मेले’ के लिए राहुल सांकृत्यायन पर्यटन पुरस्कार योजना (2011-12) के तहत सांत्वना पुरस्कार मिला है। पुरस्कार के रूप में उन्हें 10 हजार रुपए का चेक व प्रमाण-पत्र दिया गया है। इस पुस्तक का प्रकाशन प्रभात प्रकाशन, नई दिल्ली ने किया है। यह पुरस्कार पर्यटन मंत्रालय, भारत सरकार की ओर से दिया जाता है।

लगातार दूसरे वर्ष पुरस्कार पाने वाले वह बिहार के पहले व एकमात्र लेखक हैं। इसमें उत्तराखंड के मुख्यमंत्री रमेश पोखरियाल निशांक को उनकी पुस्तक ‘हिमालय का महाकुम्भ नन्दा राजजात’ को प्रथम पुरस्कार मिला। पिछले साल सुबोध को उनकी पहली पुस्तक बिहार के पर्यटन स्थल और सांस्कृतिक धरोहर को प्रथम पुरस्कार (2009-10) मिला था। इससे पूर्व पर्यटन के क्षेत्र में बढ़ावा व जागरूकता पैदा करने के लिए वर्ष 2003 में सुबोध को बिहार सरकार ने पर्यटन सम्मान प्रदान किया था। श्री नंदन पिछले 16 वर्षों से पत्रकारिता में हैं। वर्तमान में वे हिन्दी दैनिक हिन्दुस्तान, भागलपुर में संपादकीय विभाग में कार्यरत हैं।

 

 

Go Back

Comment