मीडियामोरचा

____________________________________पत्रकारिता के जनसरोकार

Print Friendly and PDF

सृजनगाथा डॉट कॉम सम्मान असंगघोष को

रायपुर । प्रथम सृजनगाथा डॉट कॉम सम्मान-2013 के लिए कवि डॉ. असंगघोष (जबलपुर) का चयन किया गया है । यह सम्मान उन्हें उनकी कविता-कृति 'मैं दूंगा माकूल जबाब' (शिल्पायन प्रकाशन, दिल्ली द्वारा प्रकाशित) पिछले 7 वर्षों से संचालित साहित्य, संस्कृति और भाषा की अंतरराष्ट्रीय वेब पत्रिका सृजनगाथा डॉट कॉम (www.srijangatha.com) द्वारा इस वर्ष से साहित्यिक, सांस्कृतिक, रचनात्मक व कलात्मक लेखन को प्रोत्साहित करने के लिए सृजनगाथा सम्मान का शुभारंभ किया गया है।

असंगघोष को  सम्मान स्वरूप 21,000 की नगद राशि, प्रशस्ति पत्र, शॉल और श्रीफल प्रदान कर अंलकृत किया जायेगा । सम्मान हेतु  चयन समिति में श्री गिरीश पंकज, पूर्व सदस्य साहित्य अकादमी व संपादक सद्भावना दर्पण, रायपुर, डॉ. सुशील त्रिवेदी (आईएएस) वरिष्ठ साहित्यकार, रायपुर, अशोक सिंघई, वरिष्ठ कवि, भिलाई, डॉ. बलदेव, वरिष्ठ आलोचक, रायगढ़ शामिल हैं । चयन समिति के सदस्यों ने उन्हें 'अमानवीय होते समाज में मानवता के छूटते जा रहे पहलुओं को धैर्य और प्रामाणिकता के साथ रेखांकित करनेवाला कवि' बताया है । 

सृजनगाथा डॉट कॉम के संपादक जयप्रकाश मानस ने बताया कि यह सम्मान 8 वें अंतरराष्ट्रीय हिंदी सम्मेलन. श्रीलंका, कैंडी के मुख्य अलंकरण समारोह में 20 जनवरी के दिन हिंदी के प्रतिष्ठित आलोचक डॉ. खगेंद्र ठाकुर, श्रीलंका में पदस्थ भारत के द्वितीय सचिव व कवि विनोद पाशी तथा मॉरीशस की लेखिका रेशमी रामधोनी के कर कमलों से प्रदान किया जायेगा । 

29 अक्टूबर 1962 में मध्यप्रदेश के जावद कस्बा के एक दलित परिवार में जन्में डॉ. असंगघोष की अब तक तीन कविता संग्रह प्रकाशित हो चुके हैं - ख़ामोश नहीं हूँ मैं, हम गवाही देंगे और मैं दूंगा माकूल जबाब । वे तीसरा पक्ष पत्रिका के सह-संपादक हैं । वर्तमान में वे मध्यप्रदेश में मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत के रूप में सेवारत हैं। 

 

Go Back

Comment