मीडियामोरचा

____________________________________पत्रकारिता के जनसरोकार

Print Friendly and PDF

दो दिवसीय 'वर्चस्व-2018' का शुभारम्भ

टेक्निया इंस्टीट्यूट ऑफ़ एडवांस्ड स्टडीज में मीडिया एकेडमिक फेस्ट

दिल्ली/ रोहिणी स्थित टेक्निया इंस्टीट्यूट ऑफ़ एडवांस्ड स्टडीज में दो दिवसीय 13वें वार्षिक मीडिया एकेडमिक फेस्ट: वर्चस्व-2018 कार्यक्रम का उद्घाटन कुछ अलग अंदाज में हुआ. वर्चस्व मीडिया एकेडमिक फेस्ट, टेक्निया इंस्टीट्यूट ऑफ़ एडवांस्ड स्टडीज की एक रचनात्मक पहल है जिसमें संस्थान के पत्रकारिता एवं जनसंचार विभाग के छात्र-छात्राएं अपने ज्ञान, अनुभव और कौशल का प्रदर्शन कर सबसे साझा करते हैं. जिस प्रकार पिछले 12 साल से टेक्निया इंस्टीट्यूट ऑफ़ एडवांस्ड स्टडीज ने सफल आयोजन के साथ कुछ अलग करने की परंपरा की उस कड़ी को आगे बढ़ाते हुए इस बार भी वर्चस्व-2018 कार्यक्रम का थीम 'सेक्शन-377' पर आधारित है, जिसके बारे में लोगों को अवगत कराना एक मात्र उद्देश्य है.

टेक्निया इंस्टीट्यूट ऑफ़ एडवांस्ड स्टडीज का पत्रकारिता एवं जनसंचार विभाग दो दिवसीय मीडिया एकेडमिक फेस्ट: 'वर्चस्व-2018' का उद्घाटन और शुभारंभ आज सुबह दस बजे टेक्निया आडिटोरियम में डॉ. राम कैलाश गुप्ता, चेयरमैन, टेक्निया ग्रुप, डॉ. अजय कुमार राठौर, डायरेक्टर, डॉ. ए. के. श्रीवास्तव, मुख्य कार्यकारी अधिकारी, डॉ. निधि गुप्ता, एकेडमिक को-ऑर्डिनेटर और मिस शोपिता खुराना, कार्यक्रम संयोजक, टेक्निया इंस्टीट्यूट ऑफ़ एडवांस्ड स्टडीज द्वारा माँ सरस्वती की प्रतिमा पर माल्यार्पण और दीप प्रज्ज्वलन के साथ किया गया. इस दौरान मंच पर विभिन्न प्रतियोगी कार्यक्रमों के जजेज और कार्यक्रम के कोर टीम के छात्र-छात्राएं भी मौजूद थे.  

डॉ. राम कैलाश गुप्ता ने अपने सम्बोधन में कहा कि दिल्ली के छात्र-छात्राओं में प्रतिभा और कला की असीम संभावनाएं हैं, जरूरत इस बात की है कि हम उन्हें एक मंच देकर उनकी कला और प्रतिभा को विकास के पथ पर चलने का एक मौका प्रदान करें. आज टेक्निया इंस्टीट्यूट ऑफ़ एडवांस्ड स्टडीज के अनेक विद्यार्थी इलेक्ट्रानिक मीडिया, प्रिंट मीडिया, ग्राफिक्स, सिनेमा, जनसंपर्क और विज्ञापन की दुनिया में देश में अपना नाम रौशन कर रहे हैं. इस तरह के कार्यक्रमों से विद्यार्थियों के अंदर एक नई चेतना और ऊर्जा का संचार होता है. आपके विकास में ऐसे कार्यक्रम बहुत ही महत्त्व रखते हैं. 

डॉ. अजय कुमार राठौर, डायरेक्टर, ने अपने सम्बोधन में कार्यक्रम की सफलता के लिए शुभकामना देते हुए कहा कि थीम 'सेक्शन-377' पर आधारित वर्चस्व-2018 के माध्यम से लोगों को इसके बारे में अवगत कराना एक मात्र उद्देश्य है. उन्होंने कहा कि इस कार्यक्रम में लगभग दिल्ली एनसीआर के 40 संस्थान व कालेज प्रतिभाग कर रहे हैं, यह हमारे लिए गौरव का विषय है. डॉ. ए. के. श्रीवास्तव, मुख्य कार्यकारी अधिकारी अपने सम्बोधन में छात्र-छात्राओं को कार्यक्रम के सफलता के साथ संपन्न होने की शुभकामना देते हुए कहा कि यह आपके लिए एक ऐसा मंच है जहां आपको एक एक्सपोजर का मौका मिलता है. डॉ. निधि गुप्ता, एकेडमिक को-ऑर्डिनेटर ने अपने सम्बोधन में कार्यक्रम के सफलता की शुभकामना देते हुए बच्चों का तारीफ किया.     

तीन सामानांतर सत्रों में कुल 13 कार्यक्रम आयोजित हुए जिनमें सोलो सिंगिंग और सोलो डांस के प्रिलिम्स तथा अन्य 10 कार्यक्रमों जिसमें लाइव रिपोर्टिंग, जस्ट ए  मिनट, पोस्टर मेकिंग, मोनो एक्टिंग, एड-मैड शो, पोएट्री प्रतियोगिता, नेल आर्ट, रंगोली, कार्टूनिंग और क्रिएटिव राइटिंग में लगभग250 छात्र-छात्राओं ने प्रतिभाग किया. इस मौके पर पत्रकारिता एवं जनसंचार विभाग के अध्यक्ष संजय श्रीवात्सव और सभी शिक्षक और छात्र-छात्राएं मौजूद थे.

Go Back

Comment