मीडियामोरचा

____________________________________पत्रकारिता के जनसरोकार

Print Friendly and PDF

Blog posts March 2016

बकवास के लिए हमारे पास टाइम नहीं

डॉ. भूपेन्द्र सिंह गर्गवंशी/  हैल्लो! जी हाँ बोलो- पर ध्यान रहे तुम्हारी बकवास के लिए हमारे पास टाइम नहीं है। क्यूँ जी ऐसा काहें को बोल (कह) रहे हैं? यार बड़े घामड़ हो- देख नहीं रहे हो- पूरे देश में रोहित वेमुला, कन्हैया, ऋचा सिंह जे.एन.यू./इलाहाबाद व…

Read more

टीवी चैनलों, प्रसारकों और समाचार पत्रों के भुगतान पर विवादित टीडीएस संबंधी स्पष्टीकरण

नई दिल्ली । टेलीविजन चैनलों, प्रसारकों और समाचारपत्रों द्वारा भुगतान पर टैक्स स्रोत (टीडीएससे जुड़े चुनिंदा विवादास्पद मुद्दों पर स्पष्टीकरण के…

Read more

फर्जी पत्रकार जायेंगे जेल

फर्जी प्रेस कार्ड की होगी जांच, पत्रकारिता को बदनाम करने वाले अपराधियों पर होगी पुलिस की पैनी नजर, प्रेस लिखी अवैध गाड़िया होंगी सीज !…

Read more

शिक्षकों का रुख देख प्रभात खबर मोतिहारी के प्रभारी ने घुटने टेके

मोतिहारी। अब शिक्षक भी मिडिया की रंगदारी से आजिज आकर सड़क पर उतरने लगे है। सोमवार को भी कुछ ऐसा ही दृश्य मोतिहारी की सडकों पर देखने को मिला। शिक्षक दलाल कैसे?? प्रभात खबर बताये.. जैसे स्लोगन लिखे स्टीकर व पोस्टर लगाये गाड़ियों पर जब हुजूम में शिक्षक सड़क पर उतरे तो उगाही की मंशा से …

Read more

पत्रकार पर हमला

मोतिहारी। प्रभात खबर के पत्रकार विकास कुमार सिंह पर शनिवार की रात्रि हथियार बंद अपराधियों ने धावा बोलकर, उनके साथ जमकर मार पीट कर घायल कर दिया। घटना उस समय हुई है जब वे थाना क्षेत्र के खोडीपाकड गांव स्थित अपनी घर के बगल किसी उत्सव मे भोज खाने, अपने दोनों पुत्रों के साथ रात्रि 8-30 बजे के करीब जा रहे…

Read more

डॉ धर्मवीर भारती : हिन्दी पत्रकारिता के शिखर पुरूष

डॉ.प्रकाश हिंदुस्तानी / डॉ. धर्मवीर भारती भारतीय पत्रकारिता के शिखर पुरूषों में से हैं। इससे बढकर वे साहित्यकार के रूप में जाने जाते हैं। हिन्दी पत्रकारिता में उन्होंने ‘धर्मयुग’ जैसी सांस्कृतिक पत्रिका को स्थापित किया और ढाई दशक से भी ज्यादा समय तक शीर्ष पर बना…

Read more

वीरेन डंगवाल - ‘रहूंगा भीतर नमी की तरह’

मनोज कुमार सिंह / हिन्दी के प्रसिद्ध कवि व पत्रकार वीरेन डंगवाल की स्मृति में उनकी कर्मस्थली बरेली में उन्हें याद करने के लिए देश भर से लेखक व संस्कृतिकर्मी 20 व 21 फरवरी को जुटे।  ‘रहूंगा भीतर नमी की तरह’ - यह काव्य पंक्ति है वीरेन की कविता का और इस आयोजन का नाम भी यही था।…

Read more

सवाल संपादकों के स्वाभिमान का है

बिहार विधान सभा की प्रेस सलाहकार समिति के गठन को लेकर खड़ा किया गया सवाल

वीरेंद्र कुमार यादव/ पटना। बिहार विधान सभा की प्रेस सलाहकार समिति …

Read more

सहिष्णुता मीडिया का गुण-धर्म

मनोज कुमार/ समाज में जब कभी सहिष्णुता की चर्चा चलेगी तो सहिष्णुता के मुद्दे पर मीडिया का मकबूल चेहरा ही नुमाया होगा. मीडिया का जन्म सहिष्णुता की गोद में हुआ और वह सहिष्णुता की घुट्टी पीकर पला-बढ़ा. शायद यही कारण है कि जब समाज के चार स्तंभों का जिक्र होता है तो मीडिया को एक स्तंभ मा…

Read more

चम्पारण के पत्रकारों को सम्मानित करेगा हिकमत फाउंडेशन

चम्पारण क्षेत्र के मीडियाकर्मी पुरस्कार के लिए प्रविष्टियां भेज सकते हैं

साकिब ज़िया/ पटना। जन कल्याणकारी संस्था …

Read more

नहीं रहे शाहिद अनवर

उर्दू रंगमंच  ने खोया एक स्तंभ 

नई दिल्ली। भारतीय सूचना सेवा के वरिष्ठ अधिकारी और रंगमंच से जुड़े शाहिद अनवर का आज निधन हो गया। वे 54 वर्ष के थे। …

Read more

क्या फर्जी है बिहार विधान सभा की प्रेस सलाहकार समिति !

वीरेंद्र कुमार यादव / पटना। बिहार विधान सभा की प्रेस सलाहकार समिति के औचित्य को लेकर आज विधान मंडल के गलियारे में चर्चा तेज रही। इसकी वैधता को लेकर भी सवाल उठा। क्योंकि सलाहकार समिति के गठन के पूर्व विधान सभा सचिवालय ने किसी भी अखबार या समाचार संस्था‍न से …

Read more

पत्रकार एम. अफसर खाँ सागर को चन्दौली रत्न-2016

ग्रापए के मण्डलीय सम्मेलन में पत्रकारिता, साहित्य और समाजसेवा के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य के लिए चन्दौली रत्न 2016 दिये गए…

Read more

13 blog posts