मीडियामोरचा

____________________________________पत्रकारिता के जनसरोकार

Print Friendly and PDF

Blog posts December 2012

बाबासाहेब के परिनिर्वाण दिवस की याद में संगोष्ठि का आयोजन

हरीश कुण्डे / 16 दिसंबर 2012 को छत्तीसगढ की राजधानी रायपुर में दलित मुव्हमेन्ट ऐसोसियेशन कि ओर से बाबासाहेब के परिनिर्वाण दिवस की याद में एक संगोष्ठि का आयोजन किया गया। यह सेमिनार दो सत्र में विभाजित था, पहला सत्र का विषय था- बाबा साहेब डाँ अम्बेडकर के बाद दलित आंदोलन की दशा एवं …

Read more

चुनाव तैयारियों में जुटी सरकार

अधिकारियों से 24 घंटे काम लेने का फरमान जारी

सरकारी कार्यक्रमों के प्रचार-प्रसार के लिए पीआईबी को किया सतर्क

रोशन/ ए…

Read more

दलित साहित्य में सेंधमार

कैलाश दहिया / ‘बदलते माहौल में आंबेडकर’ शीर्षक से जनसत्ता में 30 सितम्बर, 2012 को सुरेश पंडित का लेख छपा है। यह प्रक्षिप्त लेखन का नवीनतम उदाहरण है। लेखक ने बाबा साहेब डा. भीमराव अम्बेडकर का नाम लेकर डा. धर्मवीर के ‘जारकर्म पर तलाक’ के तूफान को रोकने की कोशिश की है।…

Read more

नम्बरदार मीडिया का सच

फेशबुक पर 12 दिसंबर को डॉ रहीस सिंह द्वारा पोस्ट की गयी टिप्पणी वास्तव में सोचने को विवस करती है कि आज देश का मीडिया क्या वास्तव में जनसरोकारों से कटता जा रहा है। उनकी टिप्पणी का सार संक्षेप यह था कि उनके घर पर दुनिया के नंबर एक अखबार का प्रतिनिधि बताकर दो सज्जन आये और उन्होंने उनकी धर्म पत्नी से कह…

Read more

MUMBAI PRESS CLUB TEAM LEAVES FOR NEPAL

Aftab Alam /Mumbai/ As part of our growing interaction with journalists in neighbouring countries, a Mumbai Press Club team of 11 members led by vice chairman Rohit Chandaverker left for Nepal on Monday.

The team will be visiting various centers including Kathmandu, Lumbini and Pokhra and will be s…

Read more

रिपोर्टिंग में शोध और तथ्यों की जांच अनिवार्य होः अब्दुल कलाम

माखनलाल चतुर्वेदी विश्वविद्यालय में मिसाइलमैन का व्याख्यान

भोपाल। रिपोर्टिंग में शोध और तथ्यों का सत्यापन नितांत आवश्यक है। इसके लिए जरूरी है कि प्रत्येक मीडिया संस्थान समाचार का प्रक…

Read more

"कालकथा" के लेखक कामतानाथ का जाना

भगवान स्वरूप कटियार / "कालकथा" जैसी कालजयी रचना (उपन्यास) के रचनाकार कामतानाथ का जाना उन सभी के  लिए अपूर्णनीय क्षति है जो  सृजन और रचना संसार से जुड़े रहे हैं और एक बेहतर दुनिया रचने का सपना देखते रहे हैं कामतानाथ जी ने अपने समर्थ साहित्य से हमेशा मजलूमों की आवाज को…

Read more

अलविदा रविशंकर .................................

महान संगीतकार पंडित रविशंकर का हुआ  निधन

सितार वादक पंडित रवि शंकर का सैन डिएगो के एक अस्पताल में निधन हो गया है ।  वे …

Read more

पुल का काम करते हैं जनसंपर्क कर्मीः प्रो. कुठियाला


माखनलाल चतुर्वेदी पत्रकारिता विश्वविद्यालय में पांच दिवसीय जनसंपर्क कार्यशाला शुरू

भोपाल, 11 दिसम्बर। जनसंपर्क कर्मी का कार्य संबंधों का निर्…

Read more

आंकड़ों के ऑनलाइन आदान-प्रदान में सरकारी एजेंसियों के बीच हो बेहतर तालमेल: सिब्बल

आकाशवाणी की वेबसाइट को उल्लेखनीय सामग्री की श्रेणी में स्वर्ण आइकान वेब रत्न अवार्ड 2012’’
‘बिहार पब्लिक ग्रीवांस रीड्रेसल सिस्टम’ को सिल्वर आइकान…

Read more

सीएम के कार्यक्रम में पत्रकार से बदसलूकी

आक्रोशित पत्रकारों ने जमकर हंगामा मचाया
राजेश सिंह क्षत्री, जांजगीर। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डा0 रमन सिंह के आज रविवार को जांजगीर प्रवास के दौरान एक सुरक्षाकर्मी ने एक पत्रकार से ना …

Read more

भोपाल में आज होगा पत्रकारों का आंदोलन

व्यापक हुआ विरोध, प्रदेश भर से जुटने लगा समर्थन
पत्रकारों ने कहा, हम एक हैं, लेकर रहेंगे हक
भोपाल। पत्रकारों के संयुक्त आंदोलन के लिए प्रदेश भर …

Read more

दलित चिंतन करते अश्लील चिंतन, इंडिया टुडे घर में रखना मुश्किल

(इंडिया टुडे समय-समय पर सेक्स सर्वे,मसलों और नारी देह पर अंक निकाल चर्चा में रहता है इस बार फिर सेक्स सर्वे को लेकर चर्चे में है ...क्या क्या लिखा गया …

Read more

दबे पांव नहीं, खुलेआम घुसाया घरों में पोर्न

(इंडिया टुडे समय-समय पर सेक्स सर्वे,मसलों और नारी देह पर अंक निकाल चर्चा में रहता है इस बार फिर सेक्स सर्वे को लेकर चर्चे में है ...क्या लिखा गया इस पर…

Read more

सेक्स / यौन सर्वेक्षण के बहाने

संजय कुमार / बाजारवाद के आगे आज सब कुछ गौण हो चुका है। आमखास इसकी गिरफ्त में हैं। मीडिया भी इससे अछूता नहीं। अपने को बाजार में बनाए रखने के लिए मीडिया बाजारवाद के झंडातले खड़ा हो कर हां में हां मिलाता मिलता है। भले ही इसके लिए उसे मापदण्ड, नीति व सिद्धांत को ताक पर ही क्यों न रखना प…

Read more

समय आने वाला है कि शोषित समाज मीडिया की दिशा तय करेगा

हाशिए के लोगों की आवाज़ को मौजूदा मीडिया में नहीं मिलता समुचित कवरेज
नैक्डोर के सम्मलेन में ‘मीडिया में दलितों की आवाज़’ और निजी क्षेत्र में दलितों की भागीदारी पर चर्चा…

Read more

Whether Freedom of Media Exists in Indian News-Room

Arun Kumar /Freedom of expression is one of the essential foundations of our democratic societies, but a favourable environment is sine qua non for flourishing media freedom and pluralism in any country. It is generally found to be restricted through direct political interference using the wings o…

Read more

चैनलों के गैर कानूनी प्रसारण को अपराध घोषित करने की योजना

नई दिल्ली । केंद्र सरकार चैनलों के गैर कानूनी प्रसारण को अपराध घोषित करने की योजना बना रही है।   सुरक्षा एजेन्सियों ने ऐसे कई विदेशी चैनलों की पहचान की है जिनमें प्रसारित की जाने वाली सामग्री देश के लिये खतरा है। ऐसे ज्यादातर चैनलों का सिग्नल पाकिस्तान से आता है। …

Read more

आर-पार की जंग में उतरे मध्य प्रदेश के पत्रकार

10 को ‘‘पत्रकार बचाओ आंदोलन’’
भोपाल/''पत्रकार बचाओ आंदोलन” संगठन द्वारा राज्य के विधानसभा सत्र के दौरान दिनांक 10 दिसम्बर 2012 दिन सोमवार को दिन में 12.00 बजे से पत्रकारों की मांगों को लेकर लगभग एक हजार पत्रकारों का एक  जुलूस पत्रकार भवन के सा…

Read more

बिहार शताब्दी पत्रकारिता सम्मान- 2012 के लिए नामांकन आमंत्रित

पटना। बिहार सरकार के सूचना एवं जन-सम्पर्क विभाग ने "बिहार शताब्दी पत्रकारिता सम्मान -2012" के लिए अनुभवी एवं सुपात्र पत्रकारों से नामांकन आमंत्रित किया है। दुर्गेश  नन्दन , निदेशक, सूचना एवं जन-सम्पर्क विभाग के अनुसार आवेदन पत्र जमा करने की अंतिम तिथि 15 दिसंबर 2012 है। जन-सम्पर्क विभाग के वेब साइ…

Read more

20 blog posts