मीडियामोरचा

____________________________________पत्रकारिता के जनसरोकार

Print Friendly and PDF

Blog posts September 2012

हिन्दी पत्रकारिता का भविष्य ज्यादा समृद्ध

जनसंचार विमर्श ने किया हिंदी दिवस पर गोष्ठी का आयोजन

इलाहाबाद। शोध पत्रिका जनसंचार विमर्श के प्रधान कार्यालय उत्कर्ष अपार्टमेंट तुलारामबाग में हिंदी दिवस पर एक गोष्ठी का आयोजन किया गया। जिसमें म…

Read more

सरकारी वेबसाइटों पर हिंदी की घोर उपेक्षा

मीडिया स्टडीज ग्रुप ने किया सरकारी हिंदी वेबसाइटों का सर्वेक्षण

हिंदी के नाम पर जो वेबसाइट है, उनमें भाषागत अशुद्धियां …

Read more

सनसनीखेज ख़बरों से बचे और निष्पक्ष व संतुलित खबरें दे मीडिया: प्रधानमंत्री

केरल यूनियन ऑफ वर्किंग जर्नलिस्‍ट का स्‍वर्ण जयंती समारोह

कोच्चि/ प्रधानमंत्री ने कहा है कि असम में हाल की हिंसा और और इसकी प्रतिक्रिया में देश के अन्य भागों में हुईं घटनाएँ चिंता की …

Read more

‘दीन की बेटियां’-यानी, मातादीन की बेटियां

‘हंस’ के  वार्षिक कार्यक्रम पर एक नजर !
कैलाश दहिया / हर साल की तरह इस 31 जुलाई, 2012 को भी ‘हंस’ का वार्षिक कार्यक्रम मनाया गया। इस बार इसमें संगोष्ठी का विषय था ‘दीन की बेटियां’। विषय को जान-समझ कर इसे सुनने के लिए दूर…

Read more

शुक्रिया हिन्दी सिनेमा !

हिन्दी सिनेमा, हिन्दी को आम आदमी की जुबान में न केवल बोलता है बल्कि उसे जीता भी है
मनोज कुमार/ हर बरस की तरह जब इस बरस भी चौदह सितम्बर को राष्ट्रभाषा…

Read more

प्रेस परिषद की जांच टीम का बिहार दौरा

जांच दल पत्रकारों,सम्पादकों, प्रबंधन के अधिकारियों और बिहार सरकार के अधिकारियों से भी उनका पक्ष जानेगी

पटना / बिहार मे…

Read more

नहीं रहे अजय तिवारी

पीटीआई, पटना के ब्यूरो प्रमुख थे अजय

प्रेस ट्रस्ट आफ इंडिया, पीटीआई पटना के ब्यूरो प्रमुख अजय तिवारी का आज दिल्ली के गंगाराम अस्पताल में निधन हो गया। वे 44 वर्ष के थे।  अजय तिवारी पिछले कई दिनों से बीमार चल रहे थे। उन्हें बेहतर इलाज के लिये…

Read more

जनसंचार विमर्श का हुआ विमोचन

जबलपुर। शोध पत्रिका जनसंचार विमर्श का विमोचन विगत दिनों जबलपुर के एक कार्यक्रम में कुशाभाऊ ठाकरे पत्रकारिता विश्वविद्यालय, रायपुर  के कुलपति प्रो0 सच्चिदानन्द जोशी द्वारा किया गया। पत्रिका के विमोचन कार्यक्रम में बोलते हुए प्रो0 जोशी ने कहा कि आज मीडिया शिक्षा फिलवक्त दो किस्म के वैचारिक…

Read more

पिछड़ा वर्ग: विगत-अगत

टेकचंद / पुस्तक चर्चा ।  17 नवंबर 2011 के ‘नव भारत टाइम्स’ के मुखपृष्ठ की खबर- ‘ओ.बी.सी. में 100 नई जातियां।’

18 नवंबर 2011 के ‘जनसत्ता’ के मुखपृ…

Read more

राजा राधिकारमण एवं केदार नाथ मिश्र ‘प्रभात’ की जयन्ती मनायी गयी

शैली-सम्राट राजा राधिकारमण प्रसाद एवं महाकवि केदार नाथ मिश्र ‘प्रभात’ की जयन्ती मनायी गयी
पटना, 11 सितम्बर। बिहार हिन्दी साहित्य सम्मेलन मे आज बिहार …

Read more

रिपोर्टिंग के संबंध में उच्चतम न्यायालय का अहम फैसला

विचाराधीन मामलों की रिपोर्टिंग के बारे में स्पष्ट दिशा-निर्देश देने से इनकार

लेकिन कहा- अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता असीमित नहीं और खास मामलों मे की जा सकती है पाबंदी की माँग…

Read more

‘‘चहती हूँ आना/फिर इस सुन्दर दुनिया में’’

वंदना मिश्र का कविता पाठ
कौशल किशोर ।  ‘मिलते रह/मथते रहें/निकलेगा कुछ नया/न सही अमृत/नया गीत तो फूटेगा’ कविता में ऐसा नयापन रचने वाली वरिष्ठ कवयित्री वंदना मिश्र ने अपनी कविता के विविध रंगों से लखनऊ के साहित्य समाज को परिचित कराया। उनके कविता…

Read more

हिंदी दिवस पर समागम का नया अंक प्रकाशित

हिंदी पर विलाप नहीं, संभावनाओं पर विचार

भोपाल /मीडिया एवं सिनेमा की शोध पत्रिका समागम का ताज़ा अंक हिंदी एवं बोलियों पर केन्द्रित है। इस अंक में हिंदी की संभावनाओं पर विचार किया गया है। …

Read more

मेरा मकसद देशद्रोह नहीं देश प्रेम है : असीम त्रिवेदी

कार्टून्स अगेंस्ट करप्शन की वेबसाईट के कार्टूनिस्ट असीम त्रिवेदी ने मुंबई पुलिस के समक्ष शनिवार को आत्म समर्पण कर दिया । उन्हें 7 दिनों की पुलिस हिरासत में भेज दिया गया है उनपर अपने कार्टून के जरिये  राष्ट्रीय प…

Read more

प्रभात खबर का एचआर डिपार्टमेंट बंद!

पटना में मुक़दमे की तैयारी

मीडिया मे आई खबर के अनुसार, प्रभात खबर का एचआर डिपार्टमेंट बंद करने की पूरी तैयारी कर ली गई है।  प्रभात खबर के रांची, धनबाद, देवघर, कोलकाता, जमशेदपुर, पटना, मुजफ्फरपुर, गया और भागलपुर के एचआर विभाग इस महीने के आखिर तक बंद हो जायेंग…

Read more

मीडिया वालों को मीडिया से ही तकलीफ है !

क्या मीडिया की ताकत से मीडिया को ही कुचला जा सकता है ?

जगमोहन फुटेला / जब आदमी का वक्त बुरा आता है तो उस की ताकत भी एक दिन कमज़ोरी बन जाती है. विनोद शर्मा के साथ भी यही हुआ है. गोपाल कांडा…

Read more

"बिहारी जन "हो नहीं सकता, "मराठी मानुष "है नहीं

मीडिया में ठाकरे परिवार के जड़ों की खोज करने को लेकर मची है होड़

श्रीकांत प्रत्यूष । राज ठाकरे की असल नस्ल की पहचान के लिए अभी सारे खबरिया चैनल इतिहास के पन्ने पलट रहे …

Read more

भारत-पाक में पत्रकारों की हो स्वतंत्र आवाजाही

मुंबई और काराची प्रेस क्लब ने भारत पाकिस्तान के पत्रकारों का दोनों देशों में स्वतंत्र आवाजाही की माँग की है

मुंबई/…

Read more

पर्यावरण के प्रति सजग:वंदना की कविताएं

कौशल किशोर / वंदना मिश्र पत्रकार सामाजिक कार्यकर्ता हैं। उनके पास समय, समाज परिवेश को पकड़ने की सूक्ष्म दृष्टि है…

Read more

"नव्या" का हुआ विमोचन

अखिल भारतीय स्वतंत्र लेखक मंच दिल्ली, शाखा उत्तर प्रदेश, अखिल हिन्दी साहित्य सभा, नासिक, विश्व हिन्दी साहित्य सेवा, इलाहाबाद के संयुक्त तत्त्वावधान में एक उत्सवी आयोजन सम्पन्न …

Read more

20 blog posts